पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • There Will Be A Meeting In PU Next Week On Opening The Campus; Data Of Vaccinated Students Being Collected, According To The Survey, 60 Percent Got Vaccinated.

स्टूडेंट्स के काम की खबर...:कैंपसेस खोलने पर अगले हफ्ते PU में होगी मीटिंग;जुटाया जा रहा वैक्सिनेटेड स्टूडेंट्स का डाटा,सर्वे के मुताबिक 60 फीसदी काे लगा टीका

चंडीगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया ने अपने स्तर पर यूनिवर्सिटी कैंपस में सर्वे किया था जिसके अनुसार 60 फीसदी स्टूडेंट्स की वैक्सीनेशन हो चुकी है। - Dainik Bhaskar
नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया ने अपने स्तर पर यूनिवर्सिटी कैंपस में सर्वे किया था जिसके अनुसार 60 फीसदी स्टूडेंट्स की वैक्सीनेशन हो चुकी है।

UT प्रशासन ने सभी एजुकेशनल इंस्टीट्यूट और यूनिवर्सिटी को अगस्त से अपनी क्लासेज शुरू करने को कहा है। वहीं पंजाब सरकार ने भी अगस्त से कॉलेज और यूनिवर्सिटी ही नहीं बल्कि स्कूल खोलने के आदेश भी कर दिए हैं।

ऐसे में सभी आदेश पर विचार के लिए यूनिवर्सिटी की अगले हफ्ते में मीटिंग होगी। हालांकि कैंपस आगामी एकेडमिक्स सेशन से ही खुलने की संभावना है। पहले से जारी क्लासेस के लिए यह सेशन अगस्त में ही शुरू हो जाएगा जबकि बाकियों के लिए सितंबर से इसकी शुरुआत होगी।

वैक्सीनेशन के आंकड़े जुटा रही यूनिवर्सिटी

यूनिवर्सिटी ने अपने टीचरों और नॉन टीचिंग स्टाफ की वैक्सीनेशन से संबंधित आंकड़े जुटाने शुरू कर दिए हैं लेकिन अभी तक उनके पास स्टूडेंट के संबंध में कोई जानकारी नहीं है। UP के एजुकेशन डिपार्टमेंट ने भी PU से इस संबंध में जानकारी इकट्ठी करने को कहा था लेकिन सिर्फ कॉलेजों और पेक ने अपने आंकड़े शेयर किए हैं। इसके अनुसार अभी तक 67% स्टूडेंट्स को ही वैक्सीन लगी है। हालांकि पहले जरूरी है कि सभी स्टूडेंट्स को वैक्सीन की पहली डोज़ लगे कम से कम 2 सप्ताह हो चुके हो लेकिन यूनिवर्सिटी ने स्टूडेंट से ऐसी कोई जानकारी अभी तक नहीं मांगी है।

सर्वे के मुताबिक 60 परसेंट स्टूडेंट्स का हुआ वैक्सीनेशन

नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया ने अपने स्तर पर यूनिवर्सिटी कैंपस में सर्वे किया था जिसके अनुसार 60 फीसदी स्टूडेंट्स की वैक्सीनेशन हो चुकी है। इसी आधार पर कैंपस खोलने की डिमांड की थी। उनका कहना है कि कम से कम प्रेक्टिकल कोर्सेज वाले स्टूडेंट्स को प्रेक्टिकल कराए जाएं। इस बीच यूनिवर्सिटी के DSW प्रो.SK तोमर ने सभी रेजिडेंट्स को ईमेल के जरिए वैक्सीनेशन कराने के लिए पिछले हफ्ते ही लिख दिया है ताकि कैंपस खोलने की सूरत में वह लौट सके। कैंपस के सभी डिपार्टमेंट स्टाफ और टीचर्स का डाटा मांगा गया है। सारे डाटा कलेक्शन और एकेडमिक कैलेंडर फाइनल होने के बाद ही इसका फैसला हो सकेगा कि कैंपस कब तक खुलेंगे। यदि कोरोनावायरस के हालात सही रहते हैं तो सितंबर से क्लासेस शुरू हो सकती हैं।