UPSC क्लीयर नहीं कर पाने की हताशा:चंडीगढ़ में एक ही दिन में 2 स्टूडेंट्स ने की आत्महत्या, सुबह सोनीपत के युवक ने तो शाम को सेक्टर-38 की युवती ने लगाया फंदा

चंडीगढ़5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सेक्टर-37 में आत्महत्या करने वाले छात्र के शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाती पुलिस। - Dainik Bhaskar
सेक्टर-37 में आत्महत्या करने वाले छात्र के शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाती पुलिस।

आजकल का युवा वर्ग अपने सपनों को पूरा करने के लिए जितनी शिद्दत से मेहनत करता है, असफल होने उतना ही अधिक हताश होकर गलत कदम उठा रहा है। ताजा मामला चंडीगढ़ का है, जहां लास्ट अटेंप्ट में भी UPSC परीक्षा क्लीयर न होने पर दो स्टूडेंट्स ने एक ही दिन आत्महत्या कर ली। एक मामला चंडीगढ़ के सेक्टर-37 में शुक्रवार सुबह सामने आया, जहां सोनीपत के युवक ने बाथरूम में फंदा लगा लिया। वहीं दूसरा सेक्टर-38 का है, जहां रहने वाली युवती ने भी UPSC की लास्ट अटेंप्ट क्लीयर न होने पर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। पुलिस ने दोनों शव कब्जे में लेकर विभिन्न पहलुओं पर जांच शुरू कर दी है। शहर के सेक्टर-37 के मकान नंबर 2413 में रहने वाले युवक ने बाथरूम में लगे हुक से चादर बांधकर फंदा लगा लिया। मृतक की पहचान 30 वर्षीय अंकित चहल के रूप में की है जो मूल रूप से हरियाणा सोनीपत का रहने वाला था। घटना का पता शुक्रवार सुबह चला। पुलिस ने शव को सरकारी अस्पताल की मॉर्चरी में रखवा दिया।

थाना पुलिस के मुताबिक अंकित चहल यूपीएससी की तैयारी कर रहा था और लास्ट अटेंप्ट क्लीयर नहीं कर पाने से निराश था। वह चंडीगढ़ में 4 साल से रह रहा था। अंकित का दोस्त जब शुक्रवार सुबह पढ़ाई के सिलसिले में उसके कमरे पर पहुंचा, तो वह नहीं मिला। इधर-उधर ढूंढने के बाद जब उसने बाथरूम में देखा तो अंकित का शव एक हुक के सहारे चादर से झूल रहा था। इसके बाद उसके परिजनों और पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस को मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला।

सेक्टर-38 में युवती ने पंखे से रस्सी बांध लगाया फंदा
दूसरा मामला सेक्टर-38 का है। यहां भी एक युवती ने UPSC एग्जाम की लास्ट कोशिश में पास न होने की वजह से अपने ही घर में रस्सी से फंदा लगाकर मौत को गले लगा लिया। पुलिस ने फंदे से नीचे उतार कर युवती को सेक्टर-16 सरकारी अस्पातल में दाखिल कराया। जहां पर मौजूद डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतका की पहचान चंडीगढ़ के सेक्टर-38 निवासी सिमरन (29) के रूप में हुई है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए शव गृह में रखवा दिया है।

मां-भाई के बाहर जाते ही घर में पंखे से झूल गई सिमरन
सिमरन की मां ने पुलिस को बताया कि उनकी बेटी UPSC की तैयारी कर रही थी। वह UPSC परीक्षा की आखिरी अटेंप्ट में पास नहीं हो पाई। तभी से वह परेशान चल रही थी। शुक्रवार देर शाम को सिमरन की मां और भाई घर से बाहर गए हुए थे। जब घर वापिस आए तो उन्होंने देखा कि सिमरन कमरे में रस्सी के सहारे पंखों से लटकी हुई थी। सेक्टर-39 थाना पुलिस ने मौके पर पहुंच कर जांच शुरू कर दी। हालांकि पुलिस को वहां से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है।

पुलिस दो पहलुओं पर कर रही जांच
पुलिस इस पहलू पर भी जांच कर रही है कि क्या सेक्टर-37 में फंदा लगाने वाला युवक के साथ इस लड़की का कोई प्रेम प्रसंग तो नहीं चल रहा था। यह सवाल पुलिस के मन में इसलिए आ रहा है क्योंकि दोनों UPSC की तैयारी कर रहे थे। दोनों का ही लास्ट चांस था। दोनों ने फेल होने के बाद एक ही दिन फंदा लगाकर आत्महत्या की है।

खबरें और भी हैं...