पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लाॅरेंस केस:गैंगस्टर लाॅरेंस के प्रोडक्शन वारंट के लिए पहली बार सुप्रीम कोर्ट तक पहुंची पुलिस

चंडीगढ़11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
एसएसपी - Dainik Bhaskar
एसएसपी
  • एसएसपी कुलदीप के आने के बाद से लाॅरेंस चंडीगढ़ आने से डर रहा

जेल के अंदर रहते हुए भी कई कत्ल करवाने वाला गैंगस्टर लाॅरेंस बिश्नोई अब यूटी पुलिस में एसएसपी कुलदीप चहल के आने के बाद से चंडीगढ़ पुलिस के प्रोडक्शन वाॅरंट पर आने से भी घबरा रहा है। पिछली बार रिमांड पर आकर यूटी पुलिस को आंखें दिखाने वाला लाॅरेंस अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुका है। कह रहा है कि उसे डर है कि चंडीगढ़ पुलिस उसका फेक एनकाउंटर कर देगी।

वहीं, चंडीगढ़ पुलिस भी उसे हर हाल में गिरफ्त में लेने के लिए बेकरार है। पहली बार किसी अपराधी का प्रोडक्शन वाॅरंट हासिल करने के लिए एसएसपी कुलदीप सिंह चहल की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में जवाब जा रहा है कि लाॅरेंस चार केसों में वांटेड है और सभी बड़े आपराधिक केस हैं। उससे पूछताछ बहुत जरूरी है। लॉरेंस अभी राजस्थान की जेल में है।

सितंबर महीने तक चार बड़े आपराधिक केसों में इन्वॉल्वमेंट आने के बावजूद लाॅरेंस बिश्नोई को प्रोडक्शन वारंट पर लाने से खुद यूटी पुलिस कतरा रही थी। लेकिन अब लाॅरेंस किसी भी हालत में चंडीगढ़ पुलिस के रिमांड पर आने से डर रहा है। इसके लिए वह अलग-अलग तरह के पैंतरे आजमा रहा है। वह पहले हाईकोर्ट गया। कहा कि उसका एनकाउंटर हो सकता है।

इस पर हाईकोर्ट ने लाॅरेंस की याचिका खारिज कर दी। कहा कि यूटी पुलिस के डीआईजी ओमबीर सिंह लाॅरेंस को राजस्थान जेल से प्रोडक्शन वाॅरंट पर लाने का सारा काम देखेंगे। लाॅरेंस को कम से कम 20 पुलिस वाले लाएंगे। इसमें एक डीएसपी, दो इंस्पेक्टर और 17 अन्य कर्मी होंगे। लाॅरेंस को लाने व ले जाने तक हर मूवमेंट की वीडियोग्राफी होगी।

इसके बावजूद लाॅरेंस का डर खत्म नहीं हुआ और प्रोडक्शन वारंट के खिलाफ वह सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया। सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के आदेशों को स्टे लगा दी और चंडीगढ़ पुलिस को 22 मार्च तक जवाब दायर करने के लिए कहा। अब उसे रिमांड पर लेने के लिए यूटी पुलिस सुप्रीम कोर्ट पहुंच रही है। पुलिस ने लाॅरेंस से दो फिरौती के केसों के अलावा शराब ठेकेदार के घर पर गोली चलाने के मामले में पूछताछ करनी है।

लाॅरेंस के गुर्गों को पकड़ नेटवर्क खत्म करना मकसद...
पुलिस का मकसद लाॅरेंस के खौफ को खत्म करना है। लॉरेंस ने चंडीगढ़ में प्रोटेक्शन मनी यानि फिरौती का धंधा जमा रखा है। पुलिस इसे जड़ से खत्म करना चाहती है। पुलिस लॉरेंस से उसके गुर्गों का नाम हासिल करना चाहती है, ताकि इन्हें भी पकड़ा जा सके।

साथियों की करनी है पहचान...
शहर में गैंगस्टर्स ने जो फिरौती का धंधा जमा रखा था, उसे तोड़ना मकसद था। इसे लगभग खत्म कर दिया गया है। लाॅरेंस का सारा नेटवर्क खंगाला जा रहा है, इसलिए ही हम उसका प्रोडक्शन वारंट हासिल करने के लिए सुप्रीम कोर्ट जा रहे हैं। पता करना है कि जेल में रहकर वह कैसे पूरा नेटवर्क चला रहा है? उसके साथी कौन-काैन हैं?
कुलदीप सिंह चहल, एसएसपी यूटी

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी विशिष्ट कार्य को पूरा करने में आपकी मेहनत आज कामयाब होगी। समय में सकारात्मक परिवर्तन आ रहा है। घर और समाज में भी आपके योगदान व काम की सराहना होगी। नेगेटिव- किसी नजदीकी संबंधी की वजह स...

    और पढ़ें