पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

स्कूल चलें हम:स्कूल हो रहे सैनिटाइज, 5-10 स्टूडेंट बैठेंगे क्लास में, रखी जाएगी दूरी

चंडीगढ़3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सेक्टर-38 के सरकारी स्कूल में भी कोरोना से बचने के लिए पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। इन दिनों यहां हर क्लास को सैनिटाइज करने पर काम चल रहा है।
  • 9वीं से 12वीं के छात्रों के संशय दूर करने के लिए 21 सितंबर से खुलेंगे स्कूल, रेगुलर क्लासें अभी नहीं लगेंगी
  • 160 स्कूल हैं शहर में 9वीं से 12वीं के 93 सरकारी और 67 प्राइवेट स्कूल 75 हजार स्टूडेंट्स पढ़ रहे हैं इनमें

केंद्र के आदेशों के बाद शहर के सरकारी और प्राइवेट स्कूल 21 सितंबर से खुल रहे हैं। स्कूलों में रेगुलर क्लासेज नहीं लगेंगी। स्टूडेंट्स सिर्फ अपने संशय दूर करने के लिए स्कूल आ सकते हैं। स्टूडेंट्स को स्कूल में किसी तरह का खतरा न हो, इसके लिए स्कूलोें ने खास इंतजाम किए हैं। भास्कर ने शहर के टॉप स्कूलों से बात की और जाना कि उनके क्या इंतजाम हैं। खासबात है कि 9वीं से 12वीं के ज्यादातर पेरेंट्स ने अपने बच्चों को स्कूल में भेजने की इजाजत नहीं दी है। शहर में करीब 20 फीसदी पेरेंट्स ने ही अपने बच्चों को स्कूल भेजने की इच्छा जताई है। शहर में 9वीं से 12वीं के कुल 160 स्कूल हैं और 75 हजार स्टूडेंट्स पढ़ रहे हैं। इनमें 93 सरकारी और 67 प्राइवेट स्कूल हैं।

ताकि सब सुरक्षित रहें - स्कूल बसें नहीं चलेंगी, पेरेंट्स को खुद ही बच्चों को छोड़कर और लेकर जाना होगा, कई स्कूलों में कैंटीन बंद रहेंगी...

स्ट्रॉबेरी फील्ड्स स्कूल...

1.एंट्री पर हर स्टूडेंट की होगी स्क्रीनिंग

डायरेक्टर अतुल खन्ना ने बताया कि पूरे स्कूल में सैनिटाइजेशन पूरी हो चुकी है। हम कोशिश करेंगे कि एक टीचर एक समय पर सिर्फ एक ही स्टूडेंट का संशय दूर करे। स्कूल के 25 फीसदी पेरेंट्स ने इजाजत दी है। हर एक स्टूडेंट की थर्मल चेकिंग और ऑक्सीमीटर से चेकिंग होगी।

दिल्ली पब्लिक स्कूल...

2.हर क्लास में दूरी पर बेंच लगाए

प्रिंसिपल रीमा दीवान ने कहा कि सैनिटाइजेशन पूरी कर ली गई है। जिन क्लासरूम्स में 9वीं से 12वीं के स्टूडेंट्स आएंगे, उनमें एक क्लास में दूरी पर 12 बेंच लगा दिए हैं। आईसोलेशन रूम भी तैयार किया गया है। फिलहाल काफी कम पेरेंट्स ने अपने बच्चों को स्कूल भेजने की इजाजत दी है।

सेंट जॉन्स हाई स्कूल...

3.क्लास खुले में ही लगाने की कोशिश

प्रिंसिपल कविता दास ने कहा कि थर्मल चेकिंग के साथ ही ऑक्सीमीटर्स के जरिए भी चेकिंग होगी। हम कोशिश करेंगे कि एक टीचर के साथ ज्यादा से ज्यादा 4 स्टूडेंट पढ़ें। कोशिश है कि क्लासेज आउटडोर ही लगें, ताकि किसी तरह का संक्रमण न फैले। हमारे करीब 40 फीसदी पेरेंट्स ने अपने बच्चों को भेजने की इजाजत दी है।

भवन विद्यालय...

4.पेपर चल रहे हैं, 8 के बाद बुलाएंगे

वाइस प्रिंसिपल सुपर्णा बसंल ने बताया कि हमने 21 सितंबर तक पेरेंट्स को इजाजत देने के लिए कहा है, क्योंकि हम 8 अक्टूबर के बाद ही स्टूडेंट्स को संशय दूर करने के लिए बुलाएंगे। क्योंकि 21 सितंबर से 7 अक्टूबर तक स्टूडेंट्स के एग्जाम हैं। हालांकि क्लासेज के दौरान जब पूछा गया था तो ज्यादातर ने आने से मना किया था।

गुरुकुल ग्लोबल स्कूल...

