पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पीयू की कार्रवाई:पीयू से हेरिटेज फर्नीचर चोरी हाेने के मामले में केस, किसी कर्मचारी का है इसमें हाथ

चंडीगढ़6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो

पंजाब यूनिवर्सिटी से 48 हेरिटेज कुर्सियां चोरी होने के मामले में क्राइम ब्रांच ने केस दर्ज कर लिया है। क्राइम ब्रांच मामले की जांच करने में जुटी हुई है। टीम को शक है कि इस मामले में पीयू के ही एक कर्मचारी का हाथ है। उसकी तलाश में पुलिस छापेमारी कर रही है। सूत्रों के अनुसार क्राइम ब्रांच की टीम चोरों के बहुत नजदीक है और जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर सकती है।

जल्द ही चोरों को पकड़ उनसे कुर्सियों बरामद हो सकती हैं। पीयू के ही सिक्योरिटी स्टाफ को सबसे पहले पता चला था कि कुर्सियां चोरी हुई हैं। इसके बाद पुलिस हेड क्वार्टर में मामले के संबंध में शिकायत दी गई थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच का जिम्मा क्राइम ब्रांच को सौंपा गया। अब क्राइम ब्रांच ने केस दर्ज कर लिया है।

पिछले दरवाजे से हुई चोरी, इसलिए पीयू के कर्मी पर है शक: सूत्रों के मुताबिक जिस तरह से फर्नीचर चोरी किया गया है, उससे साफ है कि चोरी करने वालों में कोई पीयू का कर्मचारी भी शामिल है। क्योंकि मुख्य दरवाजे का ताला तोड़ा नहीं गया। पीछे से चिटकनी खोलकर कुर्सियों को बाहर निकाला गया है। अब क्राइम ब्रांच पीयू के गेट पर लगे हुए सीसीटीवी कैमरों की फुटेज चेक कर रही है।

एकसाथ चोरी नहीं की
जांच में सामने आया है कि 48 कुर्सियां एक दिन में चोरी नहीं की गई हैं। इन्हें लेकर जाने के लिए भी किसी वाहन का इस्तेमाल किया गया। इसके चलते पुलिस यह भी देख रही है कि 1 नवंबर से पहले कौन-कौन सेे वाहन बार-बार पीयू में दाखिल हो रहे थे। कहीं कोई कमर्शियल वाहन का इस्तेमाल तो नहीं किया जाना था।

वार्ड से संबंधित गार्ड से पूछताछ

जिस हॉल से कुर्सियां चोरी हुई हैं, उसके आसपास तैनात सिक्योरिटी गार्ड से भी क्राइम ब्रांच पूछताछ कर रही है। गेट पर तैनात सिक्योरिटी गार्ड से भी पूछताछ की जा रही है कि उन्होंने किसी संदिग्ध वाहन को तो नहीं देखा है।

82 कुर्सियां थी सोशियोलॉजी डिपार्टमेंट के पास...

चंडीगढ़ | चोरी हुए फर्नीचर के मामले में जांच कमेटी की मीटिंग शुक्रवार को रखी गई थी। पिछली मीटिंग में आर्किटेक्ट डिपार्टमेंट को सारा फर्नीचर चेक करने के लिए कहा गया था। रिकॉर्ड के मुताबिक सोशियोलॉजी डिपार्टमेंट के पास 82 कुर्सियां अलॉट की हुई हैं, जो ज्यादातर उसी समय की है, जिस समय डिपार्टमेंट बना था। डिपार्टमेंट की शुरुआत 1961 में हुई थी।

संभावना जताई जा रही है कि कुर्सियां हेरिटेज हैं। 8 नवंबर को भास्कर में प्रकाशित खबर के बाद पीयू की प्रशासनिक कोऑर्डिनेशन कमेटी ने स्वयं संज्ञान लिया था। शुक्रवार को हुई मीटिंग के दौरान चेयरपर्सन प्रो. रानी मेहता और आर्किटेक्चर डिपार्टमेंट के कुछ मेंबर्स पहुंचे।

पता लगा कि आर्किटेक्चर डिपार्टमेंट के कुछ लोग वहां पर जांच के लिए गए थे लेकिन डिपार्टमेंट से सहयोग नहीं मिला। डिपार्टमेंट काे स्पष्ट किया गया है कि इस बारे में वे जांच के दौरान अपने सारे पुराने फर्नीचर को चेक करें और साथ ही मौजूद फर्नीचर को भी देखें।

1 नवंबर को की थी शिकायत...

पूरे रिकॉर्ड के बाद ही पता लगेगा कि कुर्सियां हेरिटेज हैं या नहीं। 36 कुर्सियां सेमिनार हाल से हैं और 10 सेकेंड फ्लोर से और दो डिपार्टमेंट के ऑफिस से। एक नवंबर को सोशियोलॉजी डिपार्टमेंट ने कुछ कुर्सियां चोरी होने की शिकायत की थी। जांच के बाद उन्होंने 12 नवंबर को शिकायत थी, जिसको पुलिस को भेज दिया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ महत्वपूर्ण नए संपर्क स्थापित होंगे जो कि बहुत ही लाभदायक रहेंगे। अपने भविष्य संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने का उचित समय है। कोई शुभ कार्य भी संपन्न होगा। इस समय आपको अपनी काबिलियत प्रदर्...

और पढ़ें