• Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • 'Your Monkey, Your Circus', I Don't Interfere In Anybody's 'show'; Answer On The Discussion Of Not Accepting The Recommendation Of Sidhu

कांग्रेस संगठन पर जाखड़ का ट्वीट:'आपके बंदर, आपकी सर्कस', मेरा किसी के 'शो' में हस्तक्षेप नहीं; सिद्धू के सिफारिश न मानने की चर्चा पर जवाब

चंडीगढ़6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान सुनील जाखड़ ने नवजोत सिद्धू के संगठन बनाने को लेकर दिलचस्प ट्वीट किया है। जाखड़ ने कहा कि 'आपके बंदर, आपकी सर्कस', मैं इस कहावत को फॉलो करता हूं। मैंने न किसी को कुछ सुझाव दिया है और न ही दूसरे के 'शो' में हस्तक्षेप किया है।

जाखड़ का यह ट्वीट उन मीडिया रिपोर्ट्स के बाद आया है, जिनमें कहा गया कि नवजोत सिद्धू ने संगठन बनाते वक्त जाखड़ की सिफारिश नहीं मानी। जाखड़ के कहने के मुताबिक प्रधान या अन्य ओहदेदार नियुक्त नहीं किए। जाखड़ ने साफ किया कि वह पंजाब कांग्रेस में कोई हस्तक्षेप नहीं कर रहे। उसमें क्या करना है, वह नवजोत सिद्धू ही जानें।

जाखड़ का जवाब
जाखड़ का जवाब

ट्वीट को लेकर चर्चा में जाखड़
जाखड़ लगातार ट्वीट को लेकर चर्चा में रहते हैं। जाखड़ ने दो दिन पहले कहा था कि पंजाब में राजनीति ड्रामा हो गई है, जो बिल्कुल क्रिप्टो करंसी की तरह है। जो बिकती खूब है, लेकिन विश्वसनीय नहीं है। उनका यह ट्वीट सिद्धू से जोड़कर देखा गया। इससे पहले वह समझौते के लिए केदारनाथ गए सिद्धू और CM चरणजीत चन्नी को राजनीतिक तीर्थयात्री बता चुके हैं। जाखड़ ज्यादातर इशारों में कांग्रेस नेताओं पर ही हमला करते रहते हैं।

सिद्धू के हमले का इस तरह दिया था जवाब
सिद्धू के हमले का इस तरह दिया था जवाब

सिद्धू ने ट्वीट पर सवाल उठाए तो शायरी से दिया था जवाब
कुछ दिन पहले नवजोत सिद्धू ने कहा कि आजकल पुराने प्रधान खूब ट्वीट करते हैं। कभी उन्होंने मेरी तरह मुद्दे उठाए हैं। जाखड़ ने सिद्धू के बयान का यह हिस्सा ट्वीट किया। जिसमें उन्होंने लिखा कि 'बुत हमको कहे काफिर, अल्लाह की मर्जी है, सूरज में लगे धब्बा, फितरत के करिश्में हैं। बरकत जो नहीं होती, नीयत की खराबी है।' हालांकि इसके बाद सिद्धू ने इस पर कोई जवाब नहीं दिया।

कांग्रेस को रास नहीं आया संगठन का 'सिद्धू मॉडल':पार्टी प्रधान की भेजी कार्यकारिणी लिस्ट हाईकमान ने रोकी; विधायकों और वरिष्ठ नेताओं ने जताया एतराज​​​​​​​

प्रधान बनने से पहले सिद्धू कुछ इस तरह जाखड़ से मिले थे, लेकिन उसके बाद रिश्तों में खटास आ गई।
प्रधान बनने से पहले सिद्धू कुछ इस तरह जाखड़ से मिले थे, लेकिन उसके बाद रिश्तों में खटास आ गई।

कांग्रेस ने जाखड़ को नजरअंदाज किया, अब टेंशन बढ़ी
कांग्रेस ने सुनील जाखड़ को हटाकर नवजोत सिद्धू को पंजाब प्रधान बना दिया। तब उनके साथ कोई विवाद नहीं था। इसके बाद उन्हें CM बनाने के लिए बुलाया गया, लेकिन अंतिम समय में सिख स्टेट में सिख सीएम का मुद्दा बन गया। इसके बाद चरणजीत चन्नी सीएम बन गए। तब से जाखड़ नाराज होकर पार्टी से दूर बैठे हैं। जाखड़ पंजाब में कांग्रेस का बड़ा हिंदू चेहरा हैं। कांग्रेस हिंदू वोट बैंक के लिए उन्हें साथ लाना चाहती है, लेकिन वह राजी नहीं। पंजाब कांग्रेस इंचार्ज को भी उनके घर से खाली हाथ लौटना पड़ा था।

खबरें और भी हैं...