पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • Youth Akali Dal And SOI Activists Protest Outside Panjab University Vice Chancellor's Office On Monday Demanding Withdrawal Of The Report Of The Committee On Governance Reforms And Demand For Senate Elections.

पीयू में फिर धरने का माैसम शुरू होने वाला:पंजाब यूनिवर्सिटी वाइस चांसलर ऑफिस के बाहर गवर्नेंस रिफॉर्म्स पर बनाई कमेटी की रिपोर्ट वापस लेने और सीनेट इलेक्शन की मांग को लेकर यूथ अकाली दल और सोई कार्यकर्ता का सोमवार से धरना

चंडीगढ़3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यूथ अकाली दल और सोई की ओर से सोमवार से पीयू वाइस चांसलर ऑफिस के बाहर अपनी मांगों को लेकर धरना शुरु किया जा रहा है। फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
यूथ अकाली दल और सोई की ओर से सोमवार से पीयू वाइस चांसलर ऑफिस के बाहर अपनी मांगों को लेकर धरना शुरु किया जा रहा है। फाइल फोटो

पंजाब यूनिवर्सिटी वाइस चांसलर ऑफिस के सामने एक बार फिर से छात्र संगठन की ओर से अपनी मांगों को लेकर धरना लगाने का ऐलान किया गया है। यूथ अकाली दल और स्टूडेंट्स आर्गनाइजेशन ऑफ इंडिया (सोई) की ओर से पंजाब यूनिवर्सिटी के गवर्नेंस रिफॉर्म्स पर बनाई गई हाई पावर कमेटी की रिपोर्ट को वापस लेने और सीनेट के इलेक्शन कराने की मांग को लेकर वाइस चांसलर ऑफिस के बाहर सोमवार से धरना दिया जाएगा।

इस बारे यूथ अकाली दल के प्रेसिडेंट परबंस सिंह बंटी रोमाणा ने जानकारी दी है। इसके अलावा उन्होंने केंद्र सरकार और पंजाब यूनिवर्सिटी प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए है। उन्होंने पंजाब की कैप्टन सरकार पर आरोप लगाए और कहा कि वे स्टूडेंट के हितों का ख्याल नहीं रख रहे है जिससे स्थिति खराब हो रही है।

रोमाणा ने कहा कि सीनेट के इलैक्शन को लेकर यूनिवर्सिटी की ओर से लेटर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और उनके अधिकारियों तक पहुंच चुकी है लेकिन उनके पास इतनी फुरसत नहीं कि वह इसकी परमिशन दे दें। जब देश के कई क्षेत्रों में इलेक्शन हो सकते हैं तो पीयू में क्यों नहीं सीनेट के इलेक्शन हो सकते।

उन्होंने आरोप लगाया कि वाइस चांसलर प्रो. राजकुमार का ऑफिस इस समय आरएसएस के कार्यकर्ताओं का अड्डा बना हुआ है। वाइस चांसलर ज्वाइन करने के तुरंत बाद आरएसएस ऑफिस गए थे। उनके अनुसार सोमवार से चांसलर ऑफिस के बाहर यूथ अकाली दल और छात्र संगठन सोई की ओर से अपनी मांगों को लेकर धरना लगाया जा रहा है। जब तक उनकी मांगों पर कोई एक्शन नहीं होता यह धरना उस समय तक चलता रहेगा।

खबरें और भी हैं...