• Hindi News
  • National
  • Punjab Assembly Election 2022; Bhatthal Became Shortest CM; Badal Will Rule Maximum

पंजाब में 18 CM का रहा राज:प्रकाश सिंह बादल सबसे अधिक 18 साल 340 दिन रहे मुख्यमंत्री, सबसे कम 82 दिन रहा भट्‌ठल का राज

चंडीगढ़5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

1 नवंबर 1966 को हरियाणा के अलग होने से लेकर आज तक पंजाब में 18 मुख्यमंत्रियों का शासन रहा है। प्रदेश में राजनीतिक अस्थिरता, आपातकाल और ऑपरेशन ब्लू स्टार के कारण कुल 6 बार राष्ट्रपति शासन भी लगा।

संयुक्त पंजाब की शासन व्यवस्था को छोड़ दें तो पंजाब के अब तक के इतिहास में प्रकाश सिंह बादल सबसे अधिक 5 बार 18 साल 340 दिन तक मुख्यमंत्री रहे। सबसे कम समय के सीएम का कार्यकाल एकमात्र महिला सीएम राजिंदर कौर भट्‌ठल के नाम 82 दिन का रहा है। प्रकाश सिंह बादल के बाद सबसे लंबे समय तक कैप्टन अमरिंदर सिंह मुख्यमंत्री रहे। कैप्टन पहली बार पांच साल 14 दिन और दूसरी बार 4 साल 186 दिन कुर्सी पर रहे। कैप्टन कुल 9 साल 200 दिन मुख्यमंत्री पद पर रहे।

गुरमुख सिंह पंजाब के पहले मुख्यमंत्री

कांग्रेस के गुरमुख सिंह मुसाफिर विधान परिषद के सदस्य थे, वे 1 नवंबर 1966 को पंजाब के गठन के बाद 8 मार्च 1967 तक सीएम पद पर रहे। वे 127 दिन इस पद पर रहे। उनके बाद किला रायपुर के विधायक शिरोमणि अकाली दल के गुरनाम सिंह सीएम बने। वे 25 नवंबर 1967 तक सीएम रहे। 262 दिन पद पर रहे। उन्होंने इस्तीफा दे दिया। उनके बाद 25 नवंबर 1967 को धरमकोट के विधायक और शिरोमणि अकाली दल के विधायक लछमण सिंह गिल सीएम बने। 23 अगस्त 1968 तक उनका कार्यकाल रहा। वे 272 दिन सीएम रहे। इसके बाद पंजाब में पहली बार राष्ट्रपति शासन लागू हो गया, जो 23 अगस्त से 1968 से लेकर 17 फरवरी 1969 तक 178 दिन रहा।

शिअद के गुरनाम सिंह दूसरी बार बने सीएम

गुरनाम सिंह दोबारा 17 फरवरी 1969 से लेकर 27 मार्च 1970 तक सीएम बने। 1 वर्ष 38 दिन सीएम रहने के बाद उन्होंने इस्तीफा दे दिया। इसके बाद 27 मार्च 1970 से 14 जून 1971 तक गिद्दडबाहा के विधायक प्रकाश सिंह बादल सीएम बने। वे 1 साल 79 दिन सीएम रहे।

दूसरी बार राष्ट्रपति शासन

14 जून 1971 से लेकर 17 मार्च 1972 तक दूसरी बार 277 दिन पंजाब में राष्ट्रपति शासन रहा। इसके बाद आनंदपुर साहिब के विधायक ज्ञानी जैल सिंह 17 मार्च 1972 से लेकर 30 अप्रैल 1977 तक 5 साल 44 दिन सीएम बने। वे कांग्रेस के नेता थे। इसके बाद देश में आपातकाल लागू होने के बाद फिर से तीसरी बार राष्ट्रपति शासन लग गया, जोकि 20 जून 1977 तक 51 दिन रहा।

प्रकाश सिंह बादल बने दूसरी बार सीएम

20 जून 1977 को फिर से प्रकाश सिंह बादल सीएम बने और 17 फरवरी 1980 तक दो साल 242 दिन सीएम बने। 17 फरवरी 1980 को चौथी बार फिर से राष्ट्रपति शासन लगा जो 6 जून 1980 दिन तक रहा। 110 दिन राष्ट्रपति शासन लगा। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के दरबारा सिंह 6 जून 1980 को मुख्यमंत्री बने और 10 अक्टूबर 1983 तक सीएम पद पर रहे। उनका कार्यकाल 3 साल 126 दिन रहा।

हालात बिगड़े तो पांचवीं बार राष्ट्रपति शासन

पंजाब में हालात बिगड़ने पर 10 अक्टूबर 1983 को 29 सितंबर 1985 तक 1 साल 354 दिन राष्ट्रपति शासन लागू रहा। इस दौरान ऑपरेशन ब्लू स्टार के कारण पंजाब में कानून व्यवस्था बिगड़ी। पांचवी बार राष्ट्रपति शासन लागू हुआ। शिअद के सुरजीत सिंह बरनाला 29 सितंबर 1985 से लेकर 11 जून 1987 तक सीएम बने। वे 1 साल 255 दिन सीएम रहे। आतंकवाद के चलते 11 जून 1987 से लेकर 25 फरवरी 1992 तक 4 साल 259 दिन छठी बार राष्ट्रपति शासन लगा।

बेअंत सिंह बने सीएम

25 फरवरी 1992 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के बेअंत सिंह पंजाब के सीएम बने। वे जालंधर कैंट से विधायक थे। 31 अगस्त 1995 को बम धमाके में उनकी हत्या हो गई। वे 3 साल 187 दिन सीएम रहे। उनके बाद कांग्रेस ने मुक्तसर के विधायक हरचरण सिंह बराड़ को सीएम बनाया। वे 1 साल 82 दिन सीएम रहे और उन्होंने इस्तीफा दे दिया। तब लहरा की विधायक राजिंद्र कौर भट्ठल पंजाब की पहली महिला सीएम बनीं। वे 11 फरवरी 1997 तक मुख्यमंत्री रहीं।

तीसरी बार सीएम बने बादल

12 फरवरी 1997 को शिअद नेता और लंबी के विधायक प्रकाश सिंह बादल को 12 फरवरी 1997 को सीएम चुना गया और वे 26 फरवरी 2002 तक सीएम बने रहे। कार्यकाल 5 साल 14 दिन का रहा। फरवरी 2002 के चुनावों में कैप्टन अमरिंदर सिंह 26 फरवरी 2002 से लेकर 1 मार्च 2007 तक सीएम रहे।

लगातार 10 साल 12 दिन बादल बने रहे सीएम

पंजाब में 2007 के आम चुनावों में प्रकाश सिंह बादल फिर से सीएम बने। 1 मार्च 2007 से लेकर 16 मार्च 2017 तक वे सीएम पद पर रहे। 2012 के आम चुनावों में दोबारा अकाली दल सत्ता में आई। उनका यह कार्यकाल 10 साल 15 दिन रहा। इसके बाद 16 मार्च 2017 से लेकर 18 सितंबर 2021 तक कैप्टन अमरिंदर सिंह सीएम रहे। कांग्रेस में विद्रोह के कारण उन्हें इस्तीफा देना पड़ा। वे दूसरी बार 4 साल 186 दिन सीएम रहे। इसके बाद पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी 20 सितंबर 2021 से लेकर 111 दिन सीएम पद पर हैं।

खबरें और भी हैं...