प्रदर्शन / भाजपाई जब विपक्ष में थे तब रेट बढ़ने पर करते थे हल्ला, अब महंगाई चरम पर तो चुप क्यों हैं

सेक्टर-17 प्लाजा में पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाने को लेकर विरोध प्रदर्शन करते कांग्रेसी। सेक्टर-17 प्लाजा में पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाने को लेकर विरोध प्रदर्शन करते कांग्रेसी।
X
सेक्टर-17 प्लाजा में पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाने को लेकर विरोध प्रदर्शन करते कांग्रेसी।सेक्टर-17 प्लाजा में पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाने को लेकर विरोध प्रदर्शन करते कांग्रेसी।

  • पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ाने के खिलाफ कांग्रेस ने किया विरोध प्रदर्शन
  • जनहित में सरकार वापस लिया जाए डीजल-पेट्रोल में की गई वृद्धि का फैसला, ऐसा न होने पर और करेंगे प्रदर्शन

दैनिक भास्कर

Jun 30, 2020, 08:34 AM IST

चंडीगढ़. पेट्रोल और डीजल के दामों में लगातार हो रही बढ़ोतरी के विरोध में चंडीगढ़ कांग्रेस ने सेक्टर-17 प्लाजा में केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया। पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल, चंडीगढ़ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रदीप छाबड़ा की प्रमुखता में यह प्रदर्शन किया गया। करीब 2 घंटे चले इस विरोध प्रदर्शन में कई लोगों ने जमकर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। कई कार्यकर्ता तो अर्धनग्न हो कर नारेबाजी करते नजर आए। 
यहां पर महंगाई से मरणासन्न देश की जनता के प्रतीक के रूप में पार्टी के एक कार्यकर्ता को लिटाकर कांग्रेसियों ने मोदी सरकार को जमकर कोसा। केंद्र सरकार और बीजेपी के खिलाफ नारेबाजी की। पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल ने यहां कहा कि देश में पहली बार डीजल के दाम पेट्रोल से ज्यादा हो गए लेकिन विपक्ष में रहने के दौरान महंगाई पर हंगामा करने वाली भाजपा और उसके कार्यकर्ता अब चुप बैठे हैं।

उनके पास पेट्रोल-डीजल की मौजूदा कीमतों पर कोई वाजिब जवाब नहीं है। कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने सुबह 10 से दोपहर करीब 12 बजे तक प्रदर्शन किया। कहा कि इस वक्त लोगों को जरूरत है कि ज्यादा से ज्यादा छूट की है क्योंकि कई लोगों की नौकरियां जा चुकी हैं। कई लोग आधी से भी कम सैलरी पर काम करने के लिए मजबूर हो रहे हैं।

कांग्रेस के समय ऐसी महंगाई कभी नहीं रही
प्रदीप छाबड़ा ने कहा कि यूपीए सरकार के शासन में महंगाई कभी इस ग्राफ पर नहीं पहुंची थी, जितनी आज है। छाबड़ा ने कहा एक तरफ कोरोना काल में हुए लॉकडाउन के कारण काम-धंधे चौपट हो जाने से परेशान लोगों को मोदी सरकार ने राहत देने के बजाय महंगाई के संकट में धकेल दिया है। उन्होंने केंद्र की भाजपा सरकार से मांग की कि महंगाई को कंट्रोल कर देश की जनता को राहत पहुंचाई जाए। पेट्रोल-डीजल के रेट में की गई बढ़ोतरी को फौरन वापस लिया जाए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना