पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एक साथ एक ही व्यक्ति दो जगह पर कैसे:हत्या का आरोपी वारदात के समय पुनर्वास केंद्र में मिला, कोर्ट ने जमानत मंजूर की

चंडीगढ़2 दिन पहलेलेखक: ललित कुमार
  • कॉपी लिंक

एक साथ एक ही व्यक्ति दो जगह पर कैसे हो सकता है। जालंधर के आदमपुर में हत्या के मामले में आरोपी तनवीर सिंह के साथ कुछ ऐसा ही हुआ। तनवीर वारदात के समय कपूरथला के काउंसलिंग व पुनर्वास केंद्र में भर्ती था। हाईकोर्ट ने इस पर तनवीर की गिरफ्तारी से बचने के लिए दायर अंतरिम अग्रिम जमानत याचिका को मंजूर कर लिया।

जस्टिस हरिंदर सिंह सिद्धू ने कहा कि आरोपी को इस मामले में गिरफ्तार किया जाता है तो उसे अंतरिम अग्रिम जमानत पर रिहा किया जाए। आदमपुर सबडिवीजन के डीएसपी हरिंदर सिंह ने हाईकोर्ट में एफिडेविट दायर कर कहा कि जांच अधिकारी ने कपूरथला के दयालपुरा स्थित काउंसलिंग व पुनर्वास केंद्र का दौरा किया तो पाया कि आरोपी 21 नवंबर 2020 से 9 दिसंबर 2020 तक वहां भर्ती था। सीसीटीवी फुटेज भी इस बात को साबित कर रही है।

यह था मामला: सुनील कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में कहा कि 25 नवंबर 2020 को वह अपने दोस्त सागर के साथ सैलून गया था। सागर सैलून में बाल कटवा रहा था जबकि वह दुकान के बाहर खड़ा था, इसी दौरान तीन लोग सैलून में घुसे और उन्होंने सागर पर गोली चलाई। इन 3 लोगों में सिमर, शिपा और तनवीर शामिल थे जिन्हें शिकायतकर्ता ने पहचानने का दावा किया।
शिकायतकर्ता ने कहा कि सिमर ने उसे दुकान के बाहर देख लिया जिस पर वह ट्रक यूनियन की तरफ भागा। एक गोली उस पर भी चलाई गई जो उसका बाया कंधा चीरते हुए निकल गई। इसके बाद उसे आदमपुर के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। सागर की मौत हो गई जबकि सलून में मौजूद एक अन्य व्यक्ति अकृत सिंह घायल हो गया था। पुलिस ने शिकायत पर 25 नवंबर को हत्या और आर्म्स एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज कर ली थी।

खबरें और भी हैं...