पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पीयू की मंजूरी:पीयू ने हॉस्टल खोलने पर दे दी सहमति, सुपरवाइजर की मंजूरी से आ सकते हैं कैंपस

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • सेक्टर 25 के रिसर्च स्कॉलर्स को सेक्टर-14 में किया जाएगा एडजस्ट

पीयू में अब किसी भी स्ट्रीम का रिसर्च स्कॉलर अपने गाइड की मंजूरी के साथ हॉस्टल में रह सकता है। पीयू ने मंजूरी दे दी है। ये इजाजत अब भी चुनिंदा लोगों को ही दी गई है। फाइनल ईयर के स्टूडेंट्स, साइंसेज, इंजीनियरिंग और प्रोफेशनल कोर्सेज के पीजी स्टूडेंट्स को लेकर कोई फैसला नहीं हुआ है। सेक्टर-25 के हॉस्टलों में रहने वाले रिसर्च स्कॉलर्स को सेक्टर-14 में एडजस्ट किया जाएगा।

सेक्टर-25 में इंटरनेशनल हॉस्टल समेत तीन हॉस्टल अभी तक प्रशासन के पास कोविड केयर सेंटर के लिए रिजर्व हैं। हॉस्टल में रहने की मंजूरी सिर्फ उन स्टूडेंट्स को दी है, जिनका लैब का काम अधूरा है और रजिस्ट्रेशन को 2 साल हो चुके हैं।

डीन स्टूडेंट्स वेलफेयर वुमन प्रो. सुखबीर कौर के अनुसार जो स्टूडेंट्स 2019-20 के सेशन में हॉस्टल में थे, वे अपने सुपरवाइजर की मंजूरी से रह सकते हैं। जिनकी पीएचडी को पांच साल हो चुके हैं, उन्हें डेली चार्जेज पर ही हॉस्टल अलॉट किए हैं।

स्टूडेंट्स के लिए ये रहेंगी पीयू की शर्तें

  • हॉस्टल जॉइन करने वाले हफ्ते के अंदर ही स्टूडेंट्स को कोविड -19 का टेस्ट कराना जरूरी होगा
  • स्टूडेंट्स अपने डिपार्टमेंट के चेयरपर्सन के जरिए ये अंडरटेकिंग देगा कि वह हॉस्टल में स्टैंडर्ड ऑप्रेटिव प्रोसेस को पूरा करेंगे और ये वार्डन को सब्मिट की जाएगी
  • सभी रेजिडेंट्स को एसओपी हॉस्टल में उपलब्ध कराई जाएंगी, जिसे उन्हें सख्ती से मानना होगा
  • खाना स्टूडेंट्स को टिफिन या लंच बॉक्स के जरिए कैश पेमेंट के आधार पर सर्व किया जाएगा। रेजिडेंट्स को राय दी गई है कि प्रिकॉशन के तौर पर वह दो टिफिन रखें
  • फिलहाल के लिए किसी भी तरह विजिटर्स या गेस्ट की मंजूरी नहीं होगी। कोई भी हॉस्टल नहीं आ सकता
  • जो भी कैंटीन या मेस खुली होंगी, रेजिडेंट्स को खुद अपना टिफिन वहां से लेना होगा
  • फिलहाल बार्बर शॉप, ब्यूटी पार्लर, टेलर, टक शॉप, वाॅशर मैन या वाॅशर वुमन की फेसिलिटी अगले आदेश तक बंद रहेगी

रिसर्च स्कॉलर्स एसोसिएशन ने किया प्रोटेस्ट किया, मांगों पर लिखित आश्वासन नहीं मिला
चंडीगढ़. पंजाब यूनिवर्सिटी रिसर्च स्कॉलर्स एसोसिएशन (पुरसा) ने बुधवार को वीसी ऑफिस के बाहर प्रोटेस्ट किया। इसके बाद एक मीटिंग हुई, जिसमें स्टूडेंट्स को आश्वासन तो दिया गया, लेकिन लिखित आदेश में मांगों का कोई जिक्र नहीं है। पुरसा का आरोप था कि सभी यूनिवर्सिटीज और इंस्टीट्यूट्स में स्टूडेंट्स लगातार काम कर रहे हैं, लेकिन पीयू में कई बार प्रोटेस्ट के बाद भी सुनवाई नहीं हो रही।

पिछली मीटिंग में यूनिवर्सिटी ने 15 दिन का समय मांगा था। दो महीने बाद भी कोई फैसला नहीं हो सका है। प्रोटेस्ट के बाद डीन रिसर्च प्रो. वीआर सिन्हा ने डीएसडब्ल्यू वुमन प्रो. सुखबीर कौर और लाइब्रेरियन के साथ पुरसा मेंबर्स से मीटिंग भी की, जिसमें उन्हें ये आश्वासन दिया गया है।

पीयू ने ये दिए आश्वासन

  • पांच साल पूरे कर चुके रिसर्च स्कॉलर्स को भी हॉस्टल में जगह दी जाएगी। हालांकि आधिकारिक आदेश के दौरान इसमें गेस्ट चार्जेज की शर्त रखी गई है
  • सिनोपसिस जमा कराने की डेट बिना लेट फीस के जून 2021 तक बढ़ा दी जाएगी। इसके लिए हर छह महीने में एक्सटेंशन लेनी पड़ती है और जुर्माना भी है
  • तीन साल वाले साइंस और ह्यूमैनिटीज के रिसर्च स्कॉलर्स के साथ ही एमफिल के स्टूडेंट्स को भी हॉस्टल में जगह दी जाएगी।
  • रिसर्च स्कॉलर्स इमरजेंसी की सूरत में लाइब्रेरी को एक्सेस कर सकते हैं, यानि जब भी उनकी अपनी रिसर्च के लिए जरूरत होगी।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें