पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ओवरचार्जिंग मामला:चार अस्पतालों को दिए नोटिस, सेल्फ ऑडिट रिपोर्ट नहीं दी

चंडीगढ़2 महीने पहलेलेखक: संदीप कौशिक
  • कॉपी लिंक
  • कितनों को रिफंड किया, कितनी ओवरचार्जिंग निकली, यह बताना होगा
  • विंग्स अस्पताल के बिलों में पाई गई गडबड़ी, मरीज और अस्पताल के बिल में था भारी अंतर

कोरोना काल में प्राइवेट अस्पतालों की ओर से कोरोना मरीजों से की ओवरचार्जिंग के मामले में मंगलवार को मीटिंग हुई। जांच कमेटी के अलावा प्रशासनिक अधिकारियों ने सेल्फ ऑडिट रिपोर्ट के अलावा पेंडिंग पड़े मरीजों के चेक के बारे में रिव्यू किया। पता चला कि प्राइवेट अस्पतालों की ओर से अभी तक कोविड के मरीजों के साथ हुई ओवरचार्जिंग के मामले में सेल्फ ऑडिट कर रिपोर्ट सबमिट नहीं करवाई गई है।

अब कमेटी की ओर से 4 प्राइवेट अस्पतालों को नोटिस भेजे गए हैं। रिपोर्ट मांगी कि अब तक उन्होंने कितने बिल का खुद सेल्स ऑडिट किया है और कितनी ओवरचार्जिंग निकली है, कितनों को रिफंड किया गया है। अस्पतालों को रिपोर्ट जल्द से जल्द सौंपने को कहा गया है।

ओवरचार्जिंग मामलों में यह भी सामने आया कि मरीजों ने जो बिल जांच कमेटी को दिए वही बिल अस्पताल की ओर से कम अमाउंट के दिए गए। अभी तक कुल 3 ऐसे बिल जांच कमेटी को मिले हैं और सभी बिल अस्पताल के ही हैं।

इसमें जब शिकायतकर्ता की ओर से अस्पताल की ओर से उन्हें दिए गए बिल कमेटी को दिए गए तो अस्पताल से भी मरीजों के बिल मंगवाए गए थे। जब उनकी जांच हुई तब इस बात का खुलासा हुआ कि अस्पताल और मरीज के पास जो बिल हैं, उनमें काफी अंतर मिला है। कमेटी की ओर से विंग्स अस्पताल से इस बारे में जवाब भी मांगा गया था।

तीन मरीजों को मिलेंगे 3.33 लाख

जांच कमेटी के पास विंग्स हॉस्पिटल में 3 मरीजों के ओवरचार्ज हुई रकम वापस करने के लिए चेक दिए हैं। 3 मरीजों को कुल 3 लाख 33 हजार रुपए के चेक दिए जाएंगे। इसमें जितेंद्र मंडल नाम के मरीज को 25 हजार रुपए, राजेश सिंह रावत को 1 लाख 26 हजार 500 रुपए का चेक और सावित्री रावत को 1 लाख 81 हजार 561 रुपए का चेक वापस किया जाएगा। ये सभी बिल सेक्टर 25 के विंग्स अस्पताल के हैं।

प्राइवेट अस्पतालों की ओर से ओवरचार्जिंग करने के मामले में मंगलवार को मीटिंग हुई है। कुछ बिल ऐसे हैं जिनकी जांच करने पर अस्पताल की ओर से दिए बिल और मरीज के बिल के अमाउंट का फर्क है। कमेटी ने सभी प्राइवेट हॉस्पिटल को सेल्फ ऑडिट करने के लिए भी कहा था।

किसी भी प्राइवेट हॉस्पिटल ने सेल्फ ऑडिट कर रिपोर्ट नहीं सबमिट की है। अब सभी को नोटिस दिया गया है और जल्द सेल्फ ऑडिट कर बिल जमा करवाने को कहा गया है।
-बीबी सिंघल, मेंबर, जांच कमेटी, हरियाणा स्टेट फार्मेसी काउंसिल

खबरें और भी हैं...