पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • The Policeman Petitioned Not Me, The Fellow Policeman Was Doing The Recovery, The High Court Said You Were Seeing Wrong Things Going Wrong, You Will Not Get Bail

अवैध वसूली मामले में हाईकोर्ट का आदेश:पुलिसकर्मी ने याचिका लगाई- वसूली मैं नहीं, साथी पुलिस वाला कर रहा था, हाईकोर्ट ने कहा- गलत होते देख तो रहे थे, जमानत नहीं मिलेगी

चंडीगढ़3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • फाजिल्का में पुलिस नाके पर ट्रक चालकों से अवैध वसूली करने का मामला

फाजिल्का में पुलिस नाके पर ट्रक चालकों से अवैध वसूली के वायरल वीडियो मामले में पुलिस कर्मी ने हाईकोर्ट से जमानत दिए जाने की मांग करते हुए कहा कि वह तो ट्रक रोक रहा था। वसूली उसका साथी पुलिस कर्मी कर रहा था। ऐसे में उसे जमानत का लाभ दिया जाए। हाईकोर्ट ने जमानत की मांग खारिज करते हुए कहा कि वह गलत होते तो देख रहा था। एक पुलिस वाले से ये उम्मीद नहीं की जा सकती कि अवैध वसूली पर वह आंखें बंद कर ले। जस्टिस अवनीश झिंगन ने जमानत की मांग को खारिज करते हुए कहा कि पुलिस कर्मी को यदि जमानत का लाभ दिया गया तो वह मामले से जुड़े गवाहों को प्रभावित कर सकता है। ऐसे में जमानत का लाभ नहीं दिया जा सकता।

पुलिस से ये उम्मीद नहीं कि वो अवैध वसूली पर आंखें बंद कर ले: हाईकोर्ट

कोर्ट ने कहा- ये दलील ट्रायल कोर्ट में दें यहां नहीं...पंजाब पुलिस कर्मी परमजीत सिंह ने जमानत दिए जाने की मांग करते हुए कहा कि वायरल वीडियो क्लिप में भी वह ट्रक रोक रहा है। लोगों से कोई रुपए नहीं ले रहा। हाईकोर्ट ने इस पर कहा कि यह दलील ट्रायल कोर्ट में सुनवाई के दौरान दी जाए। जमानत की मांग करते हुए इस पर विचार नहीं किया जा सकता। अवैध वसूली से आंखें नहीं चुराई जा सकती। डिस्पलनड फोर्स के सदस्य से यह उम्मीद नहीं की जा सकती कि वह रुपयों की वसूली को अनदेखा कर दे।

सह आरोपी को जमानत मां के निधन पर दी, आपको नहीं मिलेगी...सुनवाई के दौरान परमजीत सिंह की तरफ से कोर्ट में कहा गया कि मामले में सह आरोपी को अंतरिम जमानत का लाभ दे दिया गया। ऐसे में उसकी जमानत की मांग भी मंजूर की जाए। हाईकोर्ट ने इस पर कहा कि सह आरोपी को अंतरिम जमानत का लाभ मां के निधन पर अंतिम क्रिया कर्म में शामिल होने के लिए दिया गया था लिहाजा इस दलील को मंजूर नहीं किया जा सकता।

यह है मामला-

एक वीडियो क्लिप वायरल हुई जिसमें एक पुलिस कर्मी नाके पर ट्रक रोक रहा है और दूसरा ट्रक ड्राइवरों से अवैध वसूली कर रहा है। इस मामले की डीएसपी स्तर पर जांच के बाद 24 अगस्त 2020 को फाजिल्का के खुइयां सरवर पुलिस थाने में भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत केस दर्ज कर लिया गया था।

खबरें और भी हैं...