• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Punjab Congress President Navjot Singh Sidhu Advisor Controversial Video Viral | Punjab Election 2022

सिद्धू के सलाहकार के बिगड़े बोल:पूर्व DGP मुस्तफा बोले- हमारे जलसे के बराबर हिंदुओं को इजाजत दी तो ऐसे हालात बना दूंगा कि संभाल नहीं पाओगे

चंडीगढ़5 महीने पहले

पंजाब में कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू के रणनीतिक सलाहकार पूर्व DGP मुहम्मद मुस्तफा का विवादित वीडियो सामने आया है। जिसमें वह कह रहे हैं कि अगर हिंदुओं को उनके जलसे के बराबर इजाजत दी तो ऐसे हालात पैदा कर दूंगा कि संभालना मुश्किल हो जाएगा।

यह वीडियो मालेरकोटला का है। जहां से मुस्तफा की पंजाब सरकार में मंत्री पत्नी रजिया सुल्ताना कांग्रेस कैंडिडेट के तौर पर चुनाव लड़ रही हैं। मुस्तफा उन्हीं के लिए प्रचार करने गए थे। जिस दौरान यह बातें कही गईं। भाजपा ने मुस्तफा के बयान पर कहा कि यह दंगे भड़काने की साजिश है।

पूर्व डीजीपी बोले- अल्लाह की कसम जलसा नहीं होने दूंगा
वीडियो में पूर्व डीजीपी मुहम्मद मुस्तफा कहते दिख रहे हैं, 'मैं अल्लाह की कसम खाकर कहता हूं, कि इनका कोई जलसा नहीं होने दूंगा। मैं कौमी फौजी हूं। मैं आरएसएस का एजेंट नहीं हूं, जो डर कर घर में घुस जाऊंगा। अगर दोबारा इन्होंने ऐसी हरकत की तो खुदा की कसम घर में घुसकर मारूंगा। आज मैं सिर्फ वार्निंग दे रहा हूं। मैं वोटों के लिए नहीं लड़ रहा। मैं कौम के लिए लड़ रहा हूं। मैं पुलिस और प्रशासन को बताना चाहता हूं कि अगर दोबारा ऐसी हरकत की, मेरे जलसे के बराबर में हिंदुओं को इजाजत दी तो ऐसे हालात पैदा करूंगा कि संभालने मुश्किल हो जाएंगे।'

भाजपा ने साधा निशाना
भाजपा की राष्ट्रीय प्रवक्ता शाजिया इल्मी ने वीडियो ट्वीट करते हुए कहा कि यह हेट स्पीच है। जो मुस्तफा ने मालेरकोटला के मुस्लिम बाहुल्य वाले इलाके में दी है। मुस्तफा दंगे भड़काकर सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने चुनाव आयोग से मांग की कि इसका संज्ञान लें और रजिया सुल्ताना को मालेरकोटला में चुनाव लड़ने से रोकें।

मुस्तफा की बातें सुनकर जोश में नारे लगाती भीड़।
मुस्तफा की बातें सुनकर जोश में नारे लगाती भीड़।

हिंदुओं की नहीं हिंदुत्ववादी ताकतों की बात की : मुस्तफा
इस बारे में मुहम्मद मुस्तफा ने कहा कि मैं किसी के घर चाय पीने गया था तो वहां झाड़ू वालों के एक ग्रुप ने मुझ पर हमला करने की कोशिश की। 50 गज की दूरी पर कांग्रेस के लड़कों ने म्यूजिक चला रखा था। वहां पर जाकर मैंने यह बात कही कि अगर उन्होंने दोबारा ऐसा किया तो सबक सिखाऊंगा। मुस्तफा ने कहा कि वह प्रशासन को उसकी ड्यूटी याद दिला रहे हैं।

मुस्तफा ने कहा कि मेरे साथ सब धर्म के लोग हैं। उसमें अच्छे हिंदू भी हैं। जो हिंदुत्ववादी ताकतें देश का अमन खराब करना चाहती हैं, मैं उनसे वोट मांगने नहीं जाऊंगा। मैंने हिंदू शब्द का इस्तेमाल नहीं किया। मुस्तफा ने कहा कि मैंने देश के लिए गोलियां खाई हैं। देश की बात आई तो पाकिस्तान से लड़ाई लड़ी। मैं देश को तोड़ने वाली ताकतों के पास वोट मांगने नहीं जाऊंगा। कौमी सिपाही से मेरा मतलब देश के सिपाही से था। अगर चुनाव आयोग को शिकायत की तो मैं उसका जवाब जरूर दूंगा।

खबरें और भी हैं...