पंजाब दौरे पर अमृतसर पहुंचे अरविंद केजरीवाल:कहा -चन्नी हेलिकॉप्टर में घूमते हैं और मैं सड़कों पर, इसलिए रंग काला; शिक्षा की चौथी गारंटी देंगे

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पत्रकारों से बात करते अरविंद केजरीवाल - Dainik Bhaskar
पत्रकारों से बात करते अरविंद केजरीवाल

आम आदमी पार्टी के संयोजक दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल पंजाब दौरे पर अमृतसर पहुंच गए हैं। अमृतसर एयरपोर्ट पर उतरने के बाद उन्होंने कहा कि मैं चन्नी साहब की बहुत इज्जत करता हूं। जब से मैंने सरकार बनने पर हर महिला को एक हजार देने की बात कही है, वे मुझे गालियां दे रहे हैं। इससे पहले उन्होंने कहा था कि मैं सस्ते कपड़े पहनता हूं। मेरे दिए एक हजार रुपए से पंजाब की मां-बहनें नया सूट खरीदेंगे तो मुझे खुशी होगी। उन्होंने काले अंग्रेज कहे जाने पर कहा कि मैं मानता हूं कि मैं गांवों और सड़कों पर घूमता हूं तो मेरा रंग काला हो सकता है। मैं आपकी तरह हेलिकॉप्टर में नहीं घूमता। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की नीयत काली है। उन्होंने कहा कि सरकार बनने पर मैं अपने सारे वादे पूरे करूंगा। केजरीवाल ने कहा कि वह पठानकोट जा रहे हैं, वहां शिक्षा से संबंधित चौथी गारंटी देंगे।

चन्नी ने कहा था काले अंग्रेज

CM चरणजीत चन्नी ने बुधवार को अरविंद केजरीवाल पर हमला करते हुए कहा कि पंजाब पंजाबियों का है। कुछ काले अंग्रेज बाहर से आकर यहां राज करना चाहते हैं। उन्हें केजरीवाल का भी जवाब मिला कि मेरा रंग जरूर काला है लेकिन नीयत साफ है।अरविंद केजरीवाल आज पठानकोट जाकर शहीद भगत सिंह चौक में तिरंगा यात्रा में हिस्सा लेंगे। इसके बाद पंजाब को शिक्षा से संबंधित चौथी गारंटी देंगे।

अरविंद केजरीवाल का CM चन्नी को जवाब
अरविंद केजरीवाल का CM चन्नी को जवाब

अकाली दल के बाद कांग्रेस का क्षेत्रीय कार्ड
अभी तक पंजाब पर सिर्फ पंजाबियों का राज हो, यह मुद्दा अकाली दल उठाता रहा है। हालांकि अब चन्नी के नए हमले से कांग्रेस भी इसी राह पर चलती नजर आ रही है। आम आदमी पार्टी पर बाहरी का ठप्पा लगाया जा रहा है ताकि पंजाब में उनकी सत्ता की राह मुश्किल की जा सके।

AAP की दुखती नब्ज : पिछली बार सत्ता से चूकने की बड़ी वजह
CM चन्नी का केजरीवाल को बाहरी कहने की बड़ी सियासी वजह भी है। पंजाब में आप को समर्थन तो मिलता है लेकिन बाहरी पार्टी का टैग भी नहीं छूटता। इसकी वजह पंजाब के बजाय दिल्ली से आए नेताओं का चुनाव कैंपेन को लीड करना है। पिछली बार इसे ही आप के सत्ता से चूकने की बड़ी वजह माना गया।

खबरें और भी हैं...