पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आत्महत्या:छात्रा ने फंदा लगाया, सुसाइड नोट में लिखा- मुझमें जीने की हिम्मत नहीं

चंडीगढ़10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो
  • बीए फाइनल ईयर में पढ़ती थी मलोया की 20 साल की यशिका, पुलिस जांच में जुटी

मलोया में एक लड़की ने फंदा लगा लिया। 20 साल की यशिका बीए फाइनल ईयर की स्टूडेंट थी। छात्रा ने फंदा क्यों लगाया, इसका सही कारण पता नहीं चल पाया है। मलोया पुलिस ने डीडीआर दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। हालांकि, पुलिस को यशिका के पास से एक सुसाइड नोट मिला है, इसमें उसने खुद को अपनी मौत के लिए जिम्मेदार बताया है। सुसाइड नोट में उसने अपनी मां को मानसिक तौर पर काफी दृढ़ बताया है। साथ ही लिखा है कि वह सब कुछ मैनेज कर सकती हैं लेकिन वह अब जीना नहीं चाहती है। घरवालों का कहना है कि यशिका प्राइवेट नौकरी करती थी। लॉकडाउन के बाद से उसकी नौकरी छूट गई। इसके अलावा वह बीए फाइनल ईयर की स्टूडेंट भी थी। यशिका नौकरी चले जाने के कारण परेशान थी और उसके सुसाइड करने की यही वजह हो सकती है। पुलिस के मुताबिक यशिका के परिवार में माता-पिता और उसके दो भाई हैं। यशिका को आखिरी बार सुबह 8:30 बजे देखा गया था। यशिका की मां मंदिर गई हुई थी, उसके पिता कहीं बाहर गए हुए थे जबकि एक भाई घर में सोया हुआ था दूसरा बाहर खेलने गया था। जब यशिका की मां मंदिर से घर पहुंची तो उन्होंने देखा की उसने फंदा लगाया हुआ है। तुरंत शोर मचाया जिस पर लोग जमा हुए और सूचना पुलिस को दी गई फंदे से उतारकर यशिका को इलाज के लिए सेक्टर-16 अस्पताल लेकर जाया गया, जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया है। पुलिस ने यशिका के शव को अस्पताल में रखवा दिया है। प्रोटोकॉल के तहत अब उसका कोरोना टेस्ट होगा, उसकी रिपोर्ट आने के बाद ही निर्भर करता है कि शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा या नहीं।

कैथल की युवती ने सुसाइड क्यों किया, अभी तक पता नहीं लगा पाई पुलिस
शनिवार को जीएमसीएच-32 की सातवीं मंजिल से कूदकर कैथल की एक युवती ने सुसाइड कर लिया था। युवती ने कूदकर जान क्यों दी, इसके बारे में अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है। मौके पर कोई सुसाइड नोट नहीं मिला था। इसके अलावा अभी तक यह भी पता नहीं चला है कि युवती चंडीगढ़ अस्पताल कैसे पहुंच गई। दरअसल, युवती पेहवा में एक इंस्टीट्यूट से आईलेट्स की कोचिंग ले रही थी। शनिवार को वह घर से तो इंस्टीट्यूट जाने के लिए निकली थी।

घरवाले सोच रहे थे कि बेटी इंस्टीट्यूट में हाेगी, लेकिन सुसाइड की सूचना ने उन्हें झकझोर कर रख दिया। घरवाले भी हैरान हैं कि अनु सेक्टर-32 अस्पताल कैसे और क्यों गई थी। बहरहाल, पुलिस ने रविवार को लड़की के शव काे पोस्टमार्टम करवाने के बाद घरवालों को सौंप दिया है। पुलिस कारण पता करने के लिए जांच कर रही है। पुलिस लड़की की कॉल डिटेल खंगाल रही है। इसके आधार पर ही पता चल पाएगा कि आखिरी समय में लड़की किसके संपर्क में थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- चल रहा कोई पुराना विवाद आज आपसी सूझबूझ से हल हो जाएगा। जिससे रिश्ते दोबारा मधुर हो जाएंगे। अपनी पिछली गलतियों से सीख लेकर वर्तमान को सुधारने हेतु मनन करें और अपनी योजनाओं को क्रियान्वित करें।...

और पढ़ें