पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Wheelchair Cricketer Living In Cheshire Home Reaches Court, Filed Case Against Administration; Court Seeks Reply Till January 20.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

न्याय के लिए:चेशायर होम में रह रहे व्हीलचेयर क्रिकेटर पहुंचे कोर्ट, प्रशासन के खिलाफ किया केस;कोर्ट ने 20 जनवरी तक मांगा जवाब

चंडीगढ़9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ये केस इंडियन व्हीलचेयर क्रिकेट टीम के मेंबर और पंजाब व्हीलचेयर क्रिकेट टीम के कप्तान वीर संधू की तरफ से फाइल किया गया है। - Dainik Bhaskar
ये केस इंडियन व्हीलचेयर क्रिकेट टीम के मेंबर और पंजाब व्हीलचेयर क्रिकेट टीम के कप्तान वीर संधू की तरफ से फाइल किया गया है।
  • पंजाब व्हीलचेयर क्रिकेट टीम के कप्तान वीर संधू ने कहा-जब तक उन्हें किसी व्हीलचेयर फ्रैंडली जगह नहीं दी जाती तब तक उन्हें यहां से शिफ्ट न किया जाए

पिछले 5 साल से सेक्टर-21 के चेशायर होम में रह रहे व्हीलचेयर क्रिकेटर्स ने यूटी प्रशासन के खिलाफ चंडीगढ़ जिला अदालत में सिविल केस फाइल किया है। इन्होंने कोर्ट से मांग की है कि इन्हें चेशायर होम से न निकाला जाए। पूरे शहर में केवल चेशायर होम ही व्हीलचेयर फ्रैंडली जगह है। इसलिए जब तक उनके लिए व्हीलचेयर फ्रैंडली जगह का इंतजाम नहीं हो जाता तब तक प्रशासन उन्हें यहां से शिफ्ट न करे। व्हीलचेयर क्रिकेटर्स की इस याचिका पर कोर्ट ने प्रशासन को 20 जनवरी तक जवाब देने के लिए नोटिस कर दिया है।

ये केस इंडियन व्हीलचेयर क्रिकेट टीम के मेंबर और पंजाब व्हीलचेयर क्रिकेट टीम के कप्तान वीर संधू की तरफ से फाइल किया गया है। संधू समेत 17 व्हील चेयर क्रिकेटर्स 2015 से चेशायर होम में रह रहे थे। ये सभी क्रिकेटर पंजाब के अलग-अलग शहरों से आकर यहां रहे थे। इन्होंने 2017 में व्हील चेयर क्रिकेट सोसायटी बनाई और व्हील चेयर क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया। ये सभी सेक्टर-21 में ही क्रिकेट की प्रैक्टिस करते हैं। लेकिन कुछ समय पहले उन्हें पता चला कि यूटी प्रशासन चेशायर होम को खाली करवाकर यहां मेंटली चैलेंज्ड लाेगाें के लिए एक स्पेशल होम बनाना चाहता है। जिसके लिए व्हीलचेयर क्रिकेटर्स से ये जगह खाली करवाई जाएगी। जिसके बाद इन्होंने प्रशासन से बात की।

प्रशासन ने जो जगह बताई, वह व्हीलचेयर फ्रैंडली नहीं है
वीर संधू ने बताया कि जब उन्होंने प्रशासन से बात की तो उन्हें रहने के लिए दो विकल्प दिए। प्रशासन ने कहा कि अगर वे चाहें तो 3 हजार रुपए किराया देकर मलोया के फ्लैट्स में रह सकते हैं। या फिर वे सेक्टर-42 के हॉकी स्टेडियम में भी रह सकते हैं। वीर संधू ने कहा कि वे सभी नेशनल-इंटरनेशनल प्लेयर हैं और मलोया कालोनी उनके रहने के लिए सही जगह नहीं है। जबकि सेक्टर-42 हॉकी स्टेडियम व्हीलचेयर फ्रैंडली नहीं है। वीर संधू ने कहा कि अगर प्रशासन चेशायर होम में मेंटली चैलेंज्ड बच्चों का होम बनाना चाहता है तो वे उनके साथ हैं। लेकिन इससे पहले उन्हें भी कहीं अच्छी जगह शिफ्ट किया जाए।

क्रिकेट नेट भी उखाड़ दिया
वीर संधू ने कहा कि वे प्रशासन के हर फैसले को मानने को तैयार हैं। लेकिन प्रशासन उनके साथ सही बर्ताव नहीं कर रहा है। प्रशासन यहां मेंटली चैलेंज्ड के लिए होम बनाने जा रहा है लेकिन इस बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं दी गई। प्रशासन को अगर उन्हें कहीं और शिफ्ट करना है तो पहले उन्हें बताया तो जाए। इतना ही नहीं प्रशासन ने उनका प्रैक्टिस नेट भी उखाड़ दिया। वीर संधू ने कहा कि व्हील चेयर क्रिकेटर्स ने सिर्फ चंडीगढ़ ही नहीं बल्कि देश का नाम भी रोशन किया है। इसलिए उन्हें साथ ऐसा बर्ताव न किया जाए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपको कई सुअवसर प्रदान करने वाली हैं। इनका भरपूर सम्मान करें। कहीं पूंजी निवेश करने के लिए सोच रहे हैं तो तुरंत कर दीजिए। भाइयों अथवा निकट संबंधी के साथ कुछ लाभकारी योजना...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser