कपूरथला मर्डर में पुलिस का यू-टर्न:IG-SSP ने कहा- हत्या का केस दर्ज किया, 45 मिनट की प्रेस कॉन्फ्रेंस में ही 8 फोन आए तो मुकर गए

कपूरथला5 महीने पहले

कपूरथला में बेअदबी के आरोप में युवक की मॉब लिंचिंग के मामले में पंजाब सरकार और पुलिस पूरी तरह घिर गई है। रविवार को पहले IG गुरिंदर सिंह ढिल्लो और SSP एचपीएस खख ने कहा कि हत्या करने वालों पर केस दर्ज कर लिया है। उन्होंने FIR नंबर तक बता दिया। यह भी कहा कि 4 लोगों के नाम FIR में लिखे हैं, जबकि 100 अज्ञात हैं।

हालांकि, इसके बाद उनके फोन बजने शुरू हो गए। चलती प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान 45 मिनट में 8 फोन आए। इसमें 5 फोन IG और 3 SSP ने सुने। इसके बाद वह उसी प्रेस कॉन्फ्रेंस में ही केस दर्ज करने से मुकर गए।

पहले SSP ने कहा- 2 FIR दर्ज की गई हैं
कपूरथला के SSP एचपीएस खख ने कहा कि निजामपुर मोड़ में डेरा चलाने वाले ने बयान दिए हैं कि युवक चोरी की नीयत से आया था। उसने नीचे से निशान साहिब का कपड़ा खोलकर बेअदबी की कोशिश की। एक केस इस मामले में दर्ज हुआ है। इस मामले में FIR नंबर 305 दर्ज की गई है। दूसरी FIR 306 नंबर मर्डर केस में रजिस्टर्ड की है। इसमें पुलिस को ड्यूटी से रोकने, पुलिसकर्मियों को जान से मारने की कोशिश करने के आरोप में केस दर्ज किया है। हम सोशल मीडिया खंगाल रहे हैं। सोशल मीडिया के जरिए ही पूरे मामले को भड़काया गया है।

अपनी ही बात से मुकरने पर अफसर भी परेशान नजर आए।
अपनी ही बात से मुकरने पर अफसर भी परेशान नजर आए।

IG ने कहा - 4 लोग नामजद किए गए हैं
इसके बाद IG ने कहा कि केस SHO के बयान पर दर्ज किया गया है। जिस पर आरोप लग रहे हैं, वह प्रवासी मजदूर लग रहा है। उसे पीटा गया। उसकी वीडियो बनाई गई और भीड़ इकट्‌ठी होती रही। इसके बाद उन्होंने उसे मार दिया। जब पुलिस गई तो पुलिस पर भी हमला हुआ। पुलिस लोगों को शांत करती रही, लेकिन उन्होंने इरादतन लोगों को इकट्ठा करने के लिए मैसेज शेयर किया।

IG ने कहा कि 306 नंबर FIR में 4 लोगों को नामजद किया गया है। इसके अलावा करीब 100 लोग अज्ञात हैं। हालांकि, उन्होंने इसके नाम नहीं बताए और इसके लिए मामले के संवेदनशील होने का तर्क दिया।

फिर IG बोले- कोई FIR ही दर्ज नहीं हुई है
इसके बाद IG ने यू-टर्न लिया कि अभी 306 नंबर FIR दर्ज नहीं हुई है। सिर्फ 305 नंबर दर्ज हुई है। अभी वह वेरिफिकेशन करवा रहे हैं। उसमें बयान लिख रहे हैं। अभी 302 यानी हत्या का केस दर्ज नहीं किया है। उसमें अभी आरोपियों की पहचान नहीं हुई है।

SSP ने कहा था- मर्डर का केस दर्ज करेंगे
इस मामले में पहले कपूरथला के SSP एचपीएस खख ने कहा था कि युवक चोरी के इरादे से आया था। उसने कोई बेअदबी नहीं की। भीड़ ने उसका मर्डर किया है। इस मामले में वह हत्या का केस दर्ज कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा था कि निजामपुर मोड़ के गुरुद्वारे में श्री गुरु ग्रंथ साहिब के पवित्र स्वरूप से कोई छेड़छाड़ नहीं हुई है।