पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मंदिर कॉरिडोर का 50% काम पूरा:अगले साल चैत्र नवरात्र से पहले पूरा होगा 430 फुट लंबे कॉरिडोर का काम

पंचकूला2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मनसा देवी से पटियाला मंदिर कॉरिडोर का 50% काम पूरा
  • 9 से 18 फीट तक की जा रही चौड़ाई, ताकि श्रद्धालुओं को न आए दिक्कतें

श्राइन बोर्ड की ओर से श्री माता मनसा देवी मुख्य मंदिर से लेकर पटियाला मंदिर तक के कॉरिडोर के एक्सपेंशन का काम किया जा रहा है। कॉरिडोर की चौड़ाई 9 फीट से 18 फीट तक की गई है, ताकि नवरात्र मेले के दौरान एक मंदिर से दूसरे मंदिर जाने में श्रद्धालुओं को किसी भी तरह की परेशानी नहीं हो।

40 साल पहले बिना किसी नक्शे के ही कॉरिडोर बनाया गया था और उसकी चौड़ाई 9 फुट थी। कम चौड़ी होने की वजह से नवरात्र मेलों के दौरान श्रद्धालुओं को मुश्किलों का सामना करना पड़ता था। कॉरिडोर पुराना होने की वजह से उसके पिलर धंसने लगे थे और कई जगहों पर दरारें आनी शुरू हो गई थी। इसके बाद श्राइन बोर्ड की ओर से उसे तोड़कर नया काॅरिडोर बनाए जाने का निर्णय लिया गया था।

कॉरिडोर का काम पीडब्ल्यूडी की ओर से किया जा रहा है। करीब 1.19 करोड़ की लागत से बन रहे कॉरिडोर के प्रोजेक्ट का करीब 50 फीसदी तक काम हो चुका है। कॉरिडोर की लंबाई करीब 430 फुट है।

मंदिर के पीछे हॉल भी बनाया जा रहा... मंदिर के पीछे श्राइन बोर्ड की ओर से एक बड़ा हॉल बनाया जा रहा है। दरअसल मंदिर से दर्शन कर पटियाला मंदिर की ओर जाने के समय श्रद्धालुओं की भीड़ ज्यादा ना हो इसके लिए हॉल का निर्माण किया जा रहा है।

दिव्यांगों के लिए होगी रैंप की सुविधा... कॉरिडोर प्रोजेक्ट में विकलांग श्रद्धालुओं के लिए एक ओर से रैंप भी बनाया जाएगा, ताकि उन्हें एक मंदिर से दूसरे मंदिर तक जाने में किसी भी तरह की परेशानी नहीं हो। इसके अलावा कॉरिडोर में श्रद्धालुओं के बैठने के लिए जगह भी बनाई जाएगी। साथ ही पूरे कॉरिडोर में बिजली के वर्क्स होंगे, ताकि रात के समय कॉरिडोर में जगमगाहट हो।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें