• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Punjab Election 2022, Punjab CM Charanjit Channi Accused The Governor, Stopped The File Of Giving Permanent Jobs To The Employees

पंजाब में मुख्यमंत्री Vs गवर्नर:CM बोले- BJP के दबाव में 36 हजार कर्मचारियों को पक्का करने की फाइल रोकी; कैबिनेट समेत धरने की चेतावनी

चंडीगढ़9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब में सरकार और गवर्नर के बीच ठनती नजर आ रही हैं। CM चरणजीत चन्नी ने शनिवार को चंडीगढ़ में कहा कि गवर्नर ने 36 हजार कर्मचारियों को पक्का करने की फाइल रोक ली है। 2 बार उनके चीफ सेक्रेटरी और एक बार वह कैबिनेट के साथ जाकर इसे क्लियर करने को कह चुके हैं। इसके बावजूद भाजपा के दबाव में फाइल रोकी गई है।

सीएम चन्नी ने कहा कि अब सोमवार को पूरी कैबिनेट फिर गवर्नर से मिलने जाएगी। अगर तब भी फाइल क्लियर न हुई तो फिर वह कैबिनेट के साथ धरना देंगे। सीएम ने कहा कि पहले मुझे लगता था कि गवर्नर व्यस्त हैं। हालांकि अब लगता है कि राजनीतिक कारणों की वजह से फाइल रोकी गई है। उनका फर्ज है कि अगर सरकार ने कानून बना दिया तो उसे समय पर क्लियर करें।

CM चन्नी ने कहा कि वह पहले ही सिद्धू के साथ मिलकर काम करने की बात कह चुके हैं
CM चन्नी ने कहा कि वह पहले ही सिद्धू के साथ मिलकर काम करने की बात कह चुके हैं

सिद्धू पर सवाल सुनकर कहा - कोई और बात कर लो

पंजाब में सरकार के खिलाफ बयानबाजी कर रहे पार्टी प्रधान नवजोत सिद्धू के सवाल पर सीएम चन्नी ने कहा कि मैं पार्टी का वफादार सिपाही हूं। अपनी ड्यूटी तनदेही से निभा रहा हूं। मैंने सिद्धू को कह दिया है कि मैं मिलकर काम करने को तैयार हूं और कर भी रहा हूं। पार्टी ने सरकार को ऊपर उठाना होता है। मैं अपनी तरफ से पार्टी के लिए हर कुर्बानी करने को तैयार हूं। उन्होंने फिर इस बारे में पूछे जाने पर हंसते हुए कहा कि कोई और बात कर लो।

प्रेस कान्फ्रेंस में बोलते CM चरणजीत चन्नी।
प्रेस कान्फ्रेंस में बोलते CM चरणजीत चन्नी।

100 दिन में 100 काम गिनवाए

पंजाब चुनाव से पहले सीएम चरणजीत चन्नी ने रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए पिछले 100 दिन में किए 100 काम गिनाए। चंडीगढ़ में प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान सीएम ने महंगे बिजली समझौते रद्द करने, 2 किलोवाट तक 20 लाख परिवारों के पुराने बिजली बिल माफ करने, रेत सस्ती करने, शहरों और गांवों में पानी की टंकियों के बिल माफ करने की उपलब्धियां गिनाई। इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि पंजाब में सिर्फ पंजाबी को नौकरी मिले, ऐसा कानून बनाने में संवैधानिक अड़चन थी। इसलिए अब यह कानून बना दिया है कि जिसने 10वीं में पंजाबी पास की हो, उसे ही पंजाब में सरकारी नौकरी मिलेगी।

I Card पर मुफ्त सफर कर सकेंगे स्टूडेंट्स
सीएम चन्नी ने कहा कि सरकारी बसों में प्राइवेट और सरकारी कॉलेज-यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स के लिए मुफ्त सफर होगा। जब तक उनके पास नहीं बनते, वह अपना I Card दिखाकर मुफ्त सफर कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि 31 मार्च तक यह राहत रहेगी। तब तक उन्हें पास बनवाना होगा। आई कार्ड को मुफ्त बस सफर के लिए मंजूरी रहे, इसके लिए नोटिफिकेशन में ही इस बात का जिक्र कर रहे हैं।

गिद्दड़बाहा में बनेगा किसान स्मारक

सीएम चन्नी ने कहा कि गिद्दड़बाहा में 5 एकड़ में किसान स्मारक बनेगा। यह स्मारक दिल्ली बॉर्डर पर कृषि कानूनों के विरोध में मरे किसानों की याद में बनेगा।

ड्रग्स केस में मजीठिया पर निशाना, बेअदबी में कानून की दुहाई

नशे के खिलाफ निर्णायक जंग लड़ रहे हैं। उन्होंने अकाली नेता बिक्रम मजीठिया का नाम लिए बगैर कहा कि नशे के मामले में बड़ी मछलियों को भागने नहीं देंगे। सरकार नशे को खत्म करके ही रहेगी। वहीं, फरीदकोट बेअदबी केस में सीएम ने कानून की दुहाई देते हुए कहा कि इस बारे में एसआईटी तेजी से काम कर रही है। बाबा राम रहीम सही जवाब नहीं दे रहा। उसके लिए एसआईटी ने हाईकोर्ट में राम रहीम की कस्टडी की मांग की है।

केबल पर बोले- सिद्धू का बनाया कानून 'अप टू मार्क' नहीं

सिद्धू ने कानून बनाया था लेकिन वह अप टू मार्क नहीं है। केबल का 100 रुपए कहा था लेकिन यह केंद्र का अधिकार है। इसके बारे में अब विचार कर रहे हैं। इससे पहले सिद्धू भी CM चन्नी पर हमला करते रहे कि क्या लोगों को 100 रुपए प्रति महीने केबल मिल रहा है?।

अमृतसर में बेअदबी करने वाले इस आरोपी की अभी तक शिनाख्त नहीं हो सकी
अमृतसर में बेअदबी करने वाले इस आरोपी की अभी तक शिनाख्त नहीं हो सकी

अमृतसर बेअदबी में SGPC जांच कर रही

अमृतसर स्थित श्री दरबार साहिब में बेअदबी के मामले पर सीएम चन्नी ने कहा कि इसकी जांच शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SGPC) कर रही है। यह सिखों से जुड़ा मसला है, इसलिए हम SGPC से बाहर नहीं जाना चाहते। एसजीपीसी की एसआईटी बनी है, वह भी जांच कर रहे हैं। सरकार पूरी तरह से उनके साथ है।

कैप्टन के सलाहकार-OSD पर हो रहा था खर्चा
सीएम चन्नी ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ दूसरे मुख्यमंत्रियों के साथ सलाहकारों, OSD समेत कई पदाधिकारियों की फौज रहती थी। जिन्हें गनमैन-गाड़ियां जैसी कई सुविधाएं दी गई थी। मेरा कोई सलाहकार या पीए तक नहीं हैं। मैं खुद ही सब काम करता हूं। सीएम चन्नी ने उम्र को लेकर भी तंज कसा कि वह 80 साल की उम्र को पार कर चुके हैं।

खबरें और भी हैं...