• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • The Former Mayor Of Chandigarh Wrote A Letter To The Administrator, Saying That The People Of The City Should Be Given Relief During The Corona Period And The Date For Giving Electricity And Water Bills Should Be Increased.

लोगों के लिए राहत की मांग:चंडीगढ़ के पूर्व मेयर ने प्रशासक को पत्र लिख कहा- शहर के लोगों को कोरोना काल में राहत दी जाए और बिजली-पानी बिल देने की डेट बढ़ाई जाए

चंडीगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संक्रमण के कारण शहर की सुखना लेक को वीकएंड पर बंद कर दिया गया है। फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
संक्रमण के कारण शहर की सुखना लेक को वीकएंड पर बंद कर दिया गया है। फाइल फोटो
  • चंडीगढ़ कांग्रेस के पूर्व प्रधान प्रदीप छाबड़ा ने प्रशासक से कहा-कॉलोनी वासियों को मुफ्त में खाना दिया जाए

शहर के पूर्व मेयर और चंडीगढ़ कांग्रेस के पूर्व प्रधान प्रदीप छाबड़ा ने प्रशासक वीपी सिंह बदनोर को एक पत्र लिखा है। जिसमें उन्होंने लिखा है कि कोरोना काल में शहर के लाेगाें को राहत दी जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना काल के दौरान लोगों का काम धंधा बंद है ऐसे में उनके बिजली-पानी के बिलों की डेट को आगे बढ़ाया जाना चाहिए।

राहत पैकेट दिए जाए

छाबड़ा ने अपने पत्र में यह भी लिखा है कि संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के बीच शहर के लोगों में अनिश्चितता और भय का माहौल है ऐसे में उन्हें अनाज के राहत पैकेट और रेड-क्रास की ओर से फ्री में खाना मुहैया करवाया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि शहर में बिक रही सब्जियों व अन्य रोज इस्तेमाल में आने वाली जरूरत के सामान के मूल्य निर्धारित किए जाने चाहिए,जिससे लोगों को कोरोना काल में किसी तरह की कोई मुश्किल न हो। उन्होंने कहा कि शहर के धार्मिक स्थलों के पानी व बिजली के बिलों को माफ किया जाना चाहिए।

आज 5 बजे से मार्केट बंद

आज से शाम 5 बजे से चंडीगढ़ की मार्केटस बंद हो जाएगी और 6 बजे के बाद से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लग जाएगा,ऐसे में किसी को बिना वजह सड़क पर निकलने पर पाबंदी लगाई गई है। प्रशासक की ओर से पुलिस विभाग को सख्त कार्रवाई करने के लिए कहा गया है। शहर में रोजाना संक्रमण के सैकड़ों की संख्या में मामले आ रहे है, जिस कारण अब अस्पतालों में मरीजों के लिए बेड कम पड़ रहे है। प्रशासन की ओर से अब संस्थाओं व लोगों का कोविड केयर सेंटर खोलने के लिए कहा जा रहा है ताकि सरकारी अस्पतालों पर मरीजों का दबाव कुछ कम हो सके। प्रशासन कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए वीकएंड लॉकडाउन लगाने के लिए अधिकारियों में बातचीत चल रही है।