चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी अश्लील VIDEO केस में 2 युवक अरेस्ट:हिमाचल पुलिस ने शिमला से पकड़ा, एक बेकरी में तो दूसरा ट्रेवल एजेंसी में काम करता है

चंडीगढ़2 महीने पहले

मोहाली के चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी (CU) में पढ़ने वाली 60 से ज्यादा छात्राओं के नहाने का वीडियो वायरल करने के आरोप में हिमाचल पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार किया है। इनमें लड़की ने जिस युवक की तस्वीर दिखाई थी उसे शिमला के ढली से पकड़ा गया है। उसका नाम रंकज वर्मा है। वहीं दूसरे आरोपी सन्नी मेहता को रोहड़ू से अरेस्ट किया गया है।

इससे पहले पंजाब पुलिस ने वीडियो बनाने वाली लड़की को गिरफ्तार किया था। लड़की भी शिमला के रोहड़ू की रहने वाली है। वो लड़कों को बहुत पहले से जानती हैं। सूत्रों के मुताबिक, हिमाचल पुलिस ने दोनों आरोपियों को सुबह ही गिरफ्तार कर लिया था।

देर शाम दोनों युवक पंजाब पुलिस को सुपुर्द कर दिए गए। सन्नी (23 साल) एक बेकरी में तो रंकज (31 साल) ट्रेवल एजेंसी में काम करता है। रंकज मूल रूप से ठियोग के संधू क्षेत्र का है।

इधर, मामले में यूनिवर्सिटी प्रशासन और पुलिस के रवैये से नाराज CU के सैकड़ों स्टूडेंट्स ने कैंपस में फिर से प्रदर्शन किया। स्टूडेंट्स ने डीन ऑफिस घेर लिया। उनका आरोप है कि यूनिवर्सिटी प्रशासन और पुलिस मामले को दबा रहे हैं। हालांकि देर शाम प्रशासन ने दावा किया कि स्टूडेंट्स ने प्रदर्शन खत्म कर दिया है। लेकिन स्टूडेंट्स अभी भी प्रदर्शन कर रहे हैं।

रविवार शाम को चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन के दौरान मोबाइल फोन की लाइट जलाकर अपनी ताकत का अहसास कराते स्टूडेंट्स।
रविवार शाम को चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन के दौरान मोबाइल फोन की लाइट जलाकर अपनी ताकत का अहसास कराते स्टूडेंट्स।

स्टूडेंट्स की छह मांग प्रशासन ने मानी
सूत्रों के मुताबिक, स्टूडेंट्स ने पुलिस और यूनिवर्सिटी प्रशासन से शनिवार रात हुए मामले की पारदर्शी जांच, शनिवार को हुए लाठीचार्ज की जांच, अस्पताल में भर्ती स्टूडेंट्स को मुआवजा देने, गर्ल्स हॉस्टल का टाइम 8:30 से बढ़ाकर 9:30 बजे तक करने और हॉस्टल के सभी वॉर्डन बदलने की मांग रखी है।

दोनों पक्षों की ओर से स्टूडेंट्स को सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया गया। स्टूडेंट्स को शांत करने के लिए एंबुलेंस में अस्पताल भेजी गई स्टूडेंट को मौके पर लाया गया। हालांकि उसने अपना मुंह ढंक रखा था। दावा किया गया था कि घटना के बाद युवती ने सुसाइड करने की कोशिश की थी। हालांकि प्रशासन ने ऐसी किसी भी घटना से इनकार किया है।

पुलिस और यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट के रवैये के खिलाफ स्टूडेंट्स ने जमकर प्रदर्शन किया।
पुलिस और यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट के रवैये के खिलाफ स्टूडेंट्स ने जमकर प्रदर्शन किया।

प्रदर्शन के लिए लड़कियों ने फांदा हॉस्टल का गेट
रविवार को यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट ने प्रदर्शन कर रही लड़कियों को रोकने के लिए टैगोर हॉस्टल के गेट पर ताला लगा दिया था। इसके बाद भी लड़कियां 10 फीट ऊंचा लोहे का गेट फांदकर प्रदर्शन में शामिल होने गईं। उन्होंने ‘वी वॉन्ट जस्टिस’ के नारे लगाए। कई स्टूडेंट्स ने काले कपड़े पहनकर विरोध जताया। इससे पहले शनिवार देर रात भी स्टूडेंट्स ने यूनिवर्सिटी में भारी हंगामा किया था।

इधर, स्टूडेंट्स के वॉट्सऐप ग्रुप पर एक मैसेजे भी सर्कुलेट हो रहा है। इसमें लिखा गया है- कहीं से पता चला है कि देर रात तक मीडिया के चले जाने के बाद पुलिस छात्रों पर लाठीचार्ज कर सकती है। सभी अपना ध्यान रखें और ये मैसेज सबको शेयर कर दें, ताकि किसी को कोई नुकसान न हो।

इधर, पंजाब यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स भी चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स के समर्थन में कैंपस पहुंच गए हैं। ऐसे में यहां बवाल बढ़ने की आशंका है। यूनिवर्सिटी कैंपस में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है।

मैनेजमेंट के रवैये से नाराज प्रदर्शनकारी स्टूडेंट्स ने यूनिवर्सिटी के डीन का ऑफिस घेर लिया।
मैनेजमेंट के रवैये से नाराज प्रदर्शनकारी स्टूडेंट्स ने यूनिवर्सिटी के डीन का ऑफिस घेर लिया।

पुलिस के इनकार पर भड़के स्टूडेंट्स
रविवार सुबह मोहाली के एसएसपी विवेकशील सोनी और रोपड़ रेंज के डीआईजी गुरप्रीत सिंह भुल्लर मामले की जांच के लिए CU कैंपस पहुंचे। CU मैनेजमेंट के साथ-साथ इन दोनों अफसरों ने दावा किया कि किसी छात्रा का कोई वीडियो वायरल नहीं हुआ और स्टूडेंट्स को गलतफहमी हो गई थी। इसी बात से यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स भड़क उठे।

प्रदर्शनकारी छात्राओं के अनुसार, आरोपी लड़की खुद मान चुकी है कि उसने हॉस्टल में रहने वाली लड़कियों के वीडियो बनाकर अपने दोस्त को भेजे मगर पंजाब पुलिस कह रही है कि लड़की ने सिर्फ अपना वीडियो बनाया। इसके अलावा चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के कुछ अधिकारियों ने लड़कियों के कपड़ों को लेकर भी कमेंट किए। इससे उनमें नाराजगी है।

इस बीच पुलिस जहां कह रही है कि आरोपी लड़की ने सिर्फ अपना वीडियो बॉयफ्रेंड को भेजा, वहीं दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट में लिखा कि लड़की ने कई आपत्तिजनक वीडियो भेजे। केजरीवाल ने इस मामले में कड़े एक्शन का आश्वासन भी दिया। पंजाब में AAP की सरकार है। पंजाब के सीएम भगवंत मान ने मामले की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए हैं।

आरोपी लड़की ने एक लड़के की फोटो मोबाइल पर दिखाई, हम यहां उसकी वायरल फोटो और लड़की के साथ हुई चैट दिखा रहे हैं...

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाली आरोपी लड़की से उसके दोस्त रंकज ने अपने कॉन्टैक्ट डिलीट करने की बात कही। उसने कहा कि सब एक बार में क्लियर कर दो।
चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाली आरोपी लड़की से उसके दोस्त रंकज ने अपने कॉन्टैक्ट डिलीट करने की बात कही। उसने कहा कि सब एक बार में क्लियर कर दो।

CU में दो दिन नहीं लगेंगी क्लास
चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार की ओर से रविवार को जारी आदेश के अनुसार 19 और 20 सितंबर स्टूडेंट्स के लिए नॉन-टीचिंग डे रहेंगे। यानी दो दिनों तक स्टूडेंट्स की क्लासेस नहीं लगेंगी। हालांकि सभी डिपार्टमेंट की फैकल्टी और स्टाफ मेंबर्स को अपने-अपने ऑफिस में रूटीन की तरह रिपोर्ट करना होगा। यूनिवर्सिटी कैंपस की बाकी आवश्यक सेवाएं भी जारी रहेंगी।

लड़की के मोबाइल में डिलीट किए गए वीडियोज का स्क्रीन शॉट दिखाई दे रहा है।
लड़की के मोबाइल में डिलीट किए गए वीडियोज का स्क्रीन शॉट दिखाई दे रहा है।

60 से ज्यादा लड़कियों के नहाने के वीडियो वायरल किए गए
इससे पहले शनिवार देर रात चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी कैंपस में लड़कियों ने भारी हंगामा किया। उनका आरोप था कि उनके साथ पढ़ने वाली एक लड़की ने 60 से ज्यादा लड़कियों के नहाने के वीडियो बनाकर अपने बॉयफ्रेंड को भेज दिए, जिसने उन्हें इंटरनेट पर वायरल कर दिया।

8 छात्राओं के खुदकुशी की खबर, यूनिवर्सिटी का इनकार
हंगामे के दौरान खबर आई कि 8 छात्राओं ने खुदकुशी की कोशिश की और इनमें से एक की हालत नाजुक है। हालांकि यूनिवर्सिटी प्रबंधन और पुलिस ने इससे इनकार किया। वीडियो बनाने वाली छात्रा से हॉस्टल में लड़कियों ने ही पूछताछ की। इसका भी एक वीडियो सामने आया है। इसमें आरोपी छात्रा का कहना है कि उसने ये वीडियो दबाव में बनाए। ज्यादा सवाल किए जाने पर वो अपने मोबाइल फोन में एक लड़के का फोटो दिखाती है।

आरोपी लड़की ने शिमला में अपने बॉयफ्रेंड को भेजे वीडियो
पुलिस के मुताबिक, लड़के का नाम सन्नी मेहता है और वह लड़की का बॉयफ्रेंड है। सन्नी हिमाचल का रहने वाला है। उसी ने लड़कियों के वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किए। पंजाब पुलिस की रोपड़ रेंज के डीआईजी गुरप्रीत सिंह भुल्लर और मोहाली के SSP विवेकशील सोनी ने यह भी कहा कि छात्रा ने केवल अपना वीडियो लड़के को भेजा था। दूसरी लड़कियों का नहीं।

आरोपी लड़की के मुताबिक वह सारे वीडियो अपने बॉयफ्रेंड को भेजती थी। लड़की ने मोबाइल में बॉयफ्रेंड की जो फोटो दिखाई, वह रंकज वर्मा नामक युवक की है। रंकज वर्मा शिमला के ठियोग क्षेत्र का रहने वाला है। रंकज वर्मा की यह तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल हो गई।
आरोपी लड़की के मुताबिक वह सारे वीडियो अपने बॉयफ्रेंड को भेजती थी। लड़की ने मोबाइल में बॉयफ्रेंड की जो फोटो दिखाई, वह रंकज वर्मा नामक युवक की है। रंकज वर्मा शिमला के ठियोग क्षेत्र का रहने वाला है। रंकज वर्मा की यह तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल हो गई।

पूरे मामले को सिलसिलेवार ढंग से समझिए...

1. वीडियो के बारे में जानकारी कैसे लगी
चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी (CU) की जिन छात्राओं के वीडियो वायरल हुए और जिसने वायरल किए, वो सभी एमबीए की स्टूडेंट हैं। आरोपी छात्रा काफी समय से वीडियो बनाकर अपने बॉयफ्रेंड को भेज रही थी। बॉयफ्रेंड ने ये वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिए। एक छात्रा ने सोशल मीडिया पर अपना वीडियो देखा तो मामला खुल गया। इसके बाद हंगामा शुरू हुआ।

2. आरोपी छात्रा ने क्या कहा
जब हॉस्टल वॉर्डन ने आरोपी लड़की से पूछताछ की तो उसने कहा कि मैंने एक लड़के को ये वीडियो भेजे हैं। छात्रा ने कहा कि वो उस लड़के को नहीं जानती। वॉर्डन के कई बार पूछने पर भी लड़की ने नहीं बताया कि लड़के से उसका क्या रिश्ता है और वो कौन है। उससे पूछा गया कि कब से ये वीडियो बना रही है? मगर इसका जवाब भी छात्रा ने नहीं दिया। वह बार-बार कहती रही कि गलती हो गई है और आगे ऐसा नहीं करूंगी।

