पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Said Khaira Navrita Died Not By Accident, Due To Bullet; Disclosed In Postmortem Report Eye Shot Coming From Brain Near Bullet On Chin

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लाल किला हिंसा में मौत पर राजनीति:विधायक खैरा का दावा- नवरीत की ठोड़ी पर गोली लगकर दिमाग से निकली थी, हादसा नहीं ये हत्या है

चंडीगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खैरा ने कहा- ट्रैक्टर के टायर में भी गोली लगी है। एक पल के लिए हम ये मान भी लें कि नवरीत की मौत दुर्घटना से हुई है तो वहां मौजूद प्रशासनिक तंत्र उसे इलाज के लिए क्यों नहीं ले गया? बजाय इसके UP ले जाकर उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। - Dainik Bhaskar
खैरा ने कहा- ट्रैक्टर के टायर में भी गोली लगी है। एक पल के लिए हम ये मान भी लें कि नवरीत की मौत दुर्घटना से हुई है तो वहां मौजूद प्रशासनिक तंत्र उसे इलाज के लिए क्यों नहीं ले गया? बजाय इसके UP ले जाकर उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया।
  • पंजाब एकता पार्टी के प्रधान और भुलत्थ से विधायक सुखपाल सिंह खैरा ने शुक्रवार को चंडीगढ़ में मीडिया से किसान आंदोलन से जुड़े दो मुद्दों पर बात की
  • बोले- जिन किसान नेताओं पर FIR दर्ज हुई, वे उसमें शामिल भी नहीं थे, वो तो उपद्रवियों को रोक रहे थे

पंजाब एकता पार्टी से विधायक सुखपाल सिंह खैरा ने शुक्रवार को कहा- दिल्ली में 26 वर्षीय नवरीत की हत्या की गई है और इसे दुर्घटना बताया गया है। नवरीत का गांव UP में है और उनके दादा राजस्थान सीमा पर किसान आंदोलन का हिस्सा थे। 26 जनवरी को वह ट्रैक्टर लेकर आए हुए थे, जिसमें की ट्रैक्टर पलटने की बात कही गई है। इस मामले में जब मैंने डॉक्टर से बात की तो उसने बताया कि पोस्टमॉर्टम में ठोडी पर गोली लग के दिमाग के पास से निकला सुराख है। उसकी मौत गोली लगने से हुई है।

खैरा ने कहा- ट्रैक्टर के टायर में भी गोली लगी है। एक पल के लिए हम ये मान भी लें कि नवरीत की मौत दुर्घटना से हुई है तो वहां मौजूद प्रशासनिक तंत्र उसे इलाज के लिए क्यों नहीं ले गया? बजाय इसके UP ले जाकर उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। खैरा ने बताया कि वह उस परिवार को पुराने समय से जानते हैं। जब मैं बुड्‌डा नाला में काम कर रहा था तो वह परिवार हमारे साथ था। खैरा ने इस घटना की ज्यूडिशियल जांच की मांग की है। बोले, एक छत से वीडियो भी सामने आया है जिसमें साबित होता है कि पुलिस को गोली मारने के आदेश थे। इसकी भी जांच होनी चाहिए क्योंकि वहां सरकार की ओर से इस मामले को बढ़ाया गया।

निर्भया कांड में जब राष्ट्रपति भवन के बाहर प्रदर्शन किया तो उस समय किसी ने नहीं कहा कि वह आतंकी या हुड़दंगी हैं। उसमें मीडिया कुछ और बोल रहा था। किसान आंदोलन को बदनाम करने के किए यह सब किया गया है, टीवी चैनल पर बदनामी कराई गई। खैरा ने आरोप लगाया कि भाजपा दंगे करवाना चाहती है। इसलिए कल आंदोलन के बाहर कुछ लोगों को झंडे देकर भेज दिया। जबकि, अब तक कितने किसान मारे जा चुके हैं और आंदोलन शांतिमय चल रहा है।इस पूरे घटनाक्रम की जांच गंभीरता से होनी चाहिए। वहीं किसानों को भी नवरीत की मौत का मुद्दा उठाना चाहिए।

गलत किसान नेताओं पर हुई FIR

दूसरा मुद्दा है कि जिन किसान नेताओं पर FIR दर्ज की गई है, उसमें कई युवाओं को भी गिरफ्तार किया है। इसमें सभी किसान नेताओं पर कितनी ही धाराएं लगा दी गई हैं।जबकि ये किसान नेता कहीं भी घटनाक्रम में शामिल नही थे व लगातार वह रोकते रहे हैं।इसे राजनीतिक टेरेरिज्म कहा जा सकता है।पंजाब के राजनीतिक दलों ने कहीं भी आवाज नहीं उठाई जबकि सत्ताधारी कांग्रेस को भी आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा- अब आप पार्टी क्यों नहीं नवरीत का मुद्दा उठा रही?

इस घटनाक्रम को हिन्दु-सिख का मुद्दा बनाने की कोशिश में भाजपा है। गुरुवार को राकेश टिकैत ने जो भूमिका निभाई, उसके लिए मैं उन्हें सैल्यूट करता हूं। खैरा ने मांग की कि नवरीत का अंतिम भोग गाजीपुर बॉर्डर पर होना चाहिए।किसानों पर दर्ज किए मामले रद्द और गिरफ्तार किए गए युवाओं को छोड़ा जाना चाहिए।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

और पढ़ें