• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Sidhu In Support Of ED Action On Fastway, It Is Not Possible To Provide Cheap Cable Without Action, Captain Did Not Implement My Policy

फास्टवे पर ED एक्शन के समर्थन में सिद्धू:कहा- कार्रवाई के बिना सस्ती केबल देना संभव नहीं, कैप्टन ने मेरी पॉलिसी लागू नहीं की

चंडीगढ़5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नवजोत सिद्धू - Dainik Bhaskar
नवजोत सिद्धू

पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू फास्टवे केबल नेटवर्क पर एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ED) की कार्रवाई के समर्थन में आ गए हैं। यह केबल नेटवर्क अकाली दल के प्रधान सुखबीर बादल के करीबी गुरदीप जुझार का है। जिसके खिलाफ सिद्धू लोकल बॉडी मंत्री रहते हुए खुलकर मैदान में आए थे।

सिद्धू ने कहा कि फास्टवे पर कार्रवाई के बगैर पंजाब में सस्ती केबल देना संभव नहीं है। हालांकि सिद्धू ने बादल सरकार और कैप्टन अमरिंदर सिंह पर भी हमला किया। सिद्धू ने कहा कि बादल सरकार ने फास्टवे केबल की मोनोपली बनाई। इसके खिलाफ वह प्रपोजल लेकर आए थे लेकिन कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उसे खारिज कर दिया।

एक हजार करोड़ की रिकवरी होनी थी
सिद्धू ने कहा कि 5 साल पहले उन्होंने मल्टी सिस्टम ऑपरेटर फास्टवे की मोनोपली खत्म करने के लिए पॉलिसी फॉरवर्ड की थी। जिसके जरिए फास्टवे से एक हजार करोड़ टैक्स की रिकवरी होनी थी। इसमें लोकल केबल ऑपरेटरों को मजबूत बनाकर लोगों को सस्ती केबल मिलती। फास्टवे पर कार्रवाई किए बगैर केबल समस्या का हल नहीं हो सकता।

सिद्धू ने कहा कि फास्टवे ने सरकार के साथ जितने टीवी कनेक्शन बताए थे, उससे 3 से 4 गुना ज्यादा था। अगर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उनके प्रस्तावित कानून को मंजूरी दी होती तो प्रति कनेक्शन सरकार को रेवेन्यू मिलता। वहीं, केबल के रेट भी आधे हो जाते।

केंद्रीय एजेंसी के निशाने पर सुखबीर के करीबी:जुझार ट्रांसपोर्ट, फास्ट-वे केबल कंपनी मालिक गुरदीप सिंह के 8 ठिकानों पर ED की रेड

CM चन्नी के बयान से केबल चर्चा में
पंजाब में केबल का मुद्दा सीएम चरणजीत चन्नी के बयान के बाद चर्चा में आया है। सीएम ने कहा था कि लोग केबल का सिर्फ 100 रुपया ही बिल दें। हालांकि इसको लेकर विवाद हुआ कि 130 रुपए तो TRAI ने ही तय किया है। इसके बाद सिद्धू भी अब इस मुद्दे पर खुलकर बोल रहे हैं।

खबरें और भी हैं...