5.रास्ते पर भी टेप लगा दी है

डायरेक्टर प्रवीण सेतिया ने कहा कि सैनिटाइजेशन का काम स्प्रे की जगह फाॅगिंग से करवा रहे हैं, ताकि बेंच के नीचे और क्लासरूम में हर जगह पर सही से सैनिटाइजेशन हो सके। स्टूडेंट्स के जाने के लिए पूरे रास्ते पर टेप लगाई गई है। जहां से बच्चे अंदर आएंगे, वहां से बाहर नहीं जाएंगे। हमारे यहां के करीब 20 फीसदी पेरेंट्स ने स्टूडेंट्स को भेजने की इजाजत दी है।

विवेक हाई स्कूल...

6.सैनिटाइजेशन का काम पूरा

प्रिंसिपल रेणु पूरी ने कहा कि सैनिटाइजेशन पूरी हो चुकी है। कोशिश करेंगे कि क्लास बाहर ही लगें। स्कूल के करीब 11 फीसदी पेरेंट्स ने अपने बच्चों को भेजने की इजाजत दी है।

सेक्रेड हार्ट स्कूल...

7.कोरोना से बचाने के लिए काम शुरू

हम जल्द ही सैनिटाइजेशन करवाएंगे। 17 सितंबर तक पेरेंट्स से पूछा गया है कि वे अपने बच्चों को भेजना चाहते हैं या नहीं। इसके बाद ही कुछ साफ हो पाएगा, लेकिन जितने भी स्टूडेंट्स आएंगे, उनकी सुरक्षा के लिए काम शुरू कर दिया गया है।

सेंट कबीर स्कूल...

8.एक टीचर 15 छात्रों के संशय दूर करेगा

एडमिनिस्ट्रेटर गुरप्रीत बक्शी ने कहा कि हमारे क्लासरूम साइज बड़े हैं, इसलिए एक समय पर एक टीचर 10 से 15 स्टूडेंट्स के संशय दूर करेंगे। 10 फीसदी पेरेंट्स ने ही अपने बच्चों को स्कूल भेजने की इजाजत भेजी है। स्कूल में आने वाला हर बच्चा सुरक्षित रहे, इसका विशेष ख्याल रखा जाएगा।

सरकारी स्कूल सेक्टर-16

9.बच्चों को बुलाने का समय तय करेंगे

प्रिंसिपल बिंदू अरोड़ा ने कहा कि हम सेक्शन वाइज स्टूडेंट्स को बुलाएंगे। टीचर्स टाइमटेबल बनाएंगे कि कौन से स्टूडेंट्स किस समय पर किस दिन आएंगे, ताकि भीड़ न लगे। सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जाएगा। हमारे स्कूल के 40 फीसदी पेरेंट्स ने इच्छा जताई है कि वे अपने बच्चों को भेजना चाहते हैं।

गवर्नमेंट स्कूल सेक्टर-35

10.13 से ज्यादा बच्चे क्लास में नहीं बैठेंगे

प्रिंसिपल प्रभजोत कौर ने कहा कि हमने हर क्लास में 13 से ज्यादा स्टूडेंट्स नहीं बैठाएंगे। स्टूडेंट्स को जिग-जैग तरीके से बैठाया जाएगा, ताकि दूरी बनी रहेगी। जिस कमरे में क्लास लगेगी अगले दिन किसी अन्य कमरे में क्लास लगेगी, ताकि इनफेक्शन न फैले। हमारे स्कूल के 31 पेरेंट्स ने अपने बच्चों को स्कूल भेजने की इजाजत दी है।

समय कितना, यह तय नहीं...

जो स्टूडेंट्स स्कूल आएंगे, उन्हें अपने स्तर पर ट्रांसपोर्टेशन करनी है, क्योंकि स्कूल बसें नहीं चलेंगी। स्कूल में कैंटीन की सुविधा भी नहीं मिलेगी। कितने घंटे के लिए स्टूडेंट स्कूल आएगा, यह संबंधित स्कूल की टीचर व स्टूडेंट पर निर्भर करता है। किस चैप्टर और कितने चैप्टर्स में दिक्कत है, इसके हिसाब से ही स्टूडेंट स्कूल में अपना समय बिताएगा।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- लाभदायक समय है। किसी भी कार्य तथा मेहनत का पूरा-पूरा फल मिलेगा। फोन कॉल के माध्यम से कोई महत्वपूर्ण सूचना मिलने की संभावना है। मार्केटिंग व मीडिया से संबंधित कार्यों पर ही अपना पूरा ध्यान कें...

और पढ़ें