खेल / किंग्स इलेवन पंजाब के खेमे में शामिल किए गए यंग ऑलराउंडर तजिंदर सिंह आईपीएल के लिए तैयार

Young all-rounder Tajinder Singh included in Kings XI Punjab camp ready for IPL
X
Young all-rounder Tajinder Singh included in Kings XI Punjab camp ready for IPL

  • किंग्स-11 के ऑलराउंडर कर रहे प्रैक्टिस, नई शुरुआत करने को बेताब

दैनिक भास्कर

Jun 02, 2020, 05:00 AM IST

चंडीगढ़. किंग्स इलेवन पंजाब के खेमे में शामिल किए गए यंग ऑलराउंडर तजिंदर सिंह की प्रैक्टिस जारी है और उन्हें पूरी उम्मीद है कि आईपीएल का आयोजन इस बार जरूर होगा। वे आईपीएल में अपने आप को साबित करने को बेताब हैं। उन्होंने किंग्स इलेवन पंजाब से बात करते हुए कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि इंडियन प्रीमियर लीग का आयोजन इस साल जरूर होगा, भले ही वो थोड़ी देर से अक्टूबर-नवंबर में ही हो।

तजिंदर के साथ साथ टीम कोच अनिल कुंबले को भी पूरा विश्वास है कि आईपीएल सीजन-13 खाली स्टैंड्स और लिमिटेड वेन्यू पर खेला जा सकता है। इसके अलावा इंडियन कोच रवि शास्त्री के साथ-साथ ब्रेंडन मैक्कुलम व अंशुमन गायकवाड़ आदि को भी इस साल आईपीएल होने की उम्मीद है। 
तजिंदर ने कहा कि देश का हर क्रिकेटर आईपीएल में खेलने का सपना देखता है और रोज आप उस सपने को जीने की उम्मीद में कड़ी मेहनत करते है। 2018 में मुझे मुंबई इंडियंस ने चुना था, लेकिन उस साल एक भी गेम मुझे नहीं मिला। इस बार मेरे दोस्तों ने मुझे कहा कि ये मेरे लिए अच्छा करने का मौका है क्योंकि किंग्स इलेवन पंजाब की टीम हमेशा यंगस्टर्स और नए खिलाड़ियों को मौका देती है। तजिंदर ने कहा कि अगर अब आईपीएल नहीं होता है तो आप निश्चित रूप से बुरा महसूस करेंगे लेकिन फिर भी मुझे उम्मीद है कि यह बाद में जरूर होगा। 
लगातार अभ्यास कर रहे: आईपीएल का होना अभी तय नहीं है लेकिन तजिंदर अपने आप को फिट रखने के लिए अभ्यास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन जब शुरू हुआ था तो मुझे किंग्स-11 के फीजियो एंड्रयू लीपस की ओर से एक मैसेज मिला, जिसमें सभी प्लेयर्स को एक्सरसाइज करने को कहा गया था। उसके साथ-साथ मैं अपने रूटीन वर्कआउट को भी कर रहा हूं। मैं 1000 से 1200 स्किप करता हूं और जितना संभव हो सके उतना अपने घर के बैकयार्ड में रनिंग करता हूं। मेरा मकसद यही है कि मैं अपने आप को थकाऊं और रात को अच्छी नींद ले सकूं। 
मजदूरों की भी मदद की: तजिंदर ने लॉकडाउन में अपने घरों को जा रहे मजदूरों की भी मदद की। उन्होंने घर के पास लगते हाईवे पर 10,000 से भी अधिक लोगों को खाना और पानी मुहैया कराया। तजिंदर ने कहा कि कानपुर की तरफ जाने वाला मेन हाईवे मेरे घर से 100 मीटर की दूरी पर है। न्यूज में उस मार्ग के बारे में बताया गया जिसका उपयोग प्रवासी मजदूर घर लौटने के लिए कर रहे हैं। मैंने अपने पेरेंट्स से बात की कि हमें इन प्रवासी मजदूरों की मदद करनी चाहिए क्योंकि कई के पास तो चप्पल भी नहीं थे। इसके बाद मैंने उस रीजन में रहने वाले दोस्तों से बात की और हमने प्रवासियों को भोजन पहुंचाने की योजना बनाई।

शॉट सलेक्शन पर काम जारी... तजिंदर ने कहा कि वे अपने नेट सेशन में भी टाइम बिता रहे हैं ताकि शॉट सलेक्शन को बेहतर किया जा सके। उन्होंने कहा कि आमतौर पर मैं लंबे समय तक बल्लेबाजी करना पसंद नहीं करता लेकिन मैंने इस बार अपनी एप्रोच को बदला है और नेट्स में तीन से चार घंटे बिताने शुरू किए हैं। मैं इसके जरिए अपने शॉट सलेक्शन को बेहतर करना चाहता हूं ताकि जब किंग्स की तरफ से मुझे मौका मिले, मैं तैयार रहूं। आईपीएल हो या न हो, तजिंदर हमेशा की तरह क्रिकेट, ट्रेनिंग और एक्सरसाइज के साथ बने हुए हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना