पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शिक्षकों का विरोध:स्टूडेंट्स के पेपर चेक नहीं करेंगे टीचर्स, ड्यूटी का भी बायकॉट

चंडीगढ़11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
शिक्षकों का विरोध - Dainik Bhaskar
शिक्षकों का विरोध
  • कॉलेजों में नियुक्ति के समय वेतन को यूजीसी के डी लिंक करने का विरोध
  • पेपर चेक न करने से 10 लाख स्टूडेंट्स का रिजल्ट होगा प्रभावित

टीचर्स ने स्टूडेंट्स के पेपर चेक करने से मना कर दिया है। साथ ही पेपर की ड्यूटी करने का भी बायकॉट किया है। फेडरेशन ऑफ यूनिवर्सिटी एंड कॉलेज टीचर्स ऑर्गेनाइजेशन (पीफैक्टो) ने यह फैसला पंजाब सरकार के उस आदेश के कारण लिया है, जिसमें सरकारी कॉलेजों में नियुक्तियों के समय टीचर्स के वेतन को यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमीशन से डी लिंक कर दिया है।

25 दिसंबर को जारी हुए इस आदेश की प्रति मिलने के बाद टीचर्स ने मंत्री से मिलने का प्रयास किया, लेकिन नगर निकाय चुनाव होने के कारण उनसे मुलाकात नहीं हुई। टीचर्स ने इंतजार करने के बजाय अपना संघर्ष शुरू कर दिया। शुक्रवार को पंजाब-चंडीगढ़ के सभी कॉलेजों और यूनिवर्सिटी में टीचर धरने देंगे। चंडीगढ़ में पंजाब की नोटिफिकेशन ही लागू की जाती है।

इसलिए फेडरेशन की चंडीगढ़ प्रेसिडेंट डॉक्टर मधु शर्मा ने मांग की है कि चंडीगढ़ प्रशासन पंजाब की नोटिफिकेशन और नियमों को लागू करने के बजाय यूजीसी के नियमों को लागू करे। उनका कहना है कि चंडीगढ़ एक एजुकेशन हब है और यहां पर इस डी लिंक के कारण नुकसान नहीं होना चाहिए।

डॉक्टर जगवंत सिंह ने कहा कि इस डी लिंक से पंजाब को आर्थिक तौर पर मामूली फायदा होगा, लेकिन उनका नुकसान बड़े स्तर पर होगा। यूजीसी की बहुत सारी योजनाओं से वह बाहर हो जाएंगे। यूजीसी के जरिए मिलती हैं और टीचर इन के लिए अप्लाई करते हैं। टीचर तभी किसी प्रोजेक्ट के लिए अप्लाई कर सकते हैं, जब उनके कॉलेज या यूनिवर्सिटी में यूजीसी के नियम लागू हों। राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान के तहत मिलने वाली रकम भी पंजाब को नहीं मिल सकेगी।

यह है प्रोग्राम...

गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी अमृतसर, पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला और पंजाब एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी आदि में जहां फिजिकल पेपर होने हैं, टीचर एग्जाम ड्यूटी का बायकॉट करेंगे। स्टूडेंट्स का ज्यादा नुकसान न हो, इसलिए कुछ एक पेपर का विरोध करने का ही निर्णय हुआ है। पीयू और इसके कॉलेजों के ऑनलाइन पेपर लिए जा रहे हैं। टीचर ने पेपर चेक करने से मना किया है। इसकी वजह से करीब 10 लाख स्टूडेंट्स का रिजल्ट प्रभावित होगा

टीचर्स ये बता रहे डी लिंक के नुकसान

  • चंडीगढ़ और पंजाब के टीचर्स का वेतनमान कम हो जाएगा
  • पंजाब-चंडीगढ़ में अच्छे टीचर नहीं मिल सकेंगे, क्योंकि जहां अच्छा वेतनमान मिलेगा, वे वहां पर वे चले जाएंगे
  • यूजीसी की किसी भी ग्रांट का फायदा चंडीगढ़ और पंजाब के टीचर्स को नहीं मिल सकेगा
  • रिसर्च का काम प्रभावित होगा, क्योंकि सिर्फ वही इंस्टीट्यूट इसके लिए अप्लाई कर सकेंगे, जो यूजीसी के नियमों को मानते हैं
  • पंजाब और चंडीगढ़ देश के बाकी हिस्सों की एजुकेशन सिस्टम से बाहर हो जाएगा।

आज सभी कॉलेजों और यूनिवर्सिटी में 2 घंटे का सांकेतिक धरना दिया जाएगा...

24 फरवरी को पीएयू लुधियाना में रीजनल रैली होगी, 25 को पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ की रैली में मोहाली के टीचर भी पार्टिसिपेट करेंगे। 26 को जीएनडीयू में रैली होगी, जिसमें उनके एरिया के कॉलेजों के टीचर शामिल होंगे।

3 मार्च को पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला में रैली होगी। पंजाब विधानसभा के बजट सत्र के समय सभी टीचर चंडीगढ़ पहुंचेंगे और प्रदर्शन करेंगे। अगले चरण में भावी टीचर यानी रिसर्च स्कॉलर को भी इससे जोड़ा जाएगा

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें