हरियाणा में 1 दिन में कोरोना से 6 की मौत:8841 नए केस आए सामने, इस माह में अब तक 27 मौतें, एक्टिव केस 41420

चंडीगढ़7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की मीटिंग लेते हुए अनिल विज। - Dainik Bhaskar
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की मीटिंग लेते हुए अनिल विज।

हरियाणा में शुक्रवार को कोरोना संक्रमित 6 लोगों की मौत हो गई है। गुरुग्राम में 2, सिरसा में 1, यमुनानगर में 1,महेंद्रगढ़ में 1 और फतेहाबाद में 1 व्यक्ति की मौत हुई। इससे पहले 10 जनवरी को 5 लोगों की मौत हुई थी। इस माह में अब तक कुल 27 लोगों की मौत हो चुकी है। प्रदेश में अब तक कुल 10091 लोगों की मौत हो गई। इसके साथ शुक्रवार को कोरोना के 8841 नए केस सामने आए। राज्य में अब कुल 41420 केस एक्टिव हैं।

8841 नए केस

गुरुग्राम में 3897, फरीदाबाद में 1106, हिसार में 178, सोनीपत में 512, करनाल में 607, पानीपत में 217, पंचकूला में 441, अंबाला में 508, सिरसा में 94, रोहतक में 204, यमुनानगर में 168, भिवानी में 114, कुरुक्षेत्र में 148, महेंद्रगढ़ में 52, जींद में 103, रेवाड़ी में 91, झज्जर में 166, फतेहाबाद में 92, कैथल में 59, पलवल में 28, चरखी दादरी में 41 और नूंह में 51 कोरोना केस सामने आए।

हर जिले में दो नोडल अधिकारी नियुक्त

शुक्रवार को स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की मीटिंग ली। विज ने कहा कि राज्य के प्रत्येक जिले के लिए दो नोडल अधिकारियों को नियुक्त किया जाएगा, जिसमें एक अधिकारी हर जिले के सरकारी अस्पताल की व्यवस्थाओं की निगरानी करेगा और उसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगा। इसी प्रकार दूसरा नोडल अधिकारी संबंधित जिले के निजी अस्पतालों की निगरानी करेगा और वहां पर मौजूद व्यवस्थाओं की जानकारी राज्य सरकार को उपलब्ध कराएगा। इसके अलावा हरियाणा में टेलीमेडिसिन को प्रभावशाली बनाया जाएगा और इसके लिए 1075 पर स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को ड्यूटी पर लगाया जाएगा।

जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए 1500 किट का ऑर्डर दिया

विज ने कहा कि जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए एचएमसीएल को 1500 किट का ऑर्डर दे दिया गया है। यह 1500 किट तीन चरण में राज्य सरकार को मुहैया करवाई जाएंगी। एक किट से 96 सैंपल किए जा सकते हैं।

राज्य में मैपिंग होगी

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं से संबंधित इंफ्रास्ट्रक्चर तथा उपकरण के अलावा अन्य सुविधाओं के लिए जल्द ही राज्य में एक सर्वे/ मैपिंग करवाई जाएगी कि किस किस क्षेत्र में कहां-कहां किन-किन इंफ्रास्ट्रक्चर और मेडिकल उपकरणों के साथ-साथ सेवाओं की आवश्यकता है। उसी हिसाब से आने वाले समय में इंफ्रास्ट्रक्चर, मेडिकल उपकरण के साथ-साथ मैनपावर को उपलब्ध उन क्षेत्रों में करवाया जाएगा।

होम आइसोलेशन की किट भेजी जाएगी

होम आइसोलेशन की किट को मुख्यालय स्तर पर तैयार किया जाएगा और इन किट को जल्द ही जिलों में भिजवाया जाएगा। ताकि होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों को यह किट समयबद्ध निर्धारित तरीके से उपलब्ध करवाई जा सके। विज ने कहा कि वर्तमान में स्वास्थ्य विभाग के पास अभी संबंधित सभी पर्याप्त दवाइयां व इंफ्रास्ट्रक्चर है।

स्कूल खुलने पर बिना डोज वाले बच्चों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि 15 से 18 साल के बीच बच्चे जल्द से जल्द अपनी कोविड डोज लगवाएं। जब स्कूल खुलेंगे तो डोज़ ना लगवाने वाले बच्चे को स्कूल में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। इसलिए वह अनुरोध करते हैं कि वह जल्द से जल्द अपनी कोविड की वैक्सीन लगवा लें।

हरियाणा में टेलीमेडिसिन को प्रभावशाली बनाया जाएगा

विज ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों की प्रतिदिन निगरानी की जानी चाहिए और उन्हें टेलीमेडिसिन के माध्यम से जानकारी मुहैया करवाई जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि हरियाणा में टेलीमेडिसिन को प्रभावशाली बनाया जाएगा और इसके लिए 1075 पर स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को ड्यूटी पर लगाया जाएगा ताकि वे रोजाना ईसंजीवनी पर विजिट करके टेलीमेडिसिन को प्रभावशाली रूप दे सकें। वर्तमान में होम आइसोलेशन के अंदर हरियाणा में लगभग 30000 मरीज हैं।

जनवरी महीने में 27 मौतें

दिन मौत

14 जनवरी 6

13 जनवरी 2

12 जनवरी 3

11 जनवरी 3

10 जनवरी 5

9 जनवरी 0

8 जनवरी 2

7 जनवरी 3

6 जनवरी 1

5 जनवरी 0

4 जनवरी 2

3 जनवरी 0

2 जनवरी 0

1 जनवरी 0

खबरें और भी हैं...