पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जिनके पास साधन नहीं...:'किताबां दा लंगर’ के जरिए दे सकते हैं खुशी का तोहफा; 22 अप्रैल को वर्ल्ड अर्थ डे पर शहर के 8 स्कूलों में लगेगा

चंडीगढ़3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मकसद यही है कि कंपीटिटिव एग्जाम, नॉवल, मोटिवेशनल, स्टोरी जैसे आदि विषय पर आधारित बुक्स जिन लोगों के पास हैं और वह इन्हें पढ़ चुके हैं तो आगे उन तक पहुंचाएं, जिनके पास साधन नहीं हैं। - Dainik Bhaskar
मकसद यही है कि कंपीटिटिव एग्जाम, नॉवल, मोटिवेशनल, स्टोरी जैसे आदि विषय पर आधारित बुक्स जिन लोगों के पास हैं और वह इन्हें पढ़ चुके हैं तो आगे उन तक पहुंचाएं, जिनके पास साधन नहीं हैं।

तोहफे का तरीका कुछ भी हो सकता है। कई लोग दूसरों की जरूरतों के मुताबिक ताेहफा देते हैं। “किताबां दा लंगर” भी ऐसा ही प्रयास है। इसे NGO युवसत्ता की ओर से 22 अप्रैल को वर्ल्ड अर्थ डे के मौके पर करवाया जाएगा। यह प्रयास इस बार दूसरी बार हाेगा। इसके बारे में कोआर्डिनेटर प्रमोद शर्मा बताते हैं कि साल 2019 के मई महीने में ऐसा किया था। 2020 में लॉकडाउन की वजह से नहीं कर पाए। इसीलिए इस साल वर्ल्ड अर्थ डे के मौके पर इसका आयोजन करेंगे ताकि पर्यावरण के लिए योगदान दे सकें और दूसरों को भी जागरूक करें। इसके लिए किताबों के साथ खिलौने भी डोनेट कर सकते हैं।

हमारा मकसद यही है कि कंपीटिटिव एग्जाम, नॉवल, मोटिवेशनल, स्टोरी जैसे आदि विषय पर आधारित बुक्स जिन लोगों के पास हैं और वह इन्हें पढ़ चुके हैं तो आगे उन तक पहुंचाएं, जिनके पास साधन नहीं हैं। गर्मियों की छुट्टियाें में बच्चों के पास समय भी होगा। इस प्रयास काे CCPCR, SLSA चंडीगढ़, एन्वायर्नमेंट डिपार्टमेंट व अर्थ डे नेटवर्क इंडिया के सहयोग से करवाया जा रहा है। हमारे साथ 22 स्कूल भी जुड़े हैं जो बच्चों को बताएंगे कि अगर उनके पास इस तरह की किताबें व खिलौने हैं और उन्हें डोनेट करना चाहते हैं तो वह कर सकते हैं।

युवसत्ता के फाउंडर प्रमोद शर्मा।
युवसत्ता के फाउंडर प्रमोद शर्मा।

इस तरह से करेंगे काम

किस तरह से डोनेट कर सकते हैं? प्रमोद शर्मा ने बताया- सबसे पहले लिस्ट बना लें कि कितनी किताबें और खिलौने हैं और फिर उसे (yuvsatta@gmail.com) पर भेजें। ऐसा इसलिए क्योंकि किताबां दा लंगर में वेन्यू पार्टनर कुछ स्कूल हैं, ऐसा ना हो कि एक ही स्कूल में सभी पहुंच जाएं। सभी जगह मदद पहुंचे इसलिए स्कूल का नाम व अन्य जानकारी डोनर को मेल आईडी के जरिए भेजेंगे। इसके अलावा चाहो तो डायरेक्ट स्कूल में आ सकते हैं, जहां पर यह लंगर आयोजित होगा। समय सुबह 9 से दोपहर 1 बजे है।

यहां से आया था आइडिया

युवसत्ता के फाउंडर प्रमोद शर्मा ने बताया कि उन्हें यह आइडिया बाबा आया सिंह रियार्की पब्लिक स्कूल, गुरदासपुर के गगनदीप सिंह विर्क से आया। वह अपने स्टूडेंट्स के साथ चंडीगढ़ में आयोजित चिल्ड्रन पीस फेस्ट का हिस्सा बनने पहुंचे थे। उनसे पता चला ऐसे प्रयास के बारे में। तब साेचा कि चंडीगढ़ में भी ऐसा करना चाहिए।

इन स्कूल में 22 अप्रैल को चलेगा यह प्रयास

  1. गवर्नमेंट गर्ल्स मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल सेक्टर-18
  2. गवर्नमेंट मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल-47
  3. गवर्नमेंट मिडिल स्कूल बापूधाम कॉलोनी-26
  4. गवर्नमेंट मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल- धनास
  5. गवर्नमेंट मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल- बहलाना
  6. गवर्नमेंट हाई स्कूल मौली कॉलोनी
  7. गवर्नमेंट मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल - खुड्‌डा अली शेर
  8. किताबघर, बापूधाम कॉलोनी, सेक्टर-26
खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

और पढ़ें