आरोप / सेक्टर्स में बढ़ने लगे वेंडर्स, रोड किनारे बिक रही सब्जी

X

  • सेक्टर्स में बढ़ने लगे वेंडर्स, रोड किनारे बिक रही सब्जी

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

चंडीगढ़. लॉकडाउन 4 लागू है, लेकिन अब प्रशासन से सब्जी और फ्रूट्स सीटीयू की बसों में वेंडर्स बैठाकर सप्लाई करना बंद कर दिया है। निगम कमिश्नर केके यादव की ओर से हर सेक्टर में आठ-आठ वेंडर रजिस्टर्ड को रेहड़ी व टैंपो से सब्जी सप्लाई करने में लगा दिया। इनकी आड़ में अब शहर के हर सेक्टर में 12 से कम वेंडर नहीं हैं। यह सब एरिया पुलिस और एमसी के इंफोर्समेंट स्टाफ की मिलीभगत से हो रहा है।
अब ये वी थ्री फोर फाइव रोड पर ही रेहड़ी लगाकर खड़े हो रहे हैं। स्ट्रीट वेंडर एक्ट के तहत ऐसा किए जाने वाले वेंडर का सामान जब्त किया जाता है और जुर्माना भी 2 हजार रुपए लगता है, लेकिन ऐसा कुछ नहीं किया जा रहा है। शहर की कोई ऐसी रोड नहीं बची है जिसके किनारे या रोड पर रेहड़ी, टैंपो लगाकर सब्जी और फ्रूट बेचने वाले वेंडर न खड़े हों। यूं कहिए शहर की रोड्स पर इस समय वेंडर्स का जमघट लगा हुआ है। उन्हें न ट्रैफिक की परवाह है न ही किसी पुलिस इंस्पेक्टर या इंफोर्समेंट इंस्पेक्टर का भय है। अब ये बेधड़क होकर रोड पर ही फ्रूट्स बेचने 
लगे हैं, जबकि कुछ सब्जी वाली रेहड़ियां भी मेन रोड पर खड़ी हो रही हैं। निगम की ओर से हर सेक्टर में 6 से 8 रजिस्टर्ड वेंडर की तैनाती की गई है। उन्हें बाकायदा पास बनाकर दिए हुए हैं। इनकी आड़ में अब शहर के सेक्टर्स में तय वेंडर की संख्या ज्यादा बढ़ गई हैं। इन्हें चेक करना एमसी और पुलिस का काम है। लेकिन कोई भी इन्हें चेक नहीं कर रहा है। न ही ये वेंडर कोविड 19 की गाइड लाइन को प्रॉपर फॉलो कर रहे हैं। मॉस्क नाम मात्र मुंह पर लगाकर रखते हैं जबकि ग्लोव्स पहनकर रखते ही नहीं हैं। 

हर सेक्टर में आठ-आठ रजिस्टर्ड वेंडर को लगाया गया है। उन्हें बाकायदा पास बनाकर दिए हुए हैं। इन्हें चैक करना पुलिस का काम है। क्योंकि पुलिस को वेंडर के पास चेक करने को कहा गया है। क्योंकि इंफोर्समेंट स्टाफ की ड्यूटी अभी सेक्टर्स में दूध एवं सब्जी सप्लाई आदि में लगाई हुई है। अगर पुलिस इन्हें मेन रोड से नहीं हटा रही है तो इंफोर्समेंट स्टाफ को लगाकर इन्हें चेक करवाया जाएगा।- केके यादव, नगर निगम कमिश्नर

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना