• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Kisan Ekta Morcha Ultimatum To Punjab CM, Solve The Issue Of Sugarcane Rate Soon Or Else Chandigarh Will Be Made Delhi, The Government Has Been Given 14 Days Time.

किसान मोर्चा की CM चन्नी को चेतावनी:जल्द गन्ने के रेट का मसला हल करो वर्ना चंडीगढ़ को दिल्ली बना देंगे, 14 दिन का समय दिया

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गन्ना किसानों ने सीएम चन्नी को मांग पत्र भी सौंपा था। फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
गन्ना किसानों ने सीएम चन्नी को मांग पत्र भी सौंपा था। फाइल फोटो

पंजाब के CM चरणजीत चन्नी पर किसान संगठनों का गुस्सा फूट पड़ा है। गन्ने के रेट में देरी से खफा किसान एकता मोर्चा ने चेतावनी दी कि गन्ने के रेट का मसला जल्द हल करो। ऐसा न हुआ तो फिर चंडीगढ़ में भी दिल्ली बॉर्डर की तरह डेरा जमा लेंगे। किसान मोर्चे की इस चेतावनी ने पंजाब सरकार के किसान हितैषी होने के दावों पर भी सवाल खड़े हो गए हैं।

अहम बात यह है कि खुद CM चरणजीत चन्नी ने पंजाब के किसान संगठनों से मीटिंग की थी। इसके बावजूद मसला हल न होने से किसान नाराज हो गए हैं। किसान नेता बलविंदर सिंह राजू, मनजीत सिंह राय, जंगवीर चौहान, मुकेश चंद्र, कुलदीप सिंह बाजीदपुर और सुखपाल सिंह ने कहा कि शुगरफेड के कानून के मुताबिक अगर 14 दिन के भीतर भुगतान नहीं किया जाता तो हम संघर्ष शुरू कर देंगे।

गन्ने की कीमत कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री रहते बढ़ाई थी, इसके बाद किसान संगठनों के नेताओं ने उनका मुंह मीठा कराया।
गन्ने की कीमत कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री रहते बढ़ाई थी, इसके बाद किसान संगठनों के नेताओं ने उनका मुंह मीठा कराया।

CM ने 2 दिन का भरोसा दिया था, 14 दिन बाद भी कुछ नहीं हुआ

किसान एकता मोर्चा ने कहा कि पंजाब के CM ने हमें भरोसा दिया था कि गन्ना मिलों को बुलाकर एक-दो दिन में रेट का मसला हल कर देंगे। आज 12 दिन बीत चुके हैं लेकिन कोई जवाब नहीं आया। CM चन्नी हमें चंडीगढ़ को दिल्ली बनाने के लिए मजबूर न करें। किसान यह बात बिल्कुल साफ कर चुके हैं कि हम 325 और 35 रुपए जोड़कर रेट नहीं लेंगे। गन्ना मिल हमें 14 दिन में हमें 360 रुपए प्रति क्विंटल दे या फिर सरकार। हमारी यह सख्त चेतावनी है वर्ना माझा और दोआबा से ऐसा विरोध होगा कि सरकार संभाल नहीं पाएगी।

कैप्टन के वक्त फैसला, नोटिफिकेशन नहीं हुआ

गन्ने का रेट बढ़ाने के लिए किसान संगठनों ने जालंधर में दिल्ली-पानीपत हाइवे जाम किया था। तब कैप्टन अमरिंदर सिंह CM थे। उनके साथ मीटिंग में गन्ने का रेट 310 रुपए प्रति क्विंटल से बढ़ा 360 कर दिया गया। हालांकि इससे पहले कि नोटिफिकेशन होता, कैप्टन अमरिंदर सिंह का तख्तापलट कर दिया गया। फिर चरणजीत चन्नी CM बन गए लेकिन मसला अभी भी लटका हुआ है।

खबरें और भी हैं...