3. जिन छात्राओं के वीडियो बनाए गए, उनकी जुबानी पूरी कहानी
सोशल मीडिया पर CU की एक छात्रा का वॉइस मैसेज वायरल हो रहा है। हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हुई। इस मैसेज में एक लड़की कह रही है- एक लड़की ने वीडियो बनाकर वायरल कर दी है। शुरू में कह रहे थे कि 4 लड़कियों के साथ ऐसा हुआ है। अब पता चला है कि 60 प्लस लड़कियों के वीडियो वायरल हुए हैं। डी ब्लॉक, सी ब्लॉक, बी ब्लॉक सभी ब्लॉक्स की लड़कियों के वीडियो बनाए जा रहे हैं। जिस लड़की ने ये काम किया है, उसे बंद करके रखा है। अथॉरिटी जो हैं, वॉर्डन हैं, वो इस पूरे मामले को दबाने की बात कर रहे हैं। हम लोग सुबह से धक्के खा रहे हैं। हमसे कहा जा रहा है कि बात दबा दो।

वायरल वॉयस मैसेज को सुनने के लिए आप नीचे वीडियो पर क्लिक कर सकते हैं...

4. यूनिवर्सिटी की लड़कियों का रिएक्शन
लड़कियों के नहाने के वीडियो वायरल होने की खबर फैलते ही चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी (CU) की सैकड़ों छात्राएं हॉस्टल खाली कर बाहर आ गईं। उन्होंने 'वी वांट जस्टिस' के नारे लगाने शुरू कर दिए। छात्राओं ने पूरी यूनिवर्सिटी को घेर लिया। यह देखकर सुरक्षा कर्मियों ने यूनिवर्सिटी कैंपस के गेट बंद कर दिए। तुरंत पुलिस फोर्स मौके पर बुलाई गई।

पुलिस ने छात्राओं को शांत करने की कोशिश की तो उन्होंने पुलिस की पीसीआर टीमों की गाड़ियां पलट दी। पुलिस को उन्हें शांत करने के लिए हल्का-फुल्का लाठीचार्ज भी करना पड़ा। इसके बाद वहां भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई।

5. आरोपी छात्रा ने हॉस्टल में लड़कियों को अपने साथी लड़के की फोटो दिखाई
CU के हॉस्टल में लड़कियों ने आरोपी छात्रा से पूछा कि उसने ये वीडियो क्यों बनाई? क्या उस पर कोई दबाव था? लड़कियों ने कहा कि अगर अभी तुमने सच बता दिया तो मामला यहीं खत्म हो जाएगा। तुम्हारे खिलाफ पुलिस शिकायत नहीं होगी। इस पर आरोपी छात्रा ने पहले तो कहा कि जिस लड़के ने उसे वीडियो बनाने को कहा था, वह उसे नहीं जानती है।

जब लड़कियों ने बार-बार कहा कि सच बता दो, तो तुम बचा जाओगी, तो आरोपी लड़की ने अपने मोबाइल फोन में लड़के का फोटो दिखाया। हालांकि इसकी पूरी जानकारी नहीं मिली कि लड़के से आरोपी लड़की का क्या संबंध है और वह उसे वीडियो क्यों भेजती थी। आरोपी और लड़कियों के बीच पूरी बातचीत पढ़ने के लिए क्लिक करें...

हॉस्टल में आरोपी लड़की से दूसरी छात्राओं ने सवाल पूछे।
हॉस्टल में आरोपी लड़की से दूसरी छात्राओं ने सवाल पूछे।

6. पुलिस, प्रशासन, महिला आयोग और सरकार का स्टैंड

CU में दिनभर हालात संभालने की कोशिश चलती रही। वीडियो बनाकर भेजने वाली लड़की भी हिमाचल की है और लड़के भी वहीं के हैं। पुलिस ने लड़की को दिन में ही हिरासत में ले लिया। रात साढ़े 9 बजे शिमला से रंकज वर्मा और रोहड़ू से सन्नी मेहता को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

मामला सामने आने के बाद पंजाब महिला आयोग की चेयरपर्सन मनीषा गुलाटी भी चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी पहुंची। पंजाब के शिक्षा मंत्री हरजोत बैंस ने कहा कि इस मामले में पंजाब सरकार सख्त कार्रवाई करेगी।

उधर चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी (CU) ने कहा कि लड़कियों के आपत्तिजनक वीडियो बनाने की बात पूरी तरह झूठ और निराधार है। ऐसा कोई आपत्तिजनक वीडियो अभी तक नहीं मिला। केवल आरोपी लड़की का एक वीडियो मिला है, जो उसने अपने बॉयफ्रेंड से शेयर किया।

7. अब तक की जांच में क्या मिला, पढ़िए SSP का बयान
मोहाली के SSP विवेकशील सोनी ने बताया- लड़की को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। उसका मोबाइल फोन ले लिया गया है। लड़की ने जो वीडियो अपने बॉयफ्रेंड को भेजा, वो उसका खुद का है। दूसरी लड़कियों के वीडियो नहीं है। जब वह अपना वीडियो भेज रही थी, तब हॉस्टल की अन्य लड़कियों ने उसे देख लिया। आरोपी लड़की और उसका बॉयफ्रेंड लंबे समय से एक-दूसरे के साथ रिलेशनशिप में हैं।

SSP ने कहा कि महिला वार्डन ने गलती से कह दिया था कि दूसरी लड़कियों की इज्जत का ख्याल रखना था। आरोपी लड़की ने किसी दूसरी लड़की का वीडियो बनाया ही नहीं।

जिन छात्राओं ने खुदकुशी की कोशिश की, उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनमें से एक की हालत नाजुक बताई जा रही है। दूसरी ओर सुसाइड की बात से चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी प्रशासन इनकार कर रहा है।
जिन छात्राओं ने खुदकुशी की कोशिश की, उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनमें से एक की हालत नाजुक बताई जा रही है। दूसरी ओर सुसाइड की बात से चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी प्रशासन इनकार कर रहा है।

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी में लड़की ने वीडियो-फोटो भेजकर फोन से डिलीट किए, लड़के ने स्क्रीनशॉट भेजा तो खुला राज

मोहाली स्थित चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी वीडियो लीक कांड को लेकर पूरी कहानी सामने आ गई है। शक के बाद लड़की को पकड़ा गया तो उसने अश्लील फोटो और वीडियो डिलीट कर दिए। जब हॉस्टल प्रबंधन ने लड़की के मोबाइल से उसके साथी लड़के को मैसेज कर सवाल पूछा तो उसने अश्लील वीडियो का स्क्रीनशॉट भेज दिया। इसके बाद यूनिवर्सिटी प्रबंधन ने पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने इस मामले में आरोपी छात्रा और उसके शिमला के साथी पर IPC की धारा 354-C और IT एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। यह खबर पढ़ने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं...

पंजाब पुलिस पर उठे सवाल, बिना आरोपी से पूछताछ 'क्लीन-चिट'

शनिवार-रविवार रात चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी से एंबुलेंस में छात्राओं को ले जाते लोग।
शनिवार-रविवार रात चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी से एंबुलेंस में छात्राओं को ले जाते लोग।

मोहाली पुलिस ने चंद घंटों के अंदर जिस तरह चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी से लड़कियों के नहाने के वीडियो लीक होने से इनकार किया, उसकी वजह से पुलिस-प्रशासन पर सवाल उठ रहे हैं। आरोपी लड़की के बॉयफ्रेंड को हिरासत में लेकर पूछताछ करने या उसके मोबाइल फोन की जांच कराने से पहले ही मोहाली के SSP विवेकशील सोनी ने दावा कर दिया कि लड़की ने सिर्फ अपना वीडियो भेजा था। किसी अन्य लड़की का कोई वीडियो नहीं भेजा गया।

यूनिवर्सिटी मैनेजमेंट ने भी कहा कि किसी छात्रा ने सुसाइड की कोई कोशिश नहीं की। ऐसे में सवाल है कि फिर शनिवार देर रात कुछ छात्राओं को एंबुलेंस में ले जाने की जरूरत क्यों पड़ी। यह खबर पढ़ने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं...