पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • The Decision To Impose Lockdown In Chandigarh May Be Decided In The War Room Meeting Today, RLA And Estate Office Closed Again For A Week

पिछले 24 घंटों में 860 संक्रमित मिले:चंडीगढ़ में लॉकडाउन लगाने को लेकर आज वार रूम मीटिंग में हो सकता है फैसला, RLA और इस्टेट ऑफिस एक हफ्ते के लिए फिर बंद किए

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शहर में रोजाना हजारों लोगों का कोरोना टेस्ट किया जा रहा। -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
शहर में रोजाना हजारों लोगों का कोरोना टेस्ट किया जा रहा। -फाइल फोटो
  • आज से खुलने थे ऑफिस, लेकिन दोनों दफ्तरों के कई कर्मी पॉजिटिव आने से दोबारा से किए बंद, अब 8 को खुलेंगे, पहले 30 बंद किए गए थे

शहर में हरियाणा की तर्ज पर लॉकडाउन लगाने को लेकर आज वार रूम मीटिंग में कोई फैसला लिया जा सकता है। शहर के प्रशासक वीपी सिंह बदनोर अधिकारियों के साथ वीकेंड लॉकडाउन को लेकर समीक्षा करेंगे और उसके बाद अगर जरूरत महसूस की गई तो लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया जा सकता है। इससे पहले शहर में वीकेंड लॉकडाउन लगाने को लेकर शहर के व्यापारियों ने विरोध किया था और प्रदर्शन किया था। उनका कहना था कि पहले ही उनके रोजगार खत्म हो गए हैं। अब फिर से लॉकडाउन लगाने से वे बुरी तरह से परेशान हैं। दूसरी तरह शहर में जिस तरह से संक्रमित मरीजों की लगातार संख्या बढ़ रही है उससे हालत दयनीय हो रही है। इसके बाद प्रशासन ने फिर से वीकेंड लॉकडाउन लगाया था।

शहर में आज यहां पहुंची जांच टीमें

शहर में आज स्वास्थ्य विभाग की टीमें संदिग्ध मरीजों की जांच के लिए सेक्टर-17 के बस स्टैंड, सेक्टर-26 पुलिस स्टेशन, रामदरबार ESI, रेलवे स्टेशन चंडीगढ़, कंटेनमेंट एरिया CSFL और कंटेनमेंट एरिया सेंट्रल SDM में टीमें पहुंची हुई है।

RLA और इस्टेट ऑफिस 8 मई तक बंद

रजिस्ट्रिंग एंड लाइसेंसिंग अथाॅरिटी का ऑफिस और इस्टेट ऑफिस इन दोनों को ही प्रशासन ने अब 8 मई तक बंद रखने का फैसला किया है। हालांकि पहले 23 अप्रैल को निर्देश जारी कर इन डिपार्टमेंट्स को 30 अप्रैल तक के लिए इसलिए बंद कर दिया गया था क्योंकि यहां काम करने वाले कई कर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। अफसरों के मुताबिक इन दोनों ही विभागों से कई कर्मी अभी तक एक-एक कर कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं। इसके अलावा कई होम क्वारैंटाइन पर हैं। वहीं दूसरा बड़ा कारण ये भी कि इन दोनों ही विभागों में कर्मियों के अलावा कई लोग अपने काम करवाने के लिए पहुंचते हैं।

हजार से ज्यादा लोग आते रोज

खासतौर से रजिस्ट्रिंग एंड लाइसेंसिंग अथाॅरिटी (RLA) के ऑफिस में तो हर रोज एक हजार से भी ज्यादा लोग ड्राइविंग लाइसेंस, NOC या भी गाड़ी की रजिस्ट्रेशन के लिए पहुंचते हैं। जबकि यही हाल इस्टेट ऑफिस का है जहां प्राॅपर्टी से संबंधित कार्यों के लिए हर रोज कई लोग पहुंचते हैं जिससे संक्रमण के और तेजी से फैलने का डर है।

शहर में पिछले 24 घंटों में 860 मरीज मिले

शहर में कोरोना संक्रमण का प्रभाव लगातार बढ़ रहा है। पिछले 24 घंटों में शहर में 4010 संदिग्ध मरीजों की जांच की गई थी जिसमें से 860 मरीज संक्रमित मिले हैं। शहर में इस समय 7 हजार 592 एक्टिव मरीज हैं। आज तक शहर में 44 हजार 306 पॉजिटिव मरीज मिल चुके हैं जिसमें से 36 हजार 218 मरीज ठीक हो गए हैं। शहर में आज तक 496 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है।