पंजाब में 'ऑपरेशन लोट्स' चला रही BJP:वित्तमंत्री चीमा बोले- AAP के 10 MLA खरीदने की कोशिश; हमारे पास ऑडियो रिकॉर्डिंग

चंडीगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत करते पंजाब के वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा। - Dainik Bhaskar
चंडीगढ़ में पत्रकारों से बातचीत करते पंजाब के वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा।

आम आदमी पार्टी (आप) सरकार में पंजाब के वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर `आप' के 10 विधायकों को खरीदने के प्रयास के आरोप लगाए हैं। कहा कि भाजपा के नेता आप के विधायकों से सीधे बात न कर किन्हीं अन्य लोगों को बिचौलिया बनाकर संपर्क कर रहे हैं। चीमा ने कहा कि जिस प्रकार भाजपा का `ऑपरेशन लोटस' एजेंडा दिल्ली में विफल रहा है, उसी प्रकार पंजाब में भी `ऑपरेशन लोटस' विफल साबित होगा।

बाबूजी से बात कराएंगे

चंडीगढ़ में पत्रकार वार्ता में हरपाल सिंह चीमा ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि भारतीय जनता पार्टी के नेता कुछ लोगों के माध्यम से करीब एक सप्ताह से आप के विधायकों से संपर्क साध रहे हैं। विधायकों से हर बार भाजपा के किसी बड़े नेता `बाबूजी' से बात करवाने की बात कही जा रही है। चीमा ने कहा कि करीब 4-5 ऑडियो रिकॉर्डिंग में एक ही बात कि `बाबूजी' से बात करवाएंगे बोला गया है।

उन्होंने आरोप लगाए कि आप के विधायकों को सीबीआई और ईडी का डरावा देकर चेतावनी दी जा रही है कि या तो भाजपा में शामिल हो जाओ या फिर कार्रवाई को तैयार रहो। चीमा ने भाजपा को चुनौती देते हुए कहा कि वह आम आदमी पार्टी के किसी विधायक को नहीं खरीद सकेगी।

नाम सार्वजनिक करने से कतराए
भाजपा पर लगाए आरोपों के संबंध में जब हरपाल चीमा से नेताओं के नाम सार्वजनिक करने को कहा गया तो वे इसे जांच का विषय बताने लगे। चीमा ने समय आने पर इलेक्ट्रॉनिक रिकॉर्ड समेत अन्य सबूत सार्वजनिक करने की बात कही। उन्होंने कहा कि आप के पंजाब के विधायकों को लगातार डायरेक्टली और इनडायरेक्टली अप्रोच किया जा रहा है।

पंजाब व दिल्ली के लोग साध रहे संपर्क

​​​​​​​चीमा ने विधायकों से संपर्क करने और करवाने वालों में पंजाब और दिल्ली के लोगों के शामिल होने की बात कही। उन्होंने कहा कि `आप' के पास मौजूद सभी ऑडियोज की जांच की जा रही है और समय आने पर जानकारी सार्वजनिक की जाएगी। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी का ध्येय पंजाब में दिल्ली की तर्ज पर गुणात्मक शिक्षा देना और बुनियादी स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाना है, जिस पर सभी एमएलए डटकर खड़े हैं और पहरा दे रहे हैं।