पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्मार्ट मीटर की तैयारी:फर्स्ट फेज में 27,890 स्मार्ट मीटर 30 जून तक लगेंगे, अब तक लगे 5400

चंडीगढ़14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
स्मार्ट मीटर की तैयारी - Dainik Bhaskar
स्मार्ट मीटर की तैयारी

प्रशासन के बिजली विंग ने शहर के 2 लाख 28 हजार 451 कंज्यूमर के बिजली मीटर स्मार्ट में चेंज करने के लिए कंसल्टेंट नियुक्ति का लगा टेंडर बिजली निजीकरण के चलते नहीं खोला गया। इसकी वजह से स्मार्ट बिजली मीटर का प्रपोजल रास्ते में ही लटका पड़ा है।

हालांकि इसके लिए गवर्नमेंट ऑफ इंडिया की सेंट्रल स्पाॅन्सर स्कीम नेशनल स्मार्ट ग्रिड मिशन के तहत 241 करोड़ 49 लाख अप्रूव्ड है। वहीं फर्स्ट फेज में अब तक 54 सौ स्मार्ट मीटर चेंज हुए हैं। इस फेज के 27,890 मीटर बदलने का काम 30 जून तक पूरा होगा।

कंसल्टेंट की रिपोर्ट में घरों से बाहर स्मार्ट मीटर लगाने पर खर्च, वायर चेंज करने का खर्चा, बाहर दीवार पर लगाने या पोल लगाने का खर्चा बताना था। इस काम के लिए बिजली विंग ने कंस्ल्टेंट की नियुक्ति का टेंडर काल कर दिया था। लेकिन टेंडर ही नहीं खोला गया। ऐसे में कंसल्टेंट ही तय नहीं हो सका तो रिपोर्ट कैसे बन पाती।

शहर के बिजली कंज्यूमर के स्मार्ट मीटर सरकारी फंड से चेंज होने हैं। इन्हें चेंज करने के लिए प्रशासन के बिजली विंग को गवर्नमेंट ऑफ इंडिया की सेंट्रल स्पॉन्सर स्कीम नेशनल स्मार्ट ग्रिड मिशन के तहत 268 करोड़ 49 लाख मंजूर है।

इसी में फर्स्ट फेज के 27 करोड़ शामिल हैं। इसके अलावा फर्स्ट फेज में सेक्टर 29, 31, 47, इडस्ट्रियल एरिया फेज वन, टू, रामदरबार कॉलोनी, हल्लोमाजरा, बहलाना, रायपुर खुर्द के 28,890 स्मार्ट मीटर चेंज करने हैं। इसके अलावा सेक्टर-18 में स्काडा बनाया है।

कंपनी का लाइसेंस सस्पेंड होने से काम डिले हुआ...

चीफ इंजीनियर कम स्पेशल सेक्रेटरी सीबी ओझा का कहना है कि फर्स्ट फेज में समार्ट मीटर चेंज करने का काम 30 जून तक कंप्लीट कर लिया जाएगा। मीटर सप्लाई करने वाली कंपनी का लाइसेंस सस्पेंड होने की वजह से काम डिले हो गया। अब कंपनी का लाइसेंस बहाल हो गया है। शहर में स्मार्ट मीटर चेंज करने के लिए कंसल्टेंट नियुक्ति करने का टेंडर अभी नहीं खोला है।

स्मार्ट मीटर के फायदे...

स्मार्ट मीटर लगने से बिजली की चोरी पर रोक लगेगी, ओवर लोड होने से भी डिस्कनेक्ट किया जा सकेगा। वहीं कस्टमर्स एडवांस में पैसे जमा करवाकर प्री पेड करवा सकेगा। जितनी बिजली कंज्यूमर करेगा उसका पता चलता रहेगा। सोलर के लिए अलग से मीटर लगाने की जरूरत नहीं होगी। मीटर रीडर की जरूरत नहीं पड़ेगी। चंडीगढ़ शहर में मीटर की रीडिंग स्काडा कंट्रोल रूम के जरिए कंज्यूमर के मोबाइल पर पहुंचेगी।

अब बीएसआई ने लाइसेंस बहाल किया...

बिजली विभाग ने अब तक फर्स्ट फेज में 54 सौ स्मार्ट मीटर चेंज किए हैं। इसके बाद मीटर सप्लाई करने वाली एलएनजी कंपनी का बीएसआई ने लाइसेंस सस्पेंड कर दिया था। इसकी वजह से मीटर की सप्लाई नहीं हो सकी। अब बीएसआई ने लाइसेंस बहाल कर दिया। इससे कंपनी का स्मार्ट मीटर बनाने का काम शुरू होगा। शहर में मीटर चेंज होने लगेंगे। अब मीटर मिलने से फर्स्ट फेज का टारगेट 30 जून 2021 तक कंप्लीट किया जा सकेगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

    और पढ़ें