• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • The Secret Of The Death Of Popli's Son Will Be Revealed Today, The Post mortem Will Reveal Murder Or Suicide; Son Of Senior IAS Of Punjab

IAS पोपली के बेटे का पोस्टमार्टम टला:चंडीगढ़ में विजिलेंस रेड के दौरान लगी गोली; परिवार बोला- मर्डर है; कल लगेगा पता

चंडीगढ़5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब के सीनियर IAS अफसर संजय पोपली के बेटे कार्तिक पोपली (26) की मौत का राज अब सोमवार को खुलेगा। रविवार को उसका पोस्टमार्टम नहीं हो पाया। सेक्टर 16 अस्पताल में उसकी बॉडी मोर्चरी में रखी हुई है। परिवार इसे हत्या बता रहा है। वहीं पंजाब विजिलेंस का कहना है की कार्तिक ने खुद को गोली मारी है। शनिवार को सेक्टर 11 चंडीगढ़ की कोठी नंबर 520 में विजिलेंस रेड के दौरान यह घटना हुई।

रविवार सुबह से ही पुलिस कार्तिक के पोस्टमार्टम के लिए तैयारी में जुटी रही। वहीं दोपहर तक परिवार घर से बाहर नहीं निकला। ऐसे में मृतक की पहचान और पोस्टमार्टम के लिए आवश्यक कार्रवाई नहीं हो सकी। सूत्रों के मुताबिक परिवार पीजीआई से डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम करवाना चाहता था। हालांकि परिवार ने इसकी कोई पुष्टि नहीं की है। पुलिस ने भी संपर्क करने की कोशिश की लेकिन परिवार बात करने की हालत में नहीं है।

बेटे के अंतिम संस्कार में शामिल होने की मंजूरी मिले

परिवार की तरफ से एडवोकेट मतविंदर सिंह ने कहा कि एक अर्जी कोर्ट को देंगे। इसमें संजय पोपली को अपने बेटे के अंतिम संस्कार के हिसाब से सभी जगह पर जाने देने की मांग की जाएगी। उन्होंने कहा कि परिवार का जीएमएसएच 16 में पोस्टमार्टम को लेकर विरोध नहीं है। जहां भी पुलिस पोस्टमार्टम करवाना चाहे वह करवा सकते हैं।

दोपहर 2.30 बजे परिवार गाड़ी में सेक्टर 11 घर से निकला। उम्मीद जताई जा रही थी की पोपली परिवार सेक्टर 16 अस्पताल आ रहा है। वहीं जानकारी के मुताबिक परिवार संजय पोपली को मिलने जीएमसीएच 32 चला गया। संजय पोपली का रिमांड पूरा होने के बाद उनका मेडिकल करवा जेल भेजने की तैयारी थी। इस बीच पोपली की तबीयत खराब होने के चलते उन्हें कुछ देर के लिए जीएमसीएच 32 में एडमिट किया गया। कुछ समय बाद उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया।

घर में मौजूद संजय पोपली का परिवार।
घर में मौजूद संजय पोपली का परिवार।

कार्तिक का पोस्टमार्टम मेडिकल बोर्ड करेगा। परिवार ने उसकी हत्या करने का आरोप लगाया है। ऐसे में मेडिकल बोर्ड यह देखेगा कि कार्तिक की मौत हत्या थी या आत्महत्या। सिर पर गोली लगने से कार्तिक की मौत हुई थी। वारदात के समय पंजाब विजिलेंस की टीम संजय पोपली को रिमांड के दौरान घर लाई थी। घर की पहली मंजिल पर वारदात हुई थी।

कार्तिक की मां श्री पोपली और भ्रष्टाचार के आरोपी संजय पोपली पंजाब विजिलेंस पर कार्तिक की हत्या करने के आरोप लगा चुके हैं। वहीं पंजाब पुलिस का कहना है कि कार्तिक ने आत्महत्या की है। उसने खुद सिर पर गोली मारी थी। कार्तिक के पोस्टमार्टम के बाद ही मौत के असल कारणों का पता चल पाएगा।

वकील से कानूनी राय ली

कार्तिक पोपली के परिवार से मिलने वकील मतविंदर सिंह भी यहां पहुंचे। उनसे परिवार ने कानूनी राय भी ली। वहीं सूत्रों के मुताबिक परिवार पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ अदालत की भी शरण ले सकता है।

जज बनता चाहता था कार्तिक

लॉ स्टूडेंट कार्तिक ज्यूडिशियल एग्जाम की तैयारी कर रहा था और जज बनना चाहता था। उसने ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी, सोनीपत से 2019 में लॉ की पढ़ाई पूरी की थी। विजिलेंस ने पोपली के घर से शनिवार को रेड के दौरान भारी मात्रा में सोना-चांदी बरामद किया था। विजिलेंस के मुताबिक इससे कार्तिक घबरा गया था। ऐसे में उसने घबराहट और तैश में आकर यह कदम उठाया। इसमें विजिलेंस का कोई रोल नहीं है। मौके पर एसएसपी, चंडीगढ़ कुलदीप सिंह चहल भी पहुंचे थे। मामले की गहनता से उसी वक्त जांच पड़ताल की गई।

सोमवार को पोस्टमार्टम के बाद पंजाब पुलिस की कस्टडी में आईएएस संजय पोपली को बेटे के अंतिम दर्शनों के लिए लाया जाएगा। संजय पोपली पर आरोप था कि उन्होंने नवांशहर में सीवरेज पाइपलाइन बिछाने के टेंडर को क्लीयरेंस सर्टिफिकेट देने के लिए 1 प्रतिशत रिश्वत मांगी थी। इसे लेकर बीते 21 जून को उनकी गिरफ्तारी हुई थी। इस दौरान उनके घर से आर्म्स भी रिकवर हुए थे।