प्रवासी हुए खुश / गोरखपुर के लिए रवाना हुई पहली श्रमिक ट्रेन

घर के लिए जाते लोग दिखे उत्साहित: उत्तर प्रदेश के जिला खुशीनगर के रहने वाले संतोष गिरी ने बताया कि वह हिमाचल प्रदेश के लिए कंपनी में काम करता है।  वह अपने घर जाने के लिए काफी उत्साहित है।  वह और उसके साथ ही राजेंद्र ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाकर घर जाने के लिए अप्लाई किया था। उसने हिमाचल प्रदेश सरकार व प्रशासन का उन्हें घर पहुंचाने तक की व्यवस्था करने के लिए धन्यवाद किया।  उसने बताया कि यहां पर पुलि ओर प्रशासन ने खाने से लेकर हमें हमारे घर भेजने तक हम सब का ध्यान रख रही है। घर के लिए जाते लोग दिखे उत्साहित: उत्तर प्रदेश के जिला खुशीनगर के रहने वाले संतोष गिरी ने बताया कि वह हिमाचल प्रदेश के लिए कंपनी में काम करता है। वह अपने घर जाने के लिए काफी उत्साहित है। वह और उसके साथ ही राजेंद्र ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाकर घर जाने के लिए अप्लाई किया था। उसने हिमाचल प्रदेश सरकार व प्रशासन का उन्हें घर पहुंचाने तक की व्यवस्था करने के लिए धन्यवाद किया। उसने बताया कि यहां पर पुलि ओर प्रशासन ने खाने से लेकर हमें हमारे घर भेजने तक हम सब का ध्यान रख रही है।
X
घर के लिए जाते लोग दिखे उत्साहित: उत्तर प्रदेश के जिला खुशीनगर के रहने वाले संतोष गिरी ने बताया कि वह हिमाचल प्रदेश के लिए कंपनी में काम करता है।  वह अपने घर जाने के लिए काफी उत्साहित है।  वह और उसके साथ ही राजेंद्र ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाकर घर जाने के लिए अप्लाई किया था। उसने हिमाचल प्रदेश सरकार व प्रशासन का उन्हें घर पहुंचाने तक की व्यवस्था करने के लिए धन्यवाद किया।  उसने बताया कि यहां पर पुलि ओर प्रशासन ने खाने से लेकर हमें हमारे घर भेजने तक हम सब का ध्यान रख रही है।घर के लिए जाते लोग दिखे उत्साहित: उत्तर प्रदेश के जिला खुशीनगर के रहने वाले संतोष गिरी ने बताया कि वह हिमाचल प्रदेश के लिए कंपनी में काम करता है। वह अपने घर जाने के लिए काफी उत्साहित है। वह और उसके साथ ही राजेंद्र ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाकर घर जाने के लिए अप्लाई किया था। उसने हिमाचल प्रदेश सरकार व प्रशासन का उन्हें घर पहुंचाने तक की व्यवस्था करने के लिए धन्यवाद किया। उसने बताया कि यहां पर पुलि ओर प्रशासन ने खाने से लेकर हमें हमारे घर भेजने तक हम सब का ध्यान रख रही है।

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

कालका. कालका रेलवे स्टेशन से शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के लिए श्रमिक ट्रेन को रवाना किया गया। जिसमें हिमाचल प्रदेश में काम करने वाले श्रमिकों को उत्तर प्रदेश भेजा गया इस मौके पर भारी पुलिस बल समेत हिमाचल व कालका के प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद रहे।  कालका से चली है पहले श्रमिक ट्रेन शाम को 7:15 बजे के करीब कालका से गोरखपुर के लिए रवाना की गई। जिसमें परमाणु व बद्दी में आसपास हिमाचल प्रदेश के क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों को उत्तर प्रदेश भेजा गया।  जानकारी देते हुए कालका के एसडीएम राकेश संधू ने बताया कि हिमाचल प्रदेश सरकार के आग्रह पर कुछ श्रमिक ट्रेनें चलाई जानी है। जिसमें सिर्फ हिमाचल प्रदेश में ही रजिस्ट्रेशन करवा चुके लोगों को भेजा जाएगा। वहीं हिमाचल प्रदेश प्रशासन द्वारा कालका से गोरखपुर जाने वाले लोगों के लिए कालका रेलवे स्टेशन पर सेनेटाइजेशन समेत उनको भोजन व पानी उपलब्ध करवाने की सुविधाएं भी दी गई थी। सोलन के एडीसी समेत कालका के एसडीएम भी मौके पर मौजूद रहे रेलवे सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस ट्रेन में करीब 669 लोगों को उत्तर प्रदेश के लिए रवाना किया गया है।
कालका पुलिस ने लगाए जगह-जगह पर नाके: सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर कालका पुलिस द्वारा जगह जगह पर पुलिस नाके लगाए गए थे जानकारी देते हुए कालका के एसीपी रमेश गुलिया ने बताया कि उत्तर प्रदेश जा रही ट्रेन से कोई बिना रजिस्ट्रेशन क्या व्यक्ति ना चला जाए इसको लेकर पुलिस द्वारा विभिन्न दिखाओ बन्ना के लगाए गए हैं।
घर के लिए जाते लोग दिखे उत्साहित: उत्तर प्रदेश के जिला खुशीनगर के रहने वाले संतोष गिरी ने बताया कि वह हिमाचल प्रदेश के लिए कंपनी में काम करता है।  वह अपने घर जाने के लिए काफी उत्साहित है।  वह और उसके साथ ही राजेंद्र ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाकर घर जाने के लिए अप्लाई किया था। उसने हिमाचल प्रदेश सरकार व प्रशासन का उन्हें घर पहुंचाने तक की व्यवस्था करने के लिए धन्यवाद किया।  उसने बताया कि यहां पर पुलि ओर प्रशासन ने खाने से लेकर हमें हमारे घर भेजने तक हम सब का ध्यान रख रही है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना