पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • The UT Police Have Filed A Chargesheet Against Two Accused Ankit Narwal, Alleged Aide Of Gangster Lawrence Bishnoi, And Prabhat Thyagi In The Alleged Extortion Racket Being Operated From The Burail Jail.

चंडीगढ़ की बुड़ैल जेल में लॉरेंस का रंगदारी रैकेट:केरल के कारोबारी की शिकायत पर 2 के खिलाफ चार्जशीट दाखिल, आरोपियों में गैंगस्टर बिश्नोई का साथी अंकित नरवाल और प्रभात त्यागी शामिल

चंडीगढ़9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बुड़ैल जेल से चलाए जा रहे कथित जबरन वसूली रैकेट में चंडीगढ़ पुलिस ने 2 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दायर की है। - Dainik Bhaskar
बुड़ैल जेल से चलाए जा रहे कथित जबरन वसूली रैकेट में चंडीगढ़ पुलिस ने 2 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दायर की है।

बुड़ैल जेल से चलाए जा रहे कथित जबरन वसूली रैकेट में चंडीगढ़ पुलिस ने 2 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दायर की है। इनमें गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के कथित सहयोगी अंकित नरवाल और प्रभात त्यागी शामिल हैं। यह चार्जशीट IPC की धारा 386 (किसी व्यक्ति को मौत या गंभीर चोट के डर से जबरन वसूली) और 506 (आपराधिक धमकी), 34 और 120-B के तहत दायर की गई है।

अदालत ने आरोपी को 20 सितंबर के लिए नोटिस जारी किया है। पुलिस ने केरल के एक व्यवसायी फिलिप जैकब और इस साल अप्रैल में गिरफ्तार एक आरोपी की शिकायत पर मामला दर्ज किया है। चंडीगढ़ पुलिस के ऑपरेशन सेल ने जैकब को प्रभात त्यागी सहित 5 अन्य के साथ अप्रैल में सेक्टर-17 से गिरफ्तार किया था। इन पर एक होटल से रेमडेसिविर इंजेक्शन में अवैध रूप से कारोबार करने का आरोप है।

जैकब ने आरोप लगाया कि प्रभात त्यागी ने गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के सहयोगी नरवाल के साथ मिलकर, जो उसी बैरक में था, उससे 2 लाख रुपए की उगाही की। जमानत पर बाहर आने के बाद जैकब ने सेक्टर-49 थाने में शिकायत दर्ज कराई। जैकब ने आरोप लगाया कि जबरन वसूली की मांग शुरू में त्यागी ने की थी।

धमकी देकर ऐसे कराए पैसे ट्रांसफर
जैकब ने कहा कि प्रभात त्यागी ने उसे धमकी देते हुआ कहा था कि अंकित नरवाल एक बड़ा गैंगस्टर था और वह लॉरेंस बिश्नोई गिरोह से था। उनके पास देशभर में 6,000 से अधिक शूटर थे और जब वह अदालत में सुनवाई के लिए आएगा तो वे उसे मार देंगे। अंकित नरवाल और प्रभात त्यागी ने उन्हें कई बार रंगदारी के पैसे देने की धमकी दी और अंकित नरवाल ने अपने भाई का फोन नंबर दिया और पैसे ट्रांसफर कराने के लिए उससे तालमेल करने को कहा। जैकब ने कहा कि उसने जेल अथॉरिटी द्वारा प्रदान की गई कॉलिंग सुविधा के माध्यम से अपनी पत्नी से बात की और बैंक अकाउंट डिटेल्स, PAN कार्ड और आधार कार्ड प्राप्त करने के लिए नरवाल के भाई विकास का फोन नंबर दिया।

बदले में, विकास ने अपनी पत्नी को बैंक डिटेल भेजीं, जिसने उसके बेटे के खाते से 2 लाख रुपए ट्रांसफर कर दिए। उन्होंने आरोप लगाया कि दो लाख रुपए लेने के बाद प्रभात त्यागी और अंकित नरवाल ने उन्हें फिर से जान से मारने की धमकी दी और 10 लाख रुपए मांगे। जमानत पर बाहर आने के बाद उससे 30 लाख रुपए की मांग की और ऐसा न करने की सूरत में शूटर से मरवाने की बात की। इसके साथ ही यह धमकी भी दी कि वह किसी को कुछ भी न बताएं।

खबरें और भी हैं...