फीस वसूली / पेरेंट्स काे झटका, स्कूलों को राहत, पंजाब के प्राइवेट स्कूल एडमिशन- ट्यूशन फीस ले सकते हैं: हाईकोर्ट

Parental shock, relief to schools, private schools in Punjab can take admission - tuition fees: High court
X
Parental shock, relief to schools, private schools in Punjab can take admission - tuition fees: High court

  • कोर्ट ने कहा- स्कूल अपना एक्चुअल एक्सपेंडिचर दिखाएं और फीस वसूलें

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 06:22 AM IST

चंडीगढ़. पंजाब के प्राइवेट स्कूलों द्वारा फीस वसूलने की मांग को लेकर दाखिल अलग-अलग याचिकाओं पर मंगलवार को पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। जस्टिस निर्मलजीत कौर ने प्राइवेट स्कूलों को राहत देते कहा कि भले ही स्कूल ऑनलाइन क्लास दे रहे हैं या नहीं, वे ट्यूशन फीस व एडमिशन फीस वसूल सकते हैं। पेरेंट्स की तरफ से पेश वकील आरएस बैंस ने कहा कि हाईकोर्ट ने फैसला स्कूलों के पक्ष में सुनाया है। उनको हालात समझने चाहिए थे। उन्होंने कहा कि सिंगल बेंच के फैसले को हाईकोर्ट की डबल बेंच पर चुनौती दी जाएगी।
आदेश: 2019-20 के अनुसार ही फीस वसूलें
जस्टिस निर्मलजीत कौर ने फैसला देते हुए कहा कि पंजाब के प्राइवेट स्कूल 2019-20 के फीस स्ट्रक्चर के अनुसार ही फीस वसूल सकेंगे।

  • पेरेंट्स के लिए कहा

फीस नहीं दे सकते तो स्कूल को प्रूफ दें 

हाईकोर्ट ने कहा कि यदि कोई अभिभावक फीस नहीं दे सकते तो वो अलग से एप्लीकेशन स्कूल को दे सकते हैं जिसमें उनको अपने फाइनेंशियल स्टेटस का प्रूफ देना होगा। इसके बाद स्कूल सहानुभूति से ऐसे मामलों पर विचार करें।

  • स्कूलों के लिए कहा

फाइनेंशियल क्रंच है तो डीईओ के पास जाएं

कोर्ट ने कहा है कि अगर कोई स्कूल फाइनेंशियल क्रंच से गुजर रहा है तो वह डिस्ट्रिक्ट एजुकेशन ऑफिसर को प्रूफ के साथ अपनी रिप्रेजेंटेशन दे। जिस पर 3 हफ्तों में फैसला करना होगा।

चंडीगढ़ के मामले की सुनवाई आज होगी
हाईकोर्ट ने चंडीगढ़ की इंडिपेंडेंट स्कूल्स एसोसिएशन की याचिका पर संज्ञान लेते हुए चंडीगढ़ प्रशासन से जवाब तलब किया और इसकी सुनवाई एक जुलाई बुधवार को होनी वाली है। दूसरी ओर हरियाणा के प्राइवेट स्कूलों की एसोसिएशन को तुरंत राहत देने से इनकार करते हुए हाईकोर्ट ने याचिका की सुनवाई 7 सितंबर तक टाल दी।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना