पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चंडीगढ़ में अनलॉक होंगे स्कूल:एडमिनिस्ट्रेटर ने वार रूम की बैठक में कहा- अभिभावकों की सहमति के बाद 19 से स्कूल आ सकेंगे 9वीं से 12वीं के छात्र

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चंडीगढ़ में बैठक में अधिकारियों के साथ चर्चा करते प्रशासक वीपी सिंह बदनौर। - Dainik Bhaskar
चंडीगढ़ में बैठक में अधिकारियों के साथ चर्चा करते प्रशासक वीपी सिंह बदनौर।

चंडीगढ़ में मंगलवार को पंजाब के राज्यपाल और चंडीगढ़ प्रशासक वीपी सिंह बदनौर ने वार रूम की बैठक ली। इस बैठक में कुछ अहम निर्णय लिया गया। इसमें मुख्य रूप से चंडीगढ़ में 19 जुलाई से 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थी स्कूल जा सकेंगे, जबकि ऑनलाइन मोड से हो रही पढ़ाई का दौर भी जारी रहेगा। वहीं स्कूल में जाने के लिए छात्रों के अभिभावकों की सहमति भी जरूरी होगी।

इसी के साथ कोचिंग इंस्टीट्यूट खोलने की भी मंजूरी दिया गया। इसमें शर्त भी रखा गया है कि स्टूडेंट्स और स्टाफ को वैक्सीन की एक डोज कम से कम लगी होनी चाहिए। शादियों में गेस्टों की संख्या को बढ़ाकर 200 या बैंक्वेट हॉल की क्षमता का 50 फीसद कर दिया गया है। वहीं रॉक गार्डन और म्यूजियम को कल से ही खोलने की मंजूरी दे दी गई है। लेकिन कोविड प्रोटोकॉल का पूरा ध्यान रखना होगा।

सिनेमा हॉल और स्पा भी 50 फीसद क्षमता के साथ खुलेंगे। इस बैठक में मुख्य रूप से प्रशासक के सलाहकार धर्म पाल, प्रमुख सचिव गृह अरुण कुमार गुप्ता, चंडीगढ़ डीजीपी संजय बेनिवाल, विजय नामदेवराव पंजाब राजभवन के वित्त सचिव, आयुक्त,नगर निगम कमल किशोर यादव, समेत अन्य अधिकारी सामिल थे।

खबरें और भी हैं...