• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • The Issue Of Buses Heats Up In Punjab, Kejriwal And CM Channi Face To Face; HC Notice To Transport Minister On Akali Leader's Petition

पंजाब में प्राइवेट बस माफिया का मुद्दा गरमाया:केजरीवाल और CM चन्नी आमने-सामने; अकाली नेता की पिटीशन पर ट्रांसपोर्ट मंत्री को HC का नोटिस

चंडीगढ़10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब में चुनाव नजदीक आते ही बस ट्रांसपोर्ट का मामला गर्मा गया है। एक तरफ AAP संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस सरकार पर माफिया को साथ रखने का आरोप लगाया। इसके जवाब में CM चरणजीत चन्नी ने कहा कि उन्होंने बादल परिवार की AC बसें थाने में बंद करवा दी। हालांकि बसों पर कार्रवाई के मामले में अब पंजाब के ट्रांसपोर्ट मंत्री अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग को बड़ा झटका लगा है। पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने मंत्री को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। यह नोटिस अकाली नेता की बसों के परमिट रद्द करने पर भेजा गया है।

पंजाब के ट्रांसपोर्ट मंत्री अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग
पंजाब के ट्रांसपोर्ट मंत्री अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग

अकाली नेता ने मंत्री के ऑर्डर को किया चैलेंज
HC में यह पिटीशन अकाली नेता और न्यू दीप बस सर्विस के पार्टनर हरदीप सिंह ढिल्लो ने दायर की थी, जिसकी सुनवाई में जस्टिस अजय तिवारी और जस्टिस पंकज जैन ने आदेश दिए। इसमें पंजाब सरकार को भी नोटिस दिया गया है। अकाली नेता के वकील एडवोकेट रोहित सूद और अमनदीप तलवार ने कहा कि उनके परमिट अवैध तरीके से रद्द किए गए हैं।

इसके लिए उन्होंने मंत्री के 12 नवंबर के ऑर्डर का हवाला दिया है। उन्होंने इस आदेश को लागू करने पर रोक लगाने की मांग की है। इसके अलावा उनकी जब्त की गई बसों को भी तत्काल छोड़ने की मांग की गई है।

सरकार ने गलत तरीके से जब्त की 26 बसें
पिटीशन में कहा गया कि उन्हें फरवरी 2018 में सरकार ने बसों के परमिट जारी किए थे। परमिट की शर्तों के मुताबिक वह बसें चला रहे थे। कोरोना की वजह से लॉकडाउन लगने के बाद 23 मार्च 2020 को बसें बंद हो गई। बसें बाद में सिर्फ 50% क्षमता के साथ शुरू हुई।

इसके बाद दूसरी लहर में फिर बसें बंद हो गईं। इसके बावजूद 12 नवंबर को उनकी 26 बसें जब्त कर ली गई। उन्होंने किश्तों में टैक्स भरने की रियायत मांगी और पहली किश्त भर भी दी। इसके बावजूद उनकी बसों पर मंत्री कार्रवाई कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...