• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Seeing Sidhu's Attack In Punjab Congress, MP Bittu Said – Kedarnath Pact Broken; Shekhari Said Minister Bajwa Is An Agent Of Akali Dal

पंजाब कांग्रेस में फिर घमासान:सिद्धू का अटैक देख सांसद बिट्‌टू बोले- केदारनाथ समझौता टूटा; शेखड़ी ने कहा- मंत्री बाजवा अकाली दल के एजेंट

चंडीगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नवजोत सिद्धू लगातार अपनी सरकार पर हमला कर रहे हैं। जिसके बाद दूसरे नेता भी खुलकर सामने आ रहे हैं। - Dainik Bhaskar
नवजोत सिद्धू लगातार अपनी सरकार पर हमला कर रहे हैं। जिसके बाद दूसरे नेता भी खुलकर सामने आ रहे हैं।

नवजोत सिद्धू के प्रधान पद से इस्तीफा वापस लेते ही पंजाब कांग्रेस में घमासान छिड़ गया है। सिद्धू ने चंडीगढ़ प्रेस क्लब में जमकर CM चरणजीत चन्नी पर हमला बोला। यह सुनकर लुधियाना से सांसद रवनीत बिट्‌टू ने कहा कि केदारनाथ समझौता टूट गया। कांग्रेस के पंजाब इंचार्ज हरीश चौधरी सिद्धू और CM को केदारनाथ ले गए थे। जहां तय हुआ था कि विरोधी बयानबाजी नहीं होगी।

वहीं, कांग्रेसी नेता और पंजाब हेल्थ सिस्टम कॉर्पोरेशन के चेयरमैन अश्विनी शेखड़ी ने नई सनसनी फैला दी है। उन्होंने कहा कि मंत्री तृप्त राजिंदर बाजवा अकाली दल के एजेंट हैं। शेखड़ी ने कहा कि बाजवा के गैंगस्टरों से संबंध हैं। उन्हें बाजवा से जान का खतरा है। 10 विधायक बाजवा से दुखी हैं।

कुछ दिन पहले शेखड़ी सिद्धू के साथ थे, जिसमें भी सिद्धू ने चन्नी सरकार पर हमला किया था
कुछ दिन पहले शेखड़ी सिद्धू के साथ थे, जिसमें भी सिद्धू ने चन्नी सरकार पर हमला किया था

शेखड़ी ने कहा कि वह कांग्रेस हाईकमान को पत्र लिखेंगे कि बाजवा को कांग्रेस से निकाला जाए। यह इसलिए अहम है, क्योंकि कुछ दिन पहले ही शेखड़ी ने चंडीगढ़ में सिद्धू का कार्यक्रम करवाया था। शेखड़ी पहले कैप्टन के खिलाफ भी बयानबाजी करते रहे।

शेखड़ी जो चाहे कहें, मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता : मंत्री बाजवा

मंत्री तृप्त राजिंदर बाजवा ने कहा वह मेरा छोटा भाई है। अश्वनी शेखड़ी जो चाहे कहते रहें, मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। वो चाहें कांग्रेस हाईकमान, डीजीपी या सीबीआई को शिकायत कर दे। उन्होंने कहा कि मैं अकाली दल के खिलाफ चुनाव लड़ता हूं तो उनके साथ कैसे हुआ। उन्होंने कहा कि हाईकमान पूछे, शेखड़ी पूछने वाला कौन होता है।

सांसद रवनीत बिट्‌टू का ट्वीट
सांसद रवनीत बिट्‌टू का ट्वीट

सिद्धू और माझा के मंत्रियों में भी बढ़ी तल्खी
पंजाब कांग्रेस में एक और बगावती जमीन तैयार हो रही है। माझा के मंत्रियों के साथ अब सिद्धू की तल्खी बढ़ गई है। डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा और तृप्त राजिंदर बाजवा वही मंत्री हैं, जिन्होंने कैप्टन अमरिंदर सिंह का तख्तापलट करवाने में अहम भूमिका निभाई थी। रंधावा और सिद्धू के बीच कैप्टन के हटने तक जबरदस्त ट्यूनिंग थी।

हालांकि जब सिद्धू ने रंधावा को सीएम बनाने का विरोध किया तो उसके बाद रिश्तों में खटास आ गई है। सिद्धू ने शुक्रवार को प्रेस कान्फ्रेंस में भी रंधावा पर सवाल उठाए। सिद्धू ने कहा कि बेअदबी और ड्रग्स मामले में कैप्टन को घेरने वाले मंत्री चुप क्यों हैं। सिद्धू रंधावा को गृह विभाग देने का भी विरोध करते रहे, लेकिन उनकी नहीं चली।

कैप्टन अमरिंदर को हटाने के बाद डिप्टी सीएम रंधावा और सिद्धू के रिश्ते भी बिगड़ गए
कैप्टन अमरिंदर को हटाने के बाद डिप्टी सीएम रंधावा और सिद्धू के रिश्ते भी बिगड़ गए

सिद्धू के सलाहकार ने संदीप संधू पर उठाए सवाल
इससे पहले सिद्धू के रणनीतिक सलाहकार पूर्व डीजीपी मुहम्मद मुस्तफा ने कैप्टन संदीप संधू को लेकर सरकार पर सवाल उठाए। संधू कैप्टन सरकार में अमरिंदर के सलाहकार रहे हैं। उन्हें कैप्टन का करीबी माना जाता था और उन पर कैप्टन के नाम से विधायकों को धमकाने के आरोप भी लगे। कैप्टन के सभी एडवाइजर सरकार छोड़ चुके लेकिन संधू ने पाला बदल लिया।

मुस्तफा ने कहा कि संधू के पास अब तक सुरक्षा और सुविधाएं कैसे हैं। यह बात इसलिए अहम है क्योंकि कैप्टन के जाने के बाद संधू पहली बार डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा के साथ नजर आए। जिनसे आजकल सिद्धू के रिश्ते बिगड़े हुए हैं।

खबरें और भी हैं...