पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • The Accused Was Saying In The Chat Both The Police And The Judge Have Access, The Judge Said 'blur In The Name Of The High Court'

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रेप केस में सुनवाई:आरोपी चैट में कह रहा था-पुलिस और जज दोनों तक पहुंच है, जज ने कहा-‘ये हाईकोर्ट के नाम पर कलंक’

चंडीगढ़16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रेप केस में सुनवाई - Dainik Bhaskar
रेप केस में सुनवाई
  • पीड़ित लड़की ने हाईकोर्ट में जज को दिखाई आरोपी की सोशल मीडिया चैट
  • आरोपी और लड़की के मोबाइल जब्त, एसएसपी करेंगे मामले में जांच

पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट में बुधवार को रेप के एक मामले में सुनवाई चल रही थी। शिकायतकर्ता लड़की ने कहा कि आरोपी केस में दबाव बना रहा है और पुलिस उसे बचा रही है। लड़की ने कहा कि आरोपी तो लोगों का कहता है कि उसने पुलिस को मैनेज कर रखा है और जज तक उसकी पहुंच है।

लड़की ने जज को आरोपी की एक सोशल मीडिया चैट भी दिखाई, जिसमें वह अपने किसी दोस्त से कह रहा था कि उसने पुलिस और लड़की के वकील को मैनेज कर लिया है। बार प्रेसिडेंट के जरिए जज को भी अप्रोच कर दिया है। जज ने इन आरोपों पर कड़ा संज्ञान लेते हुए एसएसपी मोहाली को इंक्वायरी के ऑर्डर कर दिए हैं।

जज ने कहा- ‘ऐसे आरोपों से कोर्ट को बड़ा दुख हुआ है। अगर आरोपी ने ऐसा किया है तो यह बहुत गलत है और इसकी जांच होनी चाहिए। ये बड़े ही गंभीर आरोप हैं और ये इंस्टीट्यूट के लिए कलंक है’।

पुलिस कॉन्स्टेबल है आरोपी, कहा-चैटिंग में ऐसा नहीं कहा
जज ने एसएसपी मोहाली को ऑर्डर दिए कि इस मामले में जांच कर पता लगाया जाए कि क्या सच में आरोपी ने किसी को ऐसे मैसेज भेजे थे? जज ने कहा कि तीन दिनों में आरोपी और जिससे वह बातचीत कर रहा था, उनके फोन एसएसपी मोहाली को हैंडओवर किए जाएं।

जज ने लड़की के फोन को भी कब्जे में लेने के लिए कहा है। वहीं, आरोपी ने कोर्ट में कहा कि उसने इस तरह के कोई मैसेज नहीं किए थे। जज ने एसएसपी को निर्देश दिए कि अगली तारीख तक कोर्ट में रिपोर्ट सबमिट की जाए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें