• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Teachers Of Punjab And Chandigarh Expressed Their Anger At Matka Chowk With The Banner Of Save College And Higher Education

7वें वेतन आयोग को लागू करने की मांग:पंजाब और चंडीगढ़ के टीचरों के साथ कॉलेज विद्यार्थियों ने मटका चौक पर जताया रोष

चंडीगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कॉलेज टीचर्स के साथ मटका चौक पर प्रदर्शन करते हुए छात्रों। - Dainik Bhaskar
कॉलेज टीचर्स के साथ मटका चौक पर प्रदर्शन करते हुए छात्रों।

चंडीगढ़ के मटका चौक पर मंगलवार को पंजाब और चंडीगढ़ के हायर एजुकेशन विभाग के टीचर्स ने रोष जताया। उनके साथ कॉलेज विद्यार्थी भी मौजूद रहे। टीचर्स ने कहा कि पंजाब और चंडीगढ़ ने हायर एजुकेशन में सातवें वेतन आयोग को लागू नहीं, जबकि केंद्र सरकार इसे लागू कर चुकी है। पंजाब के युवाओं का भविष्य खतरे में है। इससे पहले भी टीचर सातवें पे कमीशन को लागू करवाने के लिए 45 दिन की हड़ताल कर चुके हैं। तब शिक्षा मंत्री परगट सिंह ने आश्वासन दिया था कि लागू किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार झूठे वायदे कर रही है। पंजाब और चंडीगढ़ के टीचर्स मटका चौक पर प्रदर्शन कर रहे हैं। इससे ज्यादा सरकार के लिए बेशर्मी की बात क्या होगी। टीचर्स सड़क पर हैं। वे कॉलेजों में बच्चों को क्या पढ़ा सकेंगे। पंजाब सरकार ने हायर एजुकेशन के बारे में जरा भी ध्यान नहीं दिया। सरकार यूजीसी को डिलिंक कर रही है।

पंजाब और चंडीगढ़ के कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में इसे लागू नहीं किया गया। यदि यह लागू नहीं किया जाता तो यूजीसी से मिलने वाले करोड़ों रुपये की ग्रांट पंजाब और चंडीगढ़ के कॉलेजों और विश्वविद्यालयों को नहीं मिलेगी। टीचरों ने कहा कि जब दूसरे कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग का लाभ दिया जा रहा है तो हमें इसका लाभ क्यों नहीं दिया जा रहा।