विरोधियों पर भड़के कांग्रेसी सिद्धू मूसेवाला:मैं दलाल और गद्दार तो 3 बार कांग्रेस सरकार बनाने वाले कौन हैं; पूर्व PM मनमोहन सिंह को क्या कहोगे?

चंडीगढ़10 महीने पहलेलेखक: मनीष शर्मा
  • कॉपी लिंक
सिद्धू मूसेवाला। - Dainik Bhaskar
सिद्धू मूसेवाला।

पंजाब के विवादित सिंगर शुभदीप सिंह सिद्धू उर्फ सिद्धू मूसेवाला शनिवार को विरोधियों पर भड़क गए। कांग्रेस जॉइन करने के बाद मूसेवाला को लोग गद्दार कह रहे थे। मूसेवाला ने कहा कि कल से मुझे बहुत शाबाशी और सर्टिफिकेट मिल रहे हैं। मैं पूछना चाहता हूं कि अगर मैं गद्दार हूं तो 1984 में हुए सिख कत्लेआम के बाद 3 बार पंजाब में कांग्रेस की सरकार बनाने वाले क्या गद्दार नहीं हैं? देश के प्रधानमंत्री बने डॉ. मनमोहन सिंह को क्या कहोगे? बेकार में प्रोपेगेंडा न करो। सिख कत्लेआम पर सियासत करने वाले सबसे बड़े गद्दार हैं।

मूसेवाला पर आर्म्स एक्ट समेत 6 केस दर्ज हैं।
मूसेवाला पर आर्म्स एक्ट समेत 6 केस दर्ज हैं।

सब पार्टियों से थी ऑफर, सबके लिए कुछ न कुछ कहते विरोधी
मूसेवाला ने कहा कि लोग कांग्रेस को1984 सिख कत्लेआम के लिए जिम्मेदार बता रहे हैं। जो लोग पंजाब में पंथक बने बैठे हैं, वह भी कत्लेआम के लिए जिम्मेदार हैं। अगर मैं एक पार्टी (अकाली दल) में जाता तो कहते कि बेअदबी वालों के साथ चला गया। अगर दूसरी (BJP) में जाता तो कहते किसान विरोधियों के साथ मिल गया। अगर तीसरी (AAP) में जाता तो कहते कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) की बी टीम में चला गया। आजाद लड़ता तो कहते कि तुम्हें कोई नहीं पूछेगा। बेकार में हमारी वोटें खराब की।

पंजाब में कांग्रेस मूसेवाला की फैन को भुनाने की कोशिश कर रही है
पंजाब में कांग्रेस मूसेवाला की फैन को भुनाने की कोशिश कर रही है

सफाई या सच्चा बनने नहीं आया
सोशल मीडिया पर लाइव हुए सिद्धू मूसेवाला ने कहा कि मैं कोई सफाई देने या सच्चा बनने के लिए नहीं आया हूं। मुझे पहले से यह सब पता था। 4 साल से मैंने निगेटिविटी ही देखी है। मुझे पता था कि यह सब होगा। मैंने कांग्रेस लोगों की अच्छाई के लिए जॉइन की है।

सोशल मीडिया पर सफाई देते मूसेवाला इस अंदाज में नजर आए।
सोशल मीडिया पर सफाई देते मूसेवाला इस अंदाज में नजर आए।

सिस्टम बदलने के लिए इसमें आना होगा
सोशल मीडिया पर लोग सरकार को कोस रहे हैं। मैं पूछता हूं कि सरकार घटिया है तो सही कौन करेगा? सोशल मीडिया पर कहकर नहीं होगा। इसे बदलना है तो इस दलदल में उतरना होगा। विदेशों में बैठकर बात करने से कुछ नहीं होगा, सिस्टम में आकर उसे बदलने की हिम्मत रखो। मूसेवाला ने कहा कि उसका नाम बन गया लेकिन इससे काम नहीं होता। हमारे मानसा जिले को कैंसर बैल्ट कहा जाता है। पढ़ाई के लिए कोई कॉलेज नहीं है। MLA सिर्फ एक क्षेत्र का होता है और मुझे दुनिया जानती है। मैं काम करवाने के लिए यहां आया हूं।

मूसेवाला ने दिल्ली में राहुल गांधी से भी मुलाकात की थी।
मूसेवाला ने दिल्ली में राहुल गांधी से भी मुलाकात की थी।

सिद्धू-CM चन्नी ने जॉइन कराई कांग्रेस, राहुल गांधी से भी मिले
सिद्धू मूसेवाला को शुक्रवार को नवजोत सिद्धू और CM चरणजीत चन्नी ने कांग्रेस जॉइन कराई थी। इसके बाद वह दिल्ली जाकर राहुल गांधी से भी मिले। मूसेवाला पर गन कल्चर को बढ़ावा देने और भड़काऊ गीत गाने के आरोप लगते रहे हैं। मूसेवाला पर 6 केस दर्ज हैं, जिनमें आर्म्स एक्ट से जुड़ा केस भी है। मूसेवाला खुद को संत जरनैल सिंह भिंडरावाला का समर्थक बताता रहा है, लेकिन अधिकांश सिख समुदाय इंदिरा गांधी की अगुवाई वाली कांग्रेस को ही 1984 में हुए सिख दंगों के लिए जिम्मेदार ठहराता है। मूसेवाला का गीत 'लीडर हकदार ने गोली दे...' की भी अब खूब चर्चा हो रही है।

बरनाला पुलिस रेंज में AK47 से फायरिंग को लेकर भी मूसेवाला खूब चर्चा में आए थे।
बरनाला पुलिस रेंज में AK47 से फायरिंग को लेकर भी मूसेवाला खूब चर्चा में आए थे।
खबरें और भी हैं...