पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Hearing In The District Court On On The Bail Plea Of Accused Former Journalist Sanjeev Mahajan And Property Satpal Dagar In Sector 37 Kothi Sale.

सेक्टर-37 कोठी हथियाने का मामला...:आरोपी पूर्व पत्रकार संजीव महाजन और प्राॅपर्टी सतपाल डागर की जमानत याचिका खारिज

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महाजन को पुलिस ने एक मार्च और को गिरफ्तार किया था और वह तब से जेल में ही है। संजीव महाजन के बाद  आरोपित सतपाल डागर को भी चंडीगढ़ पुलिस ने जल्द ही गिरफ्तार कर लिया था। - Dainik Bhaskar
महाजन को पुलिस ने एक मार्च और को गिरफ्तार किया था और वह तब से जेल में ही है। संजीव महाजन के बाद  आरोपित सतपाल डागर को भी चंडीगढ़ पुलिस ने जल्द ही गिरफ्तार कर लिया था।

सेक्टर-37 की कोठी विवाद में आरोपी पूर्व पत्रकार संजीव महाजन और प्राॅपर्टी सतपाल डागर की जमानत याचिका मंगलवार को खारिज कर दी गई। जिला जिला अदालत में सुनवाई के दौरान सरकारी वकील ने कहा दोनों बाहर आने पर गवाहों को प्रभावित कर सकते हैं। इसलिए इन्हें जमानत देना सही नहीं होगा। इसी को आधार बनाकर जज ने दोनों की जमानत याचिका को खारिज कर दिया।

वाई होनी है। महाजन को पुलिस ने एक मार्च और को गिरफ्तार किया था और वह तब से जेल में ही है। संजीव महाजन के बाद आरोपित सतपाल डागर को भी चंडीगढ़ पुलिस ने जल्द ही गिरफ्तार कर लिया था। बता दें कि डागर चंडीगढ़ पुलिस विभाग में तैनात DSP रामगोपाल का भाई है।

संजीव पर सेक्टर-37 स्थित कोठी नंबर 340 पर जबरन कब्जा करने, कोठी मालिक का अपहरण कर गुजरात से भुज स्थित आश्रम में लावारिस और मानसिक बीमार बताकर रखने का अरोप है।

ये था सतपाल का रोल

पुलिस के मुताबिक रजिस्ट्री और डील के समय सतपाल भी मौजूद था। अरविंद सिंगला के बयानों के मुताबिक पहले उन्हें बताया गया था कि मौजूदा कोठी सतपाल के पास है, इसलिए उनके बीच खरीद-फरोख्त के लिए मीटिंग हुई। 33 फीसदी शेयर बेचने की बात मीटिंग में तय हुई थी।

खबरें और भी हैं...