• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • In Siswan, New Chandigarh, The Dead Body Buried In The Field Near The Farmhouse Of CM Punjab Was Taken Out On The Behest Of Sucha Singh's Dog.

डेढ़ साल के रॉकी की चर्चा पूरे इलाके में:न्यू चंडीगढ़ के सिसवां में सीएम पंजाब के फार्महाउस के पास खेत में दबी लाश सुच्चा सिंह के पाले डॉग की  निशानदेही पर निकाली गई

चंडीगढ़4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
न्यू चंडीगढ़ एरिया में पुलिस को सिर कटी लाश मिली। पुलिस ने रात भर खोजी लेकिन मिली नहीं। मुख्य आरोपी गायब, दो को पकड़ा। - Dainik Bhaskar
न्यू चंडीगढ़ एरिया में पुलिस को सिर कटी लाश मिली। पुलिस ने रात भर खोजी लेकिन मिली नहीं। मुख्य आरोपी गायब, दो को पकड़ा।
  • जब से सुच्चा सिंह गायब था तब से डॉग कुछ खा नहीं रहा था, सुच्चा को खोजने जाने वाले लोगों के साथ खेतों में जाता था
  • शराब पीने के बाद हुई लड़ाई में आरोपियों ने सुच्चा की हत्या कर लाश सीएम फार्महाउस के पास दबाई ताकि कोई वहां पहुंच न पाए

पंजाब के मोहाली जिले के न्यू चंडीगढ़ एरिया में एक रविवार को सनसनीखेज हत्या का मामला सामने आया है। चंडीगढ़ से मात्र 5 किलोमीटर दूर पंजाब के सिसवां गांव में जहां पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह का फार्म हाउस है वहां के खेत से एक व्यक्ति की सिर कटी लाश मिली है। भारी सुरक्षा वाले इलाके से इस तरह से लाश मिलने से मोहाली पुलिस ने वहां दर्जनों पुलिस वाले लगा कर गायब सिर की तलाश शुरू की है लेकिन अभी तक सिर मिल नहीं पाया है। पुलिस की ओर से इस हत्या के मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है और पूछताछ जारी है। मृतक के घर वालों ने 8 दिन पहले सुच्चा सिंह के गायब हाेने की सूचना मुल्लांपुर थाने में दी थी लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

रॉकी की ओर से अपने मालिक की लाश को खोजने में की गई अहम भूमिका से आसपास के इलाके में पूरी चर्चा है।मृतक सुच्चा सिंह ने रॉकी को पाला था और उसे बहुत प्यार करता था।

मृतक सुच्चा सिंह के पाले डॉग रॉकी ने अपने मालिक की लाश को खोजा
मृतक सुच्चा सिंह के पाले डॉग रॉकी ने अपने मालिक की लाश को खोजा

मृतक के डॉग ने खोजी लाश

12 जून से लापता 41 साल के सुच्चा राम की लाश जमीन में दबी हुई मिली। लाश को पंजाब सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के सिसवां स्थित फार्म हाउस के साथ वाली जमीन में दबाया गया था। नगल गांव के सुच्चा सिंह के गायब होने की शिकायत घरवालों ने पुलिस को दे रखी थी। पिछले 8 दिन से जो काम मोहाली पुलिस नहीं कर पाई, वह मृतक के पालतू कुत्ते ‘रॉकी’ ने कर दिया। रॉकी ही सूंघते-सूंघते सबसे पहले इस गड्‌ढे के पास पहुंचा और भौंकने लगा। गड्ढा खुदवाया गया तो इसमें से सुच्चा राम का शव निकला। लाश को 10 फीट गहरे गड्‌ढे में दबाया हुआ था। कटे सिर की तलाश में करीब 200 पुलिस मुलाजिम जुटे, लेकिन सिर नहीं मिला। पुलिस ने पड़ौल गांव के जगीर सिंह, सतनाम व नगल गांव के देसराज के खिलाफ मर्डर व सबूत मिटाने की धाराएं जोड़ दी हैं। सतनाम व देसराज को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं, सुच्चा सिंह के गायब होने की शिकायत लेकर आए घरवालों से अभद्र व्यवहार करने वाले एएसआई को सस्पेंड कर दिया गया है।

डॉग रॉकी की चर्चा हर जगह हो रही
डॉग रॉकी की चर्चा हर जगह हो रही
जमीन खोदकर लाश निकाली गई, बुरी तरह खराब हो गई थी
जमीन खोदकर लाश निकाली गई, बुरी तरह खराब हो गई थी

सिर नहीं हुआ बरामद, रात तक तलाशती रही पुलिस

पकड़े गए दो आरोपियों से पूछताछ में पता चला है कि शराब के नशे में इनका झगड़ा हुआ था। इसके बाद सुच्चा का मर्डर हो गया। शव की शिनाख्त न हो, इसलिए सिर को अलग कर कहीं और फेंका गया और धड़ को गड्ढे में दबा दिया। आरोपियों ने बताया उन्होंने जानबूझकर सीएम के फार्म हाउस के पास लाश दबाई, ताकि किसी को शक न हो। पुलिस भी यहां जांच करने के लिए नहीं पहुंचेगी। आरोपी पीड़ित परिवार के साथ पुलिस स्टेशन में शिकायत लिखवाने भी गए थे। पुलिस मुख्य आरोपी जगीर सिंह और कटे हुए सिर की तलाश कर रही है।

मृतक सुच्चा सिंह की फाइल फोटो
मृतक सुच्चा सिंह की फाइल फोटो

खेत में जाकर ‘रॉकी’ पहले भौंका और फिर मिट्‌टी खोदने लगा

मृतक के भाई भोला ने बताया कि सुच्चा राम ने घर में एक कुत्ता पाल रखा था। जब से सुच्चा गायब था ‘रॉकी’ सही से खाना भी नहीं खा रहा था। रविवार उनके मामे का बेटा मेजर, पड़ौल गांव का नायब सिंह व उनके मेवा चाचा का बेटा तलाश के लिए घर से निकलने लगे तो रॉकी भौंकने लगा। इन्होंने रॉकी को अपने साथ लिया और जगीर सिंह के फार्म हाउस की तरफ चल पड़े। खेतों में जाकर रॉकी रस्सी छुड़वाकर भागने लगा। सूंघता-संघता वह सीएम के फार्म हाउस की दीवार के पास चला गया। खोदे गए गड्ढे के पास जाकर पहले भौंका और फिर पंजों से मिट्‌टी खोदने लगा। पीछे-पीछे भाग रहे लोग भी यहां पहुंच गए। यहां से बदबू आ रही थी और गड्‌ढे के पास ही तलवार और डंडा पड़ा हुआ था। लोगों ने हाथाें से मिट्टी हटानी शुरू कर दी। तभी एक पैर दिखाई दिया, जिसमें कीड़े पड़े हुए थे। इसके बाद पुलिस को बुलाया गया। जेसीबी से गड्‌ढा खोदा तो अंदर से सुच्चा सिंह की लाश मिली। शव को माॅर्चरी में रखवा दिया गया है।

फार्म हाउस की दीवार से 7-8 फुट दूर गड्‌ढे में दबा रखी थी लाश

सूत्रों के अनुसार आरोपी देसराज 12 जून की शाम शराब के नशे में जगीर के पास गया और उसके बाद वहां से चला गया। घटनास्थल से गांव की तरफ जाने वाले एक अन्य फार्म हाउस के बाहर कैमरे लगे हैं। उसी रात करीब साढ़े 9 बजे तक न तो जगीर वहां से गुजरा और न देसराज। इसके अलावा शाम करीब 7 बजकर 34 मिनट पर सिसवां की तरफ कैमरे में एक मारुति गाड़ी जाती दिखी, लेकिन रात 12 बजे तक वह वापस नहीं आई। आरोपी सतनाम ने जगीर के फार्म हाउस पर एक नेपाली को काम पर रखवाया था और वह नेपाली भी 12 जून से ही लापता है। वारदात वाली रात को सतनाम सिंह ने जगीर को रात करीब 1 बजकर 40 मिनट पर कॉल की थी। 13 जून सुबह 6 बजे फिर से दोनाें की मोबाइल पर बात हुई। पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो सतनाम ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

जगीर सिंह ले गया था अपने साथ

मृतक के भाई भोला ने बताया कि पड़ौल निवासी जगीर सिंह 12 जून की दोपहर करीब 3 बजे सुच्चा सिंह को घर से अपने साथ ले गया था। जगीर ने कहा था कि उसने फार्म हाउस में बकरियाें के लिए बाड़ा बनाना है। इसके बाद सुच्चा सिंह घर नहीं लौटा। घरवालों ने जगीर सिंह और दो अन्य लोगों के खिलाफ मुल्लांपुर पुलिस को शिकायत दी। लेकिन पुलिस मामले को हल्के में लेती रही। उसने न तो तलाश की और न ही संदिग्ध लोगाें से पूछताछ की।

खबरें और भी हैं...