• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Sidhu Took Over The Command Of Punjab Congress, Said District Unit Announced In A Month; Tickets For Not Every MLA, Only Those Who Win; No Decision On CM Face

सिद्धू ने संभाली पंजाब कांग्रेस की कमान:कहा- जरूरी नहीं सारे विधायकों को दोबारा टिकट दें; CM चेहरे पर फैसला नहीं, एक माह में बना देंगे जिला इकाइयां

चंडीगढ़10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चंडीगढ़ में पत्रकारों से बात करते नवजोत सिद्धू और हरीश चौधरी। - Dainik Bhaskar
चंडीगढ़ में पत्रकारों से बात करते नवजोत सिद्धू और हरीश चौधरी।

करीब डेढ़ महीने बाद प्रदेश प्रधान नवजोत सिद्धू ने कांग्रेस की कमान संभाल ली है। मंगलवार को वह चंडीगढ़ स्थित कांग्रेस भवन पहुंचे। ऑफिस का चार्ज संभालने के बाद सिद्धू ने कहा कि कांग्रेस में हर विधायक को टिकट नहीं मिलेगी।

जिसमें जीतने की क्षमता हो, उसे ही टिकट देंगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए पार्टी सर्वे करेगी। सिद्धू के बयान से साफ है कि इस बार कई कांग्रेसी विधायकों की टिकट कट सकती है। सिद्धू ने यह भी कहा कि कांग्रेस अंत में कैंडिडेट्स की सूची जारी करेगी।

चंडीगढ़ में कांग्रेस भवन का चार्ज लेने के बाद हरीश चौधरी के साथ नवजोत सिद्धू
चंडीगढ़ में कांग्रेस भवन का चार्ज लेने के बाद हरीश चौधरी के साथ नवजोत सिद्धू

वहीं, सिद्धू के साथ मौजूद पंजाब कांग्रेस इंचार्ज हरीश चौधरी ने सीएम फेस पर कहा कि फिलहाल हर पंजाबी कांग्रेस के सीएम का चेहरा है। स्पष्ट है कि मौजूदा सीएम चरणजीत चन्नी और पार्टी प्रधान नवजोत सिद्धू के बीच मची कलह की वजह से कांग्रेस ने इसे पेंडिंग रख लिया है।

एक महीने में जिला यूनिट की घोषणा

सिद्धू ने कहा कि अगले एक महीने में पंजाब भर में सभी जिला यूनिट के प्रधान घोषित कर देंगे। उन्होंने कहा कि इसके लिए पूरी तैयारी हो चुकी है। उन्होंने नाराज होने वाले कांग्रेसियों को भी संदेश दिया कि वे कोई बगावत न करें। पार्टी में सबको उचित जगह और सम्मान दिया जाएगा।

डेढ़ महीने बाद कांग्रेस भवन पहुंचे सिद्धू:इस्तीफे वापस लेने के बाद अब ऑफिस का चार्ज संभाला; AG-DGP की नियुक्ति के बाद छोड़ी थी कुर्सी

सिद्धू बोले- CM और मैं दो पहिए, मिलकर काम करेंगे

सिद्धू ने अब साफ कर दिया है कि वे सीएम चन्नी के साथ मिलकर चलेंगे। उन्होंने कहा कि मेरे पास संगठन की ताकत है। जबकि सीएम चन्नी के पास प्रशासनिक पावर है। हम दोनों दो पहिए हैं, जो मिलकर चलेंगे। उन्होंने कहा कि उनके पंजाब मॉडल को कांग्रेस हाईकमान की भी मंजूरी है।

वह पंजाब को सिर्फ चुनाव जीतने तक नहीं बल्कि उसके आगे के विकास के तौर पर देखते हैं। उन्होंने खाली खजाने को लेकर वित्तमंत्री मनप्रीत बादल का भी बचाव किया कि खजाने को लेकर हर व्यक्ति की जिम्मेदारी है।

खबरें और भी हैं...