पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • GMSH 16 Will Not Become Medical College; High Court Gives Instructions On Increasing Cases Of Corona Virus And Health Facilities

प्रशासन की सख्ती:जीएमएसएच-16 नहीं बनेगा मेडिकल काॅलेज; कोरोना वायरस के बढ़ते मामले और स्वास्थ्य सुविधाओंं पर हाईकोर्ट ने दिए निर्देश

चंडीगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जीएमएसएच-16 को मेडिकल काॅलेज बनाने के प्रस्ताव काे केंद्र सरकार ने खारिज कर दिया है। केंद्र सरकार ने कहा है कि शहर में एक मेडिकल काॅलेज है। ऐसे में चंडीगढ़ में एक और मेडिकल काॅलेज बनाने की जरूरत फिलहाल नहीं है।

इससे पहले जीएमएसएच-16 काे पब्लिक प्राइवेट पाटर्नशिप के जरिए चलाने के बारे में बात चल रही थी। नीति आयाेग की सिफारिश पर प्रशासन इसकी तैयारियाें में जुट भी गया था। लेकिन बाद में केंद्र ने इस प्रस्ताव पर सहमत नहीं हुआ। लिहाजा अब केंद्र ने मेडिकल काॅलेज बनाने के प्रस्ताव काे रद्द कर दिया है।

प्रशासन ने जीएमएसएच-16 को अपग्रेड कर मेडिकल काॅलेज बनाने का प्रस्ताव बनाया गया था। इसमें एमबीबीएस की 100 सीटाें का प्रावधान किया गया था। यही नहीं मेडिकल काॅलेज बनने पर यहां पर फेैकल्टी स्टाफ आने की संभावनाएं बन रहीं थीं।

इसके साथ यहां पर कई गंभीर बीमारियाें के स्पेशलिस्ट डाॅक्टर भी आने के साथ शहर के लाेगाें काे क्वालिटी मेडिकल केयर मेडिकल केयर की संभावना बढ़ गई थी। ऐसा होता तो हेल्थ क्षेत्र की कंपनी मेडिकल कालेज बनने के साथ यहां पर ओपीडी भी चला सकती थी।

जीएमएसएच-16 काे 100 एमबीबीएस सीटों के साथ अपग्रेड कर मेडिकल काॅलेज बनाने की याेजना थी। लेकिन इस बीच एक नई योजना आ गई, जिसमें जिला अस्पतालों को पीपीडी मोड में बदलने की बात कही जाने लगी। शहर में सिर्फ दो ही ऐसे मेडिकल एजुकेशन इंस्टीट्यूट हैं, जहां पोस्ट ग्रेजुएट सीटें हैं।

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (जीएमसीएच-32) में 150 एमबीबीएस की सीटें और 125 पोस्ट ग्रेजुएट सीटे हैं। जबकि पीजीआई चंडीगढ़ में 310 पोस्ट ग्रेजुएट सीटें हैं। ऐसे में उत्तर भारत के क्षेत्र में जैसे पंजाब, हरियाणा, हिमाचल, चंडीगढ़, जम्मू व कश्मीर और अन्य राज्यों के मेडिकल की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स के लिए अवसर खत्म हाे जाएंगे। आने वाले कुछ सालों में अब इस प्लानिंग पर काम भी नहीं हाेगा।

सरकार ने मेडिकल काॅलेज का प्रोजेक्ट रद्द कर दिया

सरकार ने जीएमएसएच-16 काे मेडिकल काॅलेज काे बनाने के प्रस्ताव काे खारिज कर दिया है। सरकार ने पीपीपी माेड पर चलाने का प्रस्ताव रखा था। लेकिन प्रशासन इसके लिए राजी नहीं हुअा। सरकार ने अब कहा है कि चंडीगढ़ में एक मेडिकल काॅलेज है। लिहाजा दूसरे मेडिकल काॅलेज की फिलहाल जरूरत नहीं है।
डॉ. अमनदीप कंग, डायरेक्टर हेल्थ सर्विसेज, यूटी चंडीगढ़

खबरें और भी हैं...