नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी:गिरोह के मास्टरमाइंड जितेंद्र के खिलाफ 3 और नई शिकायतें दर्ज, खुलासा- 2 साल से चल रहा था खेल

चंडीगढ़एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सेक्टर-3 थाना - फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
सेक्टर-3 थाना - फाइल फोटो

हरियाणा विधानसभा में फर्जी इंटरव्यू लेटर, जॉइनिंग लेटर और दूसरे दस्तावेज बनाकर लोगों को नौकरी दिलाने वाले मामले में नया मोड़ सामने आया है। पुलिस इस मामले में जुड़े अन्य लोगों को अभी गिरफ्तार नहीं कर पाई है। लेकिन इस गिरोह का भंडाफोड़ होने के बाद मास्टरमाइंड जितेंद्र के खिलाफ तीन नई शिकायतें और आ गई हैं। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए नई शिकायतों से जुड़े लोगों के बयान दर्ज करके सबूत के रूप में अन्य दस्तावेजों को जुटाना शुरू कर दिया है।

पुलिस बहुत जल्द मामले में मास्टरमाइंड सहित अन्य आरोपियों के खिलाफ बनती नई धाराएं जोड़ सकती है। बता दें कि इस मामले में पुलिस विभाग की विशेष जांच टीम ने एक-एक करके मास्टरमाइंड समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया था। वहीं आरोपियों को सहयोग करने वाले विधानसभा में कार्यरत कर्मियों के नाम अभी पुलिस उजागर नहीं कर पाई है। पूछताछ में सामने आया है कि 2 वर्षों से ठगी का खेल चल रहा था।

क्या था मामला

गत 28 अक्टूबर को हरियाणा विधानसभा में एक व्यक्ति अपने रिश्तेदार के नाम का इंटरव्यू लेटर लेकर पहुंचा था। उक्त व्यक्ति जितेंद्र कुमार ने बताया कि उसके रिश्तेदार ने विधानसभा में नौकरी के लिए आवेदन किया था और अब इंटरव्यू लेटर मिला है। जबकि हरियाणा विधानसभा में इस तरह की कोई नौकरी नही निकलने की वजह से मौजूद कर्मचारियों को संदेह हुआ।

उन्होंने अपनी तरफ से इंटरव्यू लेटर की जांच की तो वह फर्जी निकला। इसका शिकायत पुलिस को दी गई। सेक्टर-3 थाना पुलिस ने जांच करने के बाद कार्रवाई करते हुए आरोपी मास्टरमाइंड जितेंद्र को विधानसभा चौक के पास से गिरफ्तार कर लिया। इसके 2 दिन बाद मामले में शामिल दो आरोपियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया।

खबरें और भी हैं...