चंडीगढ़: लॉकडाउन-4 का 6वां दिन / पंचकूला के पॉजिटिव मरीज का घर में ताले लगा परिवार भागा,केवल लड़का मिला उसे भेजा सेंटर

X

  • बापूधाम कॉलोनी में आज सुबह आए 2 कोराेना पॉजिटिव मरीज,संख्या पहुंची 222
  • दिल्ली में इलाज करवाने गए व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद से वह पुलिस व सेहत विभाग को नहीं मिला

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 11:42 AM IST

चंडीगढ़. शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ते जा रही है। ऐसे में आज भी शहर के सबसे प्रभावित बापूधाम कॉलोनी में दो पॉजिटिव मरीज मिले। जिन्हें सेक्टर-16 के अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। अब शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 222 हो गई है।


पंचकूला का पॉजिटिव मरीज सेहत व पुलिस विभाग के हाथ नहीं आया

 

सेक्टर-2 में पिछले 3 दिन पहले एक करोना संक्रमण का पॉजिटिव मरीज सामने आया था। जिसे सेहत व पुलिस विभाग ट्रेस नहीं कर पाया है। सेहत और पुलिस की टीमें उस घर पर जाकर परिवार वालों से पूछताछ कर रही थी, जो पुख्ता जवाब नहीं दे रहे थे। आज संक्रमित व्यक्ति का पूरा परिवार घर में ताले लगा कर गायब हो गया है। शनिवार को सुबह जब हेल्थ डिपार्टमेंट और पुलिस की टीम ने घर की दोबारा से तलाशी ली तो वहां पर सिर्फ पुनीत भारद्वाज का बेटा ही था जबकि घर के अंदर जितने भी कमरे थे उनमें ताले लगे पड़े मिले। पुलिस की जांच में हरियाणा और यूपी के जिलों की लोकेशन सामने आई है जिसमें फरीदाबाद के अलावा गाजियाबाद कि लोकेशन पर जांच की जा रही है। शनिवार को जब परिवार का कोई भी नंबर नहीं मिला तो सेक्टर-2 में रह रहे पुनीत भारद्वाज के 28 साल के बेटे रामानुज और सेक्टर-6 में रोहित भारद्वाज के पिता आर आर भारद्वाज को अस्पताल में एडमिट किया गया।

बेटे ने किया था डॉक्टरों को फोन, बताया था घर में मेंबरों की है तबीयत खराब

स्वास्थ्य विभाग को पुनीत भारद्वाज के परिवार की ओर से बेटे ने बताया था कि उनके फैमिली मेंबर में सिम्टम्स आए हुए हैं। जिसके बाद ही विभाग की ओर से डॉक्टरों की टीम उनके घर पर भेजी थी। यहां पर जो मेंबर मिला उनके टेंपरेचर नोट किए गए, बाकी जब दूसरे मेंबरों को बुलाया गया तब लगा पता कि यहां पर बाकी मेंबर घर पर है ही नहीं। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई और मौके पर एसएचओ सेक्टर-5 ललित कुमार और सेक्टर-2 पुलिस चौकी इंचार्ज मलकीत भी पहुंचे।

पुलिस पहुंची घर पर तो अंदर से घर के दरवाजे कर लिए बंद

हेल्थ डिपार्टमेंट की टीमें सेक्टर-2 में सुबह 6:30 बजे से ही तैनात कर दी गई थी। इसके बाद जब टीम की ओर से परिवार के मैंबरों को बुलाया गया, तब घर से कोई भी बाहर नहीं निकला और दरवाजे अंदर से ही बंद कर लिए थे। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। जब पुलिस मौके पर पहुंची तब पुनीत भारद्वाज के बेटे को घर से बुलाए गया। इसके बाद रामानुज का टेंपरेचर भी चेक किया गया था और बाद में एंबुलेंस से हॉस्पिटल में एडमिट कर लिया गया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना