पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बदलाव का वक्त:इनकम टैक्स, बैंकिंग, पोस्ट ऑफिस में 1 अप्रैल से ग्राहकों के लिए कई नए नियम

चंडीगढ़एक महीने पहलेलेखक: गुलशन कुमार
  • कॉपी लिंक
  • 1 अप्रैल, 2021 से बैंकों से लेकर पोस्ट ऑफिस और पीएफ ऑफिस में कई नए नियम लागू होंगे, ये कई राहत वाले कई परेशानी बढ़ाने वाले

इसी हफ्ते 1 अप्रैल, 2021 से बैंकों से लेकर पोस्ट ऑफिस और पीएफ से लेकर आयकर तक ग्राहकों और आयकरदाताओं को कई नए नियमों और कई संशोधित नियमों को लागू किया जा रहा है। किसी में लोगों को राहत मिलेगी तो किसी में जेब पर असर पड़ेगा। कौन से ऑफिस में क्या बदलाव हो रहे हैं, जानिए इस रिपोर्ट में...

वेतन में होगा बड़ा बदलाव
देशभर में सभी वेतनभोगियों पर 1 अप्रैल से नया वेज कोड लागू होगा। इसके अनुसार मासिक वेतन का 50 फीसदी बेसिक वेतन होगा। यानी बेसिक सैलरी, महंगाई भत्ता और रिटेनिंग अलाउंस को मिलाकर मिलने वाली सैलरी आपकी कुल सैलरी का आधा होना चाहिए। इससे आपकी ईपीएफ ज्यादा कटेगा और आपकी टेकअवे सेलरी थोड़ी कम होगी। इससे ग्रेच्युटी थोड़ी अधिक मिलेगी।

कई बैंकों की चेकबुक बदलनी पड़ेगी
बीते वित्त वर्ष में सरकार ने कई सरकारी बैंकों का मर्जर किया है। पुराने बैंकों की चेकबुक बेकार हो जाएंगी। देना बैंक, विजया बैंक, कॉर्पोरेशन बैंक, आंध्रा बैंक, ओबीसी, यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया और इलाहाबाद बैंक की पुरानी पासबुक और चेकबुक 1 अप्रैल 2021 से बेकार हो जाएंगी। देना बैंक और विजया बैंक को बैंक ऑफ बड़ौदा के साथ मिला दिया गया है, ओबीसी और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया को पीएनबी के साथ मिला दिया गया है।

ईपीएफ में अधिक योगदान तो टैक्स लगेगा
ईपीएफ से मिलने वाले ब्याज पर टैक्स की घोषणा की गई थी। अब एक वित्त वर्ष में 2.5 लाख तक ईपीएफ में निवेश ही टैक्स फ्री होगा। इससे ज्यादा निवेश करने पर एडिशनल अमाउंट पर ब्याज से होने वाली कमाई पर टैक्स लगेगा। अगर आपने 3 लाख रुपए सालाना जमा किया है, तो 50 हजार रुपए पर ब्याज से जो कमाई होगी उस पर टैक्स स्लैब की दर से टैक्स लगेगा।

नॉन-सैलरीड हैं तो कटेगा अधिक टीडीएस
इसी 1 अप्रैल से फ्रीलांसर्स, टेक्निकल या अन्य कंसलटेंसी आदि से होने वाली आय पर अब 2.5 अधिक टैक्स कटेगा। अभी ऐसे लोगों को अपनी कमाई में से 7.5% बतौर टीडीएस कटता था, जो कि अब 10 फीसदी कटेगा। आयकर नियम (टैक्स डिडक्टेड एट सोर्स) 1 अप्रैल 2021 से बदल जाएगा। अगर कोई व्यक्ति आयकर रिटर्न (आईटीआर) दाखिल नहीं करता है, तो उस स्थिति में, बैंक जमा पर टीडीएस दर दोगुनी हो जाएगी।

आईटीआर में कई कॉलम पहले से भरे होंगे
इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की प्रकिया को आसान बनाने के लिए इंडिविजुअल टैक्सपेयर्स को अब 1 अप्रैल 2021 से प्री-फिल्ड आईटीआर फॉर्म उपलब्ध कराया जाएगा। वेतन के अलावा अन्य सोर्स से आय, जैसे डिविडेंड इनकम, कैपिटल गेन इनकम, एफडी और पोस्ट ऑफिस से ब्याज आय उसमें पहले से ही भरी होगी। अभी तक टैक्सपेयर्स को इसका अलग से कैलकुलेशन करना होता था।

75 साल से अधिक उम्र पर आईटीआर से छूट
अगर आपकी उम्र 75 साल से अधिक है तो 1 अप्रैल 2021 से आपको आईटीआर भरने की जरूरत नहीं है। यह छूट उन सीनियर सिटीजंस को दी गई है, जो पेंशन या फिर फिक्स्ड डिपॉजिट पर मिलने वाले ब्याज पर आश्रित हैं। बिजनेस से आय में उनको आईटीआर भरनी पड़ सकती है। सरकार की तरफ से कहा गया है कि बुजुर्गों की परेशानी कम करने के लिए ये कदम उठाया गया है।

पोस्ट ऑफिस अकाउंट में नए चार्जेज लगेंगे
इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक में खाता रखने वाले ग्राहकों को 1 अप्रैल 2021 से पैसे जमा करने या निकालने के अलावा आधार आधारित पेमेंट सिस्टम पर चार्ज देना होगा। यह चार्ज फ्री ट्रांजेक्शन लिमिट के खत्म होने के बाद लिया जाएगा। यानी अगर आपके ट्रांजेक्शन की फ्री लिमिट खत्म हो जाएगी, तभी यह चार्ज देना होगा। बचत खाते और चालू खाते से 25 हजार रुपए प्रति माह निकाले जा सकते हैं। इससे ऊपर पैसे जमा करने पर 25 रुपए प्रति ट्रांजेक्शन वसूला जाएगